Breaking News

निजी स्कूलों की मनमानी पर कलेक्टर का डंडा

अशासकीय विद्यालय पाठय सामग्री क्रय करने के लिए दुकान विशेष के लिए बाध्य नहीं कर सकते – कलेक्टर पुष्प

शिक्षण सामग्री पर विद्यालय का नाम अंकित नहीं होना चाहिए

सूचना पटल पर चस्पा करें कि किसी दुकान विशेष से सामग्री क्रय करने की बाध्यता नहीं है।

मन्दसौर। कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट मनोज पुष्प ने सभी अशासकीय विद्यालयों को आदेश जारी किये कि कोई भी अशासकीय विद्यालय नवीन प्रवेश लेने वालेध् अध्यनरत छात्रों को उसी विद्यालय से, विद्यालय परिसर में उपलब्ध विक्रेता से या किसी दुकान विशेष से पाठ्य पुस्तकेंध्गणवेश, टाई, जूते, कापियॉं आदि शैक्षणिक सामग्री का क्रय करने के लिए बाध्य नहीं करेगा। यह आवश्यक है कि पुस्तकों की सूची लेखन एवं प्रकाशन के नाम तथा मूल्य के साथ संबंधित विद्यालय अपने सूचना पटल पर प्रदर्शित करें और शाला के विद्यार्थियों को ऐसी सूची मांगने पर उपलब्ध करायी जाना चाहिये ताकि विद्यार्थी एवं उनके अभिभावक उनकी सुविधा से खुले बाजार से क्रय कर सकें, किसी भी शिक्षण सामग्री पर विद्यालय का नाम अंकित नहीं होना चाहिए। सूचना पटल पर यह भी अंकित किया जावे कि किसी दुकान विशेष से सामग्री क्रय करने की बाध्यता नहीं है। दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 के तहत मंदसौर जिले की राजस्व सीमा अंतर्गत जन-सामान्य के हितध् जानमाल एवं लोक शांति को बनाए रखने हेतु प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किये है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts