Breaking News

तम्बाकू उत्पादों पर पूर्णतः प्रतिबंध उस पर शहर में सख्त कर्फ्यू फिर भी बिक रहा है गुटखा, तम्बाकू

गुटखे के आदी लोग 3 गुना दाम देकर खरीद रहें है गुटखा

मंदसौर। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने रविवार को प्रदेश के नाम दिए अपने उद्बोधन में कहा था कि पूरे प्रदेश में गुटखा और तम्बाकू पर पूर्णतः प्रतिबंध लगाया जाता है। वहीं मंदसौर में इस समय सख्त कर्फ्यू लगा हुआ है, नो व्हीकल झोन घोषित है। इन सब के बावजूद भी नशे के आदि लोंगो को गुटखा, तम्बाकू मिल रहा है, बस किमत तीन से चार गुना तक चुकानी पड़ रही है, जिसके लिए भी गुटखा – तम्बाकू के आदी लोग तैयार है। वास्तव में समाज के लिए ऐसे लोग ही दुश्मन है। पहले छूट के समय भी किराना दुकानों पर अत्यधिक भीड़ गुटखा, तम्बाकू, सिगरेट वालों की ही लग रही थी जिनके चक्कर में वास्तव में जो जरूरत का सामान लेने आता था वह पुलिस के डंडै का शिकार बन जाता था और अब भी जब सबकुछ बंद है तो ऐसे में भी गुटखा – तम्बाकू की लत वाले लोग शांत नहीं बैठे है और बाहर निकलकर अपने लिए गुटखा – तम्बाकू की व्यवस्था तीन गुना दम दाम देकर कर रहे है। सामान्य दिनों में 5 रूपये में बिकने वाला गुटखा 15 से 20 रूपये में मिल रहा है वहीं 5 रूपये की तम्बाकू 10 से 15 रूपये मिल रही है।

गुटखा – तम्बाकू की लत वाले लोग जुगत भिड़ा कर तंबाकू गुटखा का सेवन कर रहे हैं। ऐसे लोग चोरी चुपके किराने की दुकानों से गुटखा, तंबाकू अन्य सामग्री यहां तक कि सिगरेट भी तोड़कर तंबाकू निकालकर काम चला रहे हैं।

नगर के बालागंज निवासी एक तंबाकू सेवन करने वाले व्यक्ति ने बताया कि मैं गुटका खाने का आदी हूं मुझे यहां गुटखा नहीं मिल रहा है तों में यहां से अभिनंदन क्षेत्र में पैदल – पैदल जा कर मेरे लिए गुटखा तंबाकू लेकर आता हूं। वहां आसानी से मिल जाती है बस पैदल – पैदल जाना पड़ता है और 5 रूपये के पाउच के 15 रूपये देने पड़ते है। क्योंकि मुझे रोज पाउच व तंबाकू खाने की आदत है इसलिए मैं इनके बिना नहीं रह सकता। इस प्रकार कई व्यक्ति हैं जो तंबाकू और गुटखा के लिए इधर-उधर भटक रहे हैं वह अपनी जुगाड तुगाढ़ बैठाकर तंबाकू और गुटखा का इंतजाम कर उनका सेवन कर रहे है।

कुछ दिन पूर्व हुआ था व्यापारी का शराब को लेकर विडियो वायरल

कुछ दिन पूर्व मंदसौर नगर के एक बर्तन व्यापारी का शराब को लेकर विडियो वायरल हुआ था जिसमें वह व्यापारी मुख्यमंत्री, शासन, प्रशासन से सप्ताह में एक दिन शराब की दुकान को खोलने की बात कर रहा था। व्यापारी का यह भी कहना था कि प्रशासन को शराब के नशे के आदि लोगों को होम डिलेवरी सुविधा देना चाहिए। यह विडियों सोशल मीडिया पर खूब वायरल भी हुआ था।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts