Breaking News

मंदसौर छोटी बड़ी ख़बरे : 05 July 2019

 

सीतामउ नगर के माधव रेस्टोरेन्ट पर बोला चोरों ने धावा

तो करजू में  लाखों की चोरी

सीतामऊ। शहर पुलिस की सुस्ती का जवाब रातों में चुस्त चोर बखूबी दे रहे है। चोरो ने पिछले दिनों 20 जून को पूर्व ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष व कांग्रेस नेता दिनेश सेठिया के जेवलर्स की दुकान के ताले तोड़ने का प्रयास किया था। चोर पड़ोस में दुकान में लगे सीसी टीवी कैमरे में कैद हुए थे लेकिन पुलिस चोरो तक पहुचने में नाकाम रही। पुलिस की इसी निष्क्रियता के कारण बीती रात में नगर में चोरो ने लदुना चौराहे पर राजीवगांधी काम्प्लेक्स में होटल माधव पर चोरी करने में कामयाब हो गए। होटल संचालक कमलेश शिवदासिया के अनुसार अनुमानित 50 हजार की सिलक पर चोरो ने हाथ साफ किये है। 15 दिनों के अंतराल में चोरों ने एक और वारदात को अंजाम देकर पुलिस को चुनौती दे डाली है।
वही भावगढ़ थाना क्षेत्र के ग्राम करजू में 4 – 5 जुलाई की रात अज्ञात चोरों ने अशोक कुमार बालाराम के निवास पर धावा बोलकर लाखों की चोरी की घटना को अंजाम दिया है। पुलिस के अनुसार चोरी गए सामान में सोने चांदी के जेवर एवं नगद राशि है। पुलिस ने फरियादी की सूचना पर अज्ञात चोरों के विरूद्ध मामला दर्ज कर जांच में लिया है।


भावगढ़ के खेतों में घुसा बारिश का पानी

तत्काल पहुंचे सोमिल नाहटा, करवाया समस्या का निदान

मंदसौर। विगत दो दिनो से हो रही बारिश के चलते एक बड़ी समस्या गुरूवार को ग्राम भावगढ़ में आ गई। जिम्मेदारी की लापरवाही के कारण बारिश का पानी किसानों के खेतों में भर गया और खेतों ने तालाब का रूप ले लिया।

मामले की जानकारी मिलते ही बरसते पानी में युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव सोमिल नाहटा मंदसौर से ग्राम भावगढ़ पहुंचे और स्थिति का जायजा लेकर संबंधित ठेकेदार ओर लोक निर्माण विभाग के इंजीनियर श्री सोनगरा को मौके पर बुलाकर समस्या निराकरण करवाया। मामले के अनुसार ग्राम भावगढ़ के एक क्षेत्र में बनी सड़क और अन्य निर्माण के कारण ठेकेदार और इंजिनियर की लापरवाही के चलते पानी की निकासी की सही व्यवस्था नहीं की गई। जिसके चलते बारिश का पानी किसानों के खेतों में भर गया जिससे अन्नदाता किसान संकट में आ गया। संकट की इस घड़ी में श्री नाहटा ने पहंुचकर ठेकेदार और इंजिनियर श्री सोनगरा को भी बुलाकर भूल सुधार करने को कहा। जिस पर दोनों ने समस्या का निराकरण करने को कहा। इस अवसर पर बड़ी संख्या में ग्राम वासी मौजूद थे।


नयापुरा जैन दादावाडी में चातुर्मास हेतु साध्वी विरलप्रभाश्रीजी व विपुलप्रभाश्रीजी मसा का हुआ मंगल प्रवेश

