Breaking News

मानसूनी वर्षा प्रारंभ – कई ग्रामीण क्षेत्रों में किसानों ने की बोवनी, कई अभी भी कर रहे है इंतजार

मंदसौर। पूरे प्रदेश में मानसून मेहरबान हो गया है। मंदसौर जिले के अंचलों में भी दो दिन से बारिश हो रही है। जिला मुख्यालय पर भी झमाझम का इंताजर है लेकिन बारिश और मानसूनी मौसम बनाना प्रारंभ हो गया है। सोमवार को रिमझिम वर्षा के बाद मंगलवार को भी दोपहर 3 बजे ठंडी हवाओं के साथ एक घंटे तक बारिश हुई। जिससे किसानों ने राहत की सांस ली है क्योकि अंचल के कई किसानों ने प्री – मानसून की अच्छी बारिश को देखते हुए बोवनी कर दी थी, जो अब बारिश का इंतजार कर रहे है। वहीं कई किसान अभी भी बारिश के इंतजार में है। इस बार सोयाबीन की फसल के लिए किसानों को सोयाबीन बीजों की कमी से जूझना पडा था। हालत यह है किसानों को सोयाबीन के बीज 5500 रूपये प्रति क्विंटल से लेकर 6500 रूपये प्रति क्विंटल तक में खरीदना पड़ रहे है।

मौसम विभाग के अनुसार, उत्तर प्रदेश और गुजरात में ऊपरी हवाओं का चक्रवात और एक ‘ट्रफ लाइन’ के गुजरने के अलावा बंगाल की खाड़ी से लगातार नमी आ रही है। इससे ऐसी संभावना है कि अगले 24 घंटे के दौरान दक्षिण पश्चिम मानसून फिर से जोर पकड़ेगा। 25 जून तक मंदसौर, नीमच सहित पूरे प्रदेश में जोरदार बारिश होने की संभावना जारी की गई है।

जिला मुख्यालय पर तो सोमवार को दोपहर में रुक-रुककर आधे घंट तक बारिश हुई लेकिन जिले के अन्य हिस्सों में तेज बारिश होने की खबरे भी प्राप्त हुई है। वहीं मंदसौर में अब तक 113 मिमी वर्षा दर्ज कि जा चुकी है। उल्लेखनीय है कि खरीफ की फसल में मंदसौर क्षेत्र में सर्वाधिक बोवनी सोयाबीन की फसल की ही होती है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts