Breaking News

कोरोना का भय बाजार हुए सुने – राजस्थान की सीमा सील

कोई भी ना निकले घर से बाहर – कलेक्टर

मंदसौर। कोरोना वायरस दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है। भीलवाड़ा मंे इसका प्रभाव बढ़ने के बाद मंदसौर में सख्ती कर दी गई है। कोरोना के भय के कारण मंदसौर के प्रमुख बाजार सम्राट मार्केट, कालाखेत, बस स्टेण्ड सब सूने पड़े है। वहीं कलेक्टर मनोज पुष्प ने जिले वासियों से विनम्र अपील करते हुए कहा है, कि कोई भी घर से बाहर नहीं निकले। घर के अंदर रहकर ही अपनी सभी प्रकार की गतिविधियों को संचालित करें। इसके साथ ही जिले के आसपास एवं जिले के अंदर जितने भी पर्यटन स्थल है। वहां पर घूमने नहीं जाए। सामान्य तौर पर यह देखने में आ रहा कि लोग एवं बच्चे सभी शासकीय व गैर शासकीय संस्थान बंद होने की वजह से घरों से निकलकर इन स्थलों पर घूम रहे हैं। लेकिन बाहर निकलने की कोई भी गलती ना करें। अपने आप को सुरक्षित रखें एवं परिवार को भी सुरक्षित रखें। इस कार्य में सभी का सहयोग परम आवश्यक है। सभी लोग सहयोग प्रदान करें।

राजस्थान से आने वाली सभी प्रकार की परिवहन बसों पर प्रतिबंध

कोरोना वायरस को ध्यान में रखते हुए कलेक्टर मनोज पुष्प ने राजस्थान राज्य से मंदसौर जिले में आने वाली सभी प्रकार की परिवहन बसों पर तत्काल प्रभाव से प्रतिबंध लगा दिया गया है। अब कोई भी बस राजस्थान से मंदसौर की सीमा में प्रवेश नहीं कर सकेगी। कोरोना वायरस के संक्रमण से देश को बचाने के लिए आप सभी का सहयोग परम आवश्यक हैं।

दुधाखेड़ी माताजी में मिठाई व्यवसायियों ने अपनी दुकानें स्वयं स्वेच्छा से की बंद

कलेक्टर मनोज पुष्प द्वारा बताया गया कि मंदसौर दुधाखेड़ी माताजी में मिठाई व्यवसायियों ने अपनी दुकानें स्वयं बंद कर दी है। गरोठ में सैलून और ब्यूटी पार्लर एसोसिएशन दुकानें बंद रखने का फैसला कर चुका है। इस के लिए ये सब कलेक्टर मनोज पुष्प को धन्यवाद भी के रहे हैं। आप भी जागरूकता रहे और खतरनाक कोरोना वायरस से लड़ने में आप क्या कर सकते हैं उस दिशा में सभी लोगों को जागरूक करें।

कैदियों से किसी भी बाहरी व्यक्ति को मिलने पर प्रतिबंध

कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट मनोज पुष्प द्वारा आदेश दिया कि पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी ऑफ इंटरनेशनल कंसर्न को दृष्टिगत रखते हुए तथा कैदियों ध्बंदियों के स्वास्थ्य को मद्देनजर रखते हुए जिला मंदसौर स्थित जिला जेल मंदसौर एवं उपजेल गरोठ में निरूद्ध कैदियों ध्बंदियों से किसी भी बाहरी व्यक्ति से मिलने पर प्रतिबंधित लगाया गया है। विशेष परिस्थिति निर्मित होने पर बंदी के परीजन(बंदी से मिलने वाला) का स्वास्थ्य परीक्षण मेडिकल ऑफीसर से कराये जाने के उपरांत बंदी से मिलने की कार्यवाही की जावेगी। यह आदेश 31 मार्च तक प्रभावशील रहेगा।

सभी मंडियों में 23 मार्च से 2 अप्रेल तक व्यापारी नही करेंगे नीलामी कार्य

कलेक्टर मनोज पुष्प द्वारा बताया गया कि जिले की पिपलियामंडी एवं मंदसौर मंडी से व्यापारियों के द्वारा आवेदन देकर अनुरोध किया है गया है, कि कोरोना वायरस के संक्रमण को ध्यान में रखते हुए हम सभी व्यापारी लोग 23 मार्च से 2 अप्रैल तक किसी भी प्रकार का नीलामी कार्य नहीं करेंगे। आसपास के प्रदेशों में कोरोना वायरस का संक्रमण फैल चुका है। इन तथ्यों को ध्यान में रखते हुए इस तरह के कदम उठाए गए हैं। अतः 2 अप्रैल तक कोई भी किसान मंडियों में अपनी फसल को बेचने के लिए नहीं जाए।

धुंधडका में लगने वाला साप्ताहिक हॉट आगामी आदेश तक प्रतिबंधित

मंदसौर जिले के गांव धुंधडका में प्रति रविवार लगने वाला पशु हाट बाजार को आगामी आदेश तक प्रतिबंधित कर दिया गया है। वहां पर किसी भी प्रकार के पशु का क्रय-विक्रय नहीं किया जाएगा। यह आदेश तुरंत शक्ति से प्रभावी होगा।

दुधाखेड़ी माता जी मंदिर पर दर्शनार्थियों के लिए लगाया प्रतिबंध

कलेक्टर मनोज पुष्प द्वारा बताया गया कि दुधाखेड़ी माताजी मंदिर में दर्शनार्थियों के लिए प्रतिबंध लगा दिया गया है। वहां पर कोई भी दर्शनार्थी दर्शन के लिए नहीं जा सकता है। इसके लिए आने वाले समय में लाइव दर्शन की व्यवस्था की जाएगी। इसके साथ ही दुधाखेड़ी माताजी मंदिर में आने वाली नवरात्रि में किसी भी प्रकार के मेले का आयोजन नहीं किया जाएगा।

Hello MDS Android App

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts