Breaking News

मंदसौर नगर पालिका अध्यक्ष ओर ठकेदार आमने – सामने… गुणवत्ता कोटवानी सख्त

मंदसौर. नगर पालिका में नए अध्यक्ष के चुने जाने के बाद नए काम ने गति पकड़ी ही नहीं और पुराने चल रहे काम भी अब बंद होने लगे है। कई जगहों पर निर्माणाधीन काम बंद हो गए। बताया जा रहा है कि नपा में काम करने वाले ठेकेदार व अध्यक्ष अब आमने-सामने हो गए है।

अध्यक्ष से खफा होकर ठेकेदारों द्वारा हड़ताल करने की खबरें वायरल हुई हालंाकि नपा के अधिकारियों ने ठेकेदारों की हड़ताल के बारें में इंकार किया। और कुछ ठेकेदारों ने भी इससे इंकार किया, लेकिन काम ठप होने के पीछे अध्यक्ष से ठेकेदारों की नाराजगी बताई जा रही है। खुलकर तो इस मामले पर कोई बोल नहीं रहा लेकिन इसे भी राजनीति रसूख से जोड़कर देखा जा रहा है। नपा में काम करने वाले ठेकेदार सीधे तौर पर दोनों प्रमुख दलों के नेताओं से जुड़े है और इसी से जोड़कर इसे देखा जा रहा है।

यह बताई जा रही है ठेकेदारों की नाराजगी की वजह
शहर में नपा में ठेकेदारी करने वाले ठेकेदारों की नाराजगी की वजह के पीछे बताया जा रहा है कि अध्यक्ष राम कोटवानी इन दिनों नपा के हर एक अमले से लेकर इंजीनियरों से लेकर सभी की बैठक लेकर कामों को समझने के साथ मॉनीटरिंग करने में लगे है। ऐसे में ठेकेदारों की बैठक बुलाई थी। शाम 4 बजे बैठक बुलाई गई थी लेकिन नपा से ठेकेदारों को 3.30 बजे का समय दिया गया। ठेकेदार 3.30 बजे पहुंचे तो वहां कोई मिला नहीं। कुछ समय इंतजार के बाद वह लौट गए। तो वहीं अध्यक्ष ने नपा के तकनीकि अमले में सहायक यंत्री से लेकर उपयंत्री की बैठक लेकर गुणवत्ता को लेकर सख्त निर्देश दिए तो हर काम को गुणवत्ता से करने पर जोर देते हुए घटिया निर्माण पर कार्रवाई की बात कही। अध्यक्ष की यह बात ठेकेदारों को नागवार गुजरी। इसी के चलते अध्यक्ष से ठेकेदार नाराज चल रहे है।

गुणवत्ता से नहीं करुंगा कोई समझोता
अध्यक्ष कोटवानी ने बताया कि ठेकेदारों के साथ कोई मुद्दा नहीं है। शहर के सभी वार्डों में होने वाले कामों की गुणवत्ता को लेकर तकनीकि अमले को निर्देश दिए है। जनता से जुड़े कामों में गुणवत्ता को लेकर कोई समझोता नहीं किया जाएगा। ठेकेदारों को काम गुणवत्ता और पारदर्शिता के साथ करना होगा।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts