Breaking News

मंडला पुलिस पहुंची मंदसौर : CMO प्रधान गायब

मंदसौर। सीएमओ सविता प्रधान की अग्रिम जमानत याचिका पर बुधवार को जबलपुर हाईकोर्ट में कोई निर्णय होता उससे पहले ही उन्होंने वापस ले ली है। इधर मंडला में दर्ज मामले में जारी गिरफ्तारी वारंट लेकर मंडला पुलिस का दल भी मंदसौर पहुंचा। दल लगभग तीन घंटे नगर पालिका में रहा। इसके अलावा सीएमओ रामटेकरी स्थित निवास पर भी पहुंचा। बाद में पंचनामा बनाकर पुलिस दल रवाना हो गया।

नगर पालिका सीएमओ सविता प्रधान को वारंट तामिल कराने के लिए बुधवार को ईओडब्ल्यू की टीम नगर पालिका पहुंची। जहां सीएमओ नहीं मिली तो नपा व सीएमओ बंगले पर पहुंचकर टीम ने पंचनामा बनाया। वहीं इसी मामले में हाईकोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका पर भी सुनवाई होना थी। दोपहर तक तो इसे लेकर कोई सूचना नहीं थी, लेकिन शाम को यह खबर वायरल हुई कि सीएमओ ने हाईकोर्ट में अपनी अग्रिम जमानत याचिका वापस(विड्रा) कर ली है। इधर दोपहर से शाम तक ईओडब्ल्यू की टीम के शहर में होने से नपा के गलियारों में खलबली मची रही। ऐसे में बुधवार को दिनभर सीएमओ का मामला चर्चाओं में रहा।

वारंटी जारी, नपा से गायब हुई सीएमओ
तीन दिसबंर को गिरफ्तारी वारंट निरस्त होने के बाद ही नगर पालिका सीएमओ अवकाश पर चली गई है। नपा में सीएमओ ने माता का स्वास्थ्य खराब होने के कारण अवकाश पर जाने की बताया था। इसके बाद १३ दिसंबर को सुनवाई हुई तो मामला 17 तक टला फिर 17 को नंबर नहीं आया तो बुधवार को जबलपुर हाईकोर्ट सिंगल बेंच में सुनवाई होना थी, लेकिन देरशाम को अचानक खबर आई कि सीएमओ ने अग्रिम जमानत याचिका हाईकोर्ट में वापस ले ली है। इसके बाद अब आगे क्या इस सवाल पर चर्चाओं का दौर शुरु हो गया। नपा में ४ से 10 दिसंबर तक सीएमओ के अवकाश पर जाने की सूचना है। उनकी अनुपस्थित में नपा में सीएमओ का प्रभारी स्वास्थ्य अधिकारी केजी उपाध्याय के पास है। नपाध्यक्ष हनीफ शेख ने बताया कि बुधवार को सुनवाई थी, लेकिन क्या हुआ इस बारें में जानकारी नहीं मिली है।

दोपहर से शाम तक ईओडब्ल्यू टीम शहर में रही
ईओडब्ल्यू इस्पेक्टर लक्ष्मी यादव के नेतृत्व में पहुंची जबलपुर ईओडब्ल्यू की टीम दोपहर १२ बजे बाद नगर पालिका पहुंची। यहां सीएमओ कक्ष में बैठकर उन्होंने जानकारी जुटाई। प्रभारी सीएमओ केजी उपाध्याय व ओएस प्रमोद जैन से सीएमओ से जुड़ी जानकारी जुटाई और रिकॉर्ड भी देखा। ईओडब्ल्यू की टीम कोर्ट द्वारा सीएमओ को लेकर जारी किया वारंट तामिल करवाने यहां पहुंची थी, लेकिन सीएमओ के नहीं होने से अधीनस्थ अधिकारी-कर्मचारियों से जानकारी लेने के साथ अवकाश का आवेदन व रिकॉर्ड देखा और पंचनामा बनाया। दोपहर में नपा के बाहर पंचनामा बनाया। इसके बाद शाम को सीएमओ के बंगले पर पहुंचे। वहां भी ताला मिला। ईओडब्ल्यू टीम ने वहां भी पंचनामा बनाया। नपा में सीएमओ के वारंट तामिल कराने पहुंची ईओडब्ल्यू टीम के आने से यहां हडकंप मच गया। दिनभर इस मामले में नपा के अधिकारी-कर्मचारी कुछ बोलने से भी बचते रहे।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts

Leave a Reply