मंदसौर। साध्वी विपुलप्रभाश्रीजी मसा आदि ठाणा 2 का चातुर्मास मंदसौर में होने जा रहा है। कल दोनो साध्वीयो को गरिमामयी व भव्य कार्यक्रम में चातुर्मास हेतु नयापुरा जैन मंदिर साध्वियों का गरिमामयी व भव्य कार्यक्रम मेें चातुर्मास हेतु नयापुरा जैन मंदिर दादावाडी में भव्य मंगल प्रवेश हुआ। साध्वीगणों के मंगल प्रवेश के उपलक्ष्य में खरतरगच्छ श्रीसंघ आदिनाा जैन मंदिर ट्रस्ट नयापुरा व चातुर्मास समिति के द्वारा भव्य चल समारोह निकाया गया। प्रवेश हेतु चल समारोह रामटेकरी नाकोडा गनर स्थित जैन श्वेताम्बर मंदिर से प्रारंभ हुआ। बेण्ड बाजे के साथ निकले इस चल समारोह में बडी संख्या में श्वेताम्बर जैन समाज के मानुभाव व माता बहने शमिल हुये। यह चल समारोह नाकोडा नगर से प्रारंभ होकर हिरा की बगीची के पीछे नया लक्कडपीठा क्षैत्र, गोल चौराहा, बालागंज मेन रोड, आर्यरक्षित सूरि मार्ग होते हुए नयापुरा रोड स्थित जैन दादावाडी मंदिर पहुॅचा। मार्ग में अनेक स्थानों पर साध्वीजी के नगर आगमन पर गहुलिया कर उनकी आगवानी की गयी। दादावाडी परिसर में यहॉ विशाल धर्मसभा का आयोजन हुआ जिसमें साध्वीजी ने चातुर्मास की महत्ता बतायी।
इस अवसर पर खरतरगच्छ श्रीसंघ अध्यक्ष अरविन्द बोथरा, मंदिर टस्ट अध्यक्ष अनिल लोढा, चातुर्मास समिति अध्यक्ष बलवंत कोठारी, कमल कोठारी, विरेन्द्र भण्डारी, अध्यक्ष मनीष चौधरी, धर्मेन्द्र कर्नावट सहित कई गणमान्य नागरिक भी उपस्थित थे।


जल शक्ति अभियान का मुख्य लक्ष्य जिले का जलस्तर बढ़ाना – सयुक्त सचिव देवांगन

अभियान को जनभागीदारी से जोड़े, ग्राम पंचायत स्तर से होगा काम

मन्दसौर। जनशक्ति अभियान के नोडल अधिकारी एवं संयुक्त सचिव विवेक कुमार देवांगन की अध्यक्षता में जल संसाधन से जुड़े सभी विभागों की संयुक्त बैठक कलेक्ट्रेट भवन सभाकक्ष में प्रातः 11 बजे आयोजित की गई। यह अभियान केंद्र सरकार का अभियान है, जिसके माध्यम से ऐसे जिले जहां पर पेयजल को लेकर, जल स्तर को लेकर भविष्य में विकट समस्या उत्पन्न हो सकती है। उन जिलों के लिए यह अभियान चलाया जा रहा है। बैठक के दौरान उन्होंने बताया कि इस अभियान का मुख्य लक्ष्य जिले के घटते हुए जल स्तर को रोकना है एवं इसके जल स्तर को बढ़ाना है। इस अभियान के तहत कार्य करके, कार्य पूर्ण होने के पश्चात यह देखना है, कि वर्तमान में कितना जल स्तर है एवं अभियान के माध्यम से कितना जल स्तर बढ़ा है। इस कार्य के लिए सभी विभाग एवं जनअभियान को इसमें जोड़ने की जरूरत है। इस अभियान को ग्राम स्तर पर पंचायत के माध्यम से सचिव एवं सरपंच को जोड़ा जाएगा। आम लोगों तक जागरूकता का प्रचार करना है कि, किस तरह से जल को संरक्षित किया जा सकता है। आम नागरिक के जुड़ने से ही इस अभियान को सफलता प्राप्त होगी। बैठक के दौरान संयुक्त सचिव विवेक कुमार देवांगन, स्टील मिनिस्ट्री के संचालक नीरज अग्रवाल, केंद्रीय जल संस्थान के उप संचालक एपी कंडयाल, कलेक्टर मनोज पुष्प, जिला पंचायत सीईओ सिंघल, सभी सीईओ सहित भूजल स्तर से जुड़े सभी अधिकारी मौजूद थे।

आगामी बैठक में जनभागीदारी को कैसे जोड़ा जाए इस पर होगा मंथन
बैठक के दौरान उन्होंने बताया कि जल शक्ति अभियान की जो आगामी बैठक होगी। उस बैठक में जनभागीदारी को इस अभियान से कैसे जोड़ा जाए, इस पर चर्चा होगी। इस अभियान में एनजीओ, स्वसहायता समूह, कॉलेज के विद्यार्थी, एनसीसी कैडेट को भी जोड़ने के लिए सभी विभाग एवं प्रशासन प्रयास करें। पहली प्राथमिकता में वन क्षेत्र पर सबसे अधिक फोकस करना है। कम होते वनों को बढ़ाना है। इसके लिए वन मंडल अधिकारी विशेष तौर पर ध्यान देवें।

इसके साथ ही बैठक में जिले में अब तक जल संरक्षण एवं भूजल स्तर को बढ़ाने के लिए क्या – क्या प्रयास किए गए। सभी विभागों द्वारा अब तक किये गए प्रयासों के बारे में बारी-बारी से पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से बताया गया एवं आगे की सभी विभागों की क्या-क्या कार्यवाही हैं।


जिले में अबतक 272.4 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज

मन्दसौर। जिले में इस वर्ष अबतक औसतन 272.4 मि.मी. वर्षा दर्ज की गयी है। जबकि पिछले 24 घन्टों में मंदसौर जिले में औसतन 52.5 मिमी वास्तविक वर्षा दर्ज की गई है। पिछले 24 घन्टों में मंदसौर में 71 मि.मी., सीतामउ में 31.4 मि.मी. सुवासरा में 23.7 मि.मी., गरोठ में 45.2 मि.मी., भानपुरा में 54.2 मि.मी., मल्हारगढ मे 62 मि.मी., धुधंडका में 83 मि.मी., शामगढ में 34 मि.मी., संजीत में 65 मि.मी. एवं कयामपुर में 55.8 मि.मी. वास्तविक वर्षा दर्ज की गई है। विगत 1 जून से अबतक वर्षामापक केन्द्र मंदसौर में 403 मि.मी., सीतामउ में 360.6 मि.मी. सुवासरा में 205 मि.मी., गरोठ में 293.2 मि.मी., भानपुरा में 167.4 मि.मी., मल्हारगढ मे 259 मि.मी., धुधंडका में 365 मि.मी., शामगढ में 196 मि.मी., संजीत में 211 मि.मी. एवं कयामपुर में 264.6 मि.मी. वास्तविक वर्षा दर्ज की गई है। गत वर्ष इसी अवधि में जिले में वर्षामापक केन्द्र मंदसौर में 72 मि.मी. सीतामउ में 143.4 एवं कयामपुर में 68.4 मि.मी. वास्तविक वर्षा दर्ज की गई थी।


आवश्यक कार्य के कारण इन जगह विद्युत प्रदाय बंद रहेगा

मन्दसौर। कार्यपालन यंत्री एस.के. सूर्यवंशी ने बताया कि विद्युत संबंधित आवश्यकक कार्य के कारण अफजलपुर वितरण केन्द्र के अंतर्गत 33 के.व्ही. गुजरबर्डिया फीडर एवं बिलात्री सबस्टेशन प्रातः 8 बजे से दोपहर 12 बजे कुल 4 घंटे बंद रहेगा। जिसके अंतर्गत चिरमोलिया, लच्छाखेडी, रठाना, भटाना, रूपावली, बिलात्री, कमालपुरा, कुण्डीखेडा, राणाखेडा ग्राम प्रभावित रहेगाध्रहेगे। इसी प्रकार चन्द्रपुरा वितरण केन्द्र के अंतर्गत 33ध्11 के.व्ही. पशुपतिनाथ सबस्टेशन प्रातः 8 बजे से दोपहर 12 बजे कुल 4 घंटे बंद रहेगाध्रहेंगे। जिसके अंतर्गत बहादरी, बाजखेडी, चांगली, इटायली, मोहम्मदपुरा, लाभमुनि हॉस्पीटल आदि क्षेत्र प्रभावित रहेगाध्रहेगे।


 

बजट पर रातडिया की प्रतिक्रिया

आम आदमी की रोटी लड़ाई और कठीन हो जाएगी.

मंदसौर। जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रकाश रातडिया ने बजट पर अपनी प्रति क्रिया में कहा है कि भाजपा सरकार व इसके मंत्री व नेता जन कल्याण की बड़ी बड़ी बाते कर रहे  है किन्तु बजट में इसका कोई प्रावधान नही है .किसान की आमदानी दो गुनी करने की भाजापा रट लगा रही है किन्तु इसके लिए  बजट में कोई प्रावधान नही किया है न कोई  योजना प्रस्तुत की है। युवाओ  को रोजगार के लिए कोई घोषणा नही की गई है . माध्यम वर्ग के लोगो को कर बोझ से राहत प्रदान नही  की गई है आयकर में राहत की आशा पूरी नही हुई। व्यापार व उद्योग जगत  भी बजट से निराश हुआ है। अमीरों पर कर बोझ डालकर गरीबो को राहत  प्रदान करने की समाजवादी नीति को भुला दिया है। इस बजट में तो गरीब को और गरीब करने की नीति अपनाई गई है।


भगवान श्री जगदीश निकले अपने भक्तों के हाल चाल जानने नगर भ्रमण पर

मन्दसौर। श्री गुर्जरगौड़ ब्राह्मण समाज के तत्वावधान में नगर में भगवान श्री जगदीश की भव्य व ऐतिहासिक रथयात्रा आषाढ़ की रिम-झिम फुआरों के बीच निकली। खुशनुमा व समरस वातावरण में भव्यता से निकली इस रथयात्रा में गुर्जरगौड़ ब्राह्मण समाज के साथ ही सकल ब्राह्मण समाज तथा सनातन पंरपरा के भी समाजजनों ने बड़ी संख्या में भाग लिया। नगर में पहली बार भगवान जगदीश की रथयात्रा में श्री गुर्जरगौड़ ब्राह्मण समाज के निमन्त्रण पर सभी समाजजनों ने सम्मिलित हो कर एक नई परम्परा का सूत्रपात किया है जिसे सभी ने मुक्त कंठ से सराहा।

सायंकाल 5.30 बजे श्री जगदीश मन्दिर जीवागंज से  आगे-आगे भगवान जगदीशजी के बड़े ध्वज (निशान) घुड़सवार और बेंड बाजों व ढोल-ढमाकों के साथ रथयात्रा का शुभारम्भ हुआ। गुर्जरगौड़ ब्राहम्ण समाज की महिलाएं सर पर कलश धारण किए चल रहीं थी। पुरुषों ने श्वेत परिधान पहने गले में भगवान जगदीश का केसरिया दुपट्टा धारण किये हुए था। रथयात्रा में श्री चेतन्य आश्रम मेनपुरिया के सन्त श्री महेश चेतन्य महाराज, अ.भा.गुर्जरगौड़ ब्राहम्ण महासभा के क्षेत्रीय उपाध्यक्ष राजेश तिवारी (रतलाम) विशेष रूप से सम्मिलित हुए। जगदीश विलास में महाप्रसादी का जो आयोजन किया गया था उसका आयोजन पण्डित दिनदयाल जी दीक्षित परिवार के द्वारा किया गया। जगदीश के भात का प्रसादी का आयोजन गुर्जरगौड़ ब्राह्मण जाग्रति मंच द्वारा आयोजित किया गया।

रथयात्रा जीवागंज से भूरिया महादेव गली, गणपति चोक, बड़ाचोक, धानमंडी, सदर बाजार, घण्टाघर, मुखर्जी चोक, शुक्ला चोक, वरुणदेव मन्दिर, अशोक टाकीज रोड, नरसिंह मन्दिर, श्री द्विमुखी चिन्ताहरण गणपति मन्दिर से पुनः जीवागंज होकर श्री जगदीश मन्दिर में सम्पन्न हुई।

रथयात्रा का जगह-जगह स्वागत व सत्कार किया गया। गुर्जरगौड़ ब्राह्मण समाजजनों ने अपने घर के बाहर भगवान श्री जगदीश की पूजा अर्चना की। सकल ब्राहम्ण समाज, सामाजिक समरसता मंच, विनर क्लब, माहेश्वरी समाज, अग्रवाल समाज, चोधरी परिवार, भाजपाजन, सिंधी समाज, उम्मीद समाजिक संस्था, प्रजापति समाज, डॉ. व्यास परिवार, म.प्र., सर्व ब्राहम्ण समाज आदि संस्थाओं ने स्वागत किया। रथयात्रा में सम्मिलित होने वाले सर्वसमाज के प्रतिनिधीगण सहित आदि सम्मिलित हुवे।

 

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts

Leave a Reply