Breaking News

मंदसौर में 500 बोरे मावा जब्त, बिना अनुमति हो रहा था भंडारण

मंदसौर लॉकडाउन का चौथा चरण पूरा होने वाला है और पांचवें चरण में संभवत मंदसौर में मिठाई की दुकानों को खोलने की अनुमति दी जा सकती है, इसी संभावना के बीच बंद दुकानों पर भी मावे का भंडारण और बिक्री होने की सूचना पर प्रशासन का अमला शनिवार की शाम को जांच करने निकला। दल ने करीब 9 स्थानों पर जांच के दौरान एक दुकान के गोदाम पर बड़ी मात्रा में रखा मावा जब्त किया है, फिलहाल इसे जांच में लिया गया है, जब लॉकडाउन चल रहा है तो फिर मावे के भंडारण पर भी सवाल उठ रहे हैं।

मंदसौर तहसीलदार नारायण नांदेड़ ने बताया दुकानें तो बंद है लेकिन मावे के भंडारण की सूचना मिल रही थी और पांचवें चरण में मिठाई की दुकानें भी खोले जाने की संभावना है, इसी को मद्देनजर रखते हुए अमले के साथ शहर की मिष्ठान व मावे की दुकानों पर जांच की है, कुछ दुकानों में मावा तो मिला है लेकिन खराब ना होने की स्थिति अभी सामने नहीं आई है, सैम्पल लेकर जांच के लिए भेजे है और मावा फिलहाल जब्त कर दुकान के गोदाम को सील कर दिया गया है।

नायब तहसीलदार वैभव जैन ने बताया कि श्रीजी इंटरप्राइजेज का जग्गा खेड़ी क्षेत्र में कोल्ड स्टोरेज सेंटर में मावे का एक गोदाम है यहां पर इन्होंने अपना मावा जमा कर रखा है। करीब 500 बोरे से अधिक मावा यहां पर पाया गया है, प्रत्येक बोरे में 25 किलो मावा है जो डेढ़ माह से यहां एकत्रित किया जा रहा है। लंबे समय बाद मालिक बाफना ने बताया कि उन्होंने यह मावा आसपास के ग्रामीण क्षेत्र से लोगों से लिया है और यहां जमा कर रखा है। रात तक चली कार्रवाई में तहसीलदार नारायण नांदेड़, नायब तहसीलदार खाद्य अधिकारी से लेकर पूरा प्रशासनिक अमला मौके पर मौजूद रहा। एक साथ बड़ी मात्रा में मावा मिलने के बाद कोल्ड स्टोरेज को सील कर दिया गया है। अब इस पर आगे की कार्रवाई रविवार को की जाएगी। इसमें इस कोल्ड स्टोरेज से सभी बोरोको निकालकर इन का सैंपल लिया जाएगा। वह इनकी शुद्धता की जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। इसके बाद नियमानुसार मामले में कार्रवाई की जाएगी। प्रशासन की मावे के स्टॉक पर बड़ी कार्यवाही के बाद मावे के व्यापारियों में हड़कंप मच गया और रात तक मावे की व्यापारी प्रशासनिक अमले के इर्द-गिर्द ही मरा दे रहे।

तहसीलदार नारायण नांदेडा ने बताया कि दुकानें तो बंद है लेकिन मावे के स्टोरेज की सूचना लगातार मिल रही थी और पांचवें चरण में मिठाई की दुकानें भी खोले जाने की संभावना है, इसी को मद्देनजर रखते हुए पूरे अमले के साथ शहर की मिष्ठान व मावे की दुकानों पर पहुंचकर मामले की जांच की दुकानों में मावा तो मिला है लेकिन खराब ना होने की स्थिति सामने नहीं आई है, अभी जांच की जा रही है।

इसलिए जांच करने निकला अमला
लॉक डाउन के पांचवें चरण में संभवत शहर में मिठाई की दुकानों को भी खोलने की अनुमति दी जा सकती है। इसी संभावना के बीच दुकानें खुलने से पहले बंद दुकानों के बाद भी इनमे मावे का स्टोरेज होने की सूचना और मावा विक्रय की सूचना पर प्रशासन का अमला शनिवार शाम को पूरे शहर में एक साथ भ्रमण करने निकला। शहर में करीब 9 से अधिक दुकानों पर जांच करने पहुंचा और बंद पड़ी दुकानों में भी मावा तो मिला लेकिन खराब मावा कहीं सामने नहीं आया। अमला ने देर रात तक कार्रवाई का दौर जारी था।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts