Breaking News

उज्जैन में कोरोना से जिस युवक की मौत हुई उसके साथ थे पार्टी में दलौदा के चार लोग

मंदसौर. उज्जैन में कोरोना वायरस के कारण संतोष वर्मा की मौत हुई थी। मंदसौर प्रशासन के पास जैसे ही सूचना आई कि नीमच में जन्मदिन की पार्टी में संतोष वर्मा के साथ दलौदा का एक परिवार भी था तो अधिकारियों की चिंता की लकीरें खींच गई। अधिकारियों द्वारा तत्काल पूरे परिवार की जानकारी ली गई। जिसमें सामने आया कि दलौदा की बुजुर्ग महिला अपने तीन पौते-पौतियों के साथ नीमच में उस जन्मदिन वाली पार्टी में थी। सभी को शाम तक कोरोना आइशोलेशन सेंटर पर दलौदा से लाने की कार्रवाई शुरु हो चुकी थी। स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि चारों के सेंपल लेकर इंदौर रात में ही भेज दिए जाएंगे। वहीं इसके अलावा तीन बच्चों के भी सेंपल इंदौर स्वास्थ्य विभाग द्वारा भेजे गए है।

डॉक्टर डीके शर्मा ने बताया कि कोरोना वायरस के कारण उज्जैन निवासी संतोष वर्मा की मौत पिछले दिनों हुई थी। संतोष 17 मार्च को नीमच जन्मदिन की पार्टी में आया था। और वहां पर दलौदा निवासी 57 वर्षीय महिला अपने दो पौते और एक पौती के साथ पार्टी में शामिल हुई थी। तीनों की उम्र 10 से 18 वर्ष के बीच है। उन्होंने बताया कि 18 मार्च को यह ट्रेन से दलौदा आए। उसके बाद घर पर ही थे। चारों के सेंपल लेकर इंदौर भेजे जाएंगे। चारों को सेंटर पर लाया जा रहा है।

तीन बच्चों के भेजे सेंपल

शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ केएल राठौर ने बताया कि कोरोना को लेकर शासन की नईगाइडलाइन आई है। इसमें निमोनिया के मरीजों के भी सेंपल भेजना है। ऐसे में एक 10 साल का बालक, एक तीन माह का बालक और एक चार महिने की बालिका के सेंपल जांच के लिए भेजे है। तीनों को अलग से वार्ड में रखा गया है।

कलेक्टर मनेाज पुष्प ने बताया कि अब तक जिले में 4 हजार 306 यात्रियों की स्क्रीनिंग की गई है। और सभी को क्वारटाइन भी किया गया है। तीन जांच रिपोर्ट भेजी गई है। जिसकी रिपोर्ट जल्द आ जाएगी।

निजी डॉक्टर भी दे रहे सेवाएं

भारतीय चिकित्सा संघ जिला इकाई मंदसौर ने केवीड 19 कोरोना वायरस के खिलाफ चल रही विश्वव्यापी जंग में मुख्य भूमिका निभाते हुए इस समस्या से निपटने के लिए विभिन्न व्यवस्थाएं बनाते हुए जिला प्रशासन के साथ विभिन्न स्वास्थ सेवाओं को संचालित करने का निर्णय लिया है। कोरोना के गंभीर एवं सामान्य मरीजों के साथ शासकीय चिकित्सालय में एवं निजी चिकित्सालय में मरीजों की सेवा की जा रही है। उक्त जानकारी भारतीय चिकित्सा संघए मंदसौर इकाई के अध्यक्ष डॉ प्रदीप चेलावत, समन्वयक डॉ वी एस मिश्र, सचिव डॉ आर के द्विवेदी, उपाध्यक्ष डॉ गोविन्द छपरवाल ने दी।

अभी भी कर रहे कुछ लॉक डाउन का उल्लघंन
शहर से लेकर अंचल तक कई ऐसे लापरवाह लोग है जो अभी भी इस गंभीर बीमारी को लेकर बेपरवाह बने हुए है। ओर लॉक डाउन का उल्लघंन कर रहे है। इन सभी को समझाइश तो दी जा रही है। साथ ही कई युवकों से पुलिसकर्मियों द्वारा उठकबैठक भी लगवाई जा रही है। अंचल में कई गांवों में लोग चौपाल पर बैठ रहे है। जबकि प्रशासन द्वारा कई बार एलाउंस करवा दिया गया है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts