Breaking News

बसई मार्ग के निर्माण में भ्रष्टाचार की जांच की मांग को लेकर मंत्री वर्मा को लिखा पत्र

मन्दसौर। नगरपालिका के पूर्व नेता प्रतिपक्ष डॉ. प्रीतिपालसिंह राणा ने मध्यप्रदेश के लोक निर्माण मंत्री सज्जनसिह वर्मा को मंदसौर जिले की मल्हारगढ़ तहसील की अरनिया डिगांव-जग्गाखेड़ी-बसई मार्ग में अधिकारियों की मिलीभगत से तथा अपने रसुक के चलते भोपाल की निर्माण कम्पनी ने 6.60 किलोमीटर लम्बी 366.14 लाख की राशि की बनने वाली इस सड़क में ठेकेदार कम्पनी डिवाईन इन्फ्रास्ट्रक्चर भोपाल ने घटिया निर्माण कर भारी भ्रष्टाचार किया है। इस मार्ग का कार्य प्रारंभ हुए 9 माह से अधिक हो चुका है। सड़क को जेसीबी मशीन से खोदकर उस पर टेक्नीकल स्टीमेट के अनुसार मटेरियल नहीं बिछाया गया है। जेसीबी मशीन के सुपड़े से लेवल कर उसे छोड़ दिया गया है। न तो पर्याप्त पानी डाला गया है न ही रोड़ रोलर को सही तरीके से घुमाया गया है तथा नियमानुसार इस निर्माण कार्य के लिये आवागमन हेतु कोई बायपास भी नहीं बनाया गया है। जो सड़क ठेकेदार ने खुदवाई उसी रोड़ पर यात्री बसे, लोडिंग वाहन, कारे व दोपहिया वाहनों के चलने से रोड़ जैसे-तैसे जम गया। उसी रोड़ पर ठेकेदार द्वारा डामरीकरण का कार्य कर दिया गया। जिसका परिणाम यह हुआ कि सड़क अभी बनी ही नहीं है की जगह-जगह से उखड़ गई है। क्षेत्र के नागरिकों द्वारा शिकायत करने पर ब्राण्ड न्यू सड़क में पेचवर्क कर दिया गया है।

श्री राणा ने उपरोक्त सारी अनियमितता एवं भ्रष्टाचार के विधिवत फोटोग्राफस तैयार करवाकर लोक निर्माण मंत्री को शिकायत के साथ भी भिजवाये है। उन्होंने उल्लेख किया है कि इस रोड़ के निर्माण में कार्यरत लोक निर्माण विभाग के अधिकारी पिछले 14-15 वर्षों से यही जमे हुए है और अपने रसुक के चलते भ्रष्टाचार में बढ़-चढ़कर भाग लेकर अपनी मनमानी कर रहे है। इस सड़क मार्ग की परफार्मेंस गारंटी की अवधि 5 वर्ष है लेकिन जहां से डामरीकरण चालु हुआ पीछे-पीछे उखड़ता जा रहा है और अब उसे पेचवर्क के माध्यम से ढका जा रहा है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts

Leave a Reply