Breaking News

माफिया तस्कर मो. शफी का घर आज टूट सकता है, घर विजलेंस की टीम ने की जांच

मंदसौर। ऑपरेशन माफिया के तहत कुख्यात तस्कर मो. शफी के घर पर होने वाली सोमवार को भी प्रशासन की कार्रवाई चलती रही। इधर सात जनवरी से कुख्यात तस्कर मो. शफी के गुदरी गेट स्थित मकान का अवैध निर्माण तोड़ा जा सकता है। इसके डर से सोमवार को दिनभर परिजन घर का सामान खाली करते रहे। नुकसान से बचने के चक्कर में अपने घर का कीमती सामान भी खोलते रहे। रविवार रात में भी एक ट्रक भरकर सामान ले जाया गया। इधर कोर्ट रोड पर जंगीबाबू तंवर के मकान का अवैध निर्माण सोमवार को भी तोड़ा गया।

नगर पालिका ने कुख्यात तस्कर मो. शफी के गुदरी गेट स्थित घर का अवैध निर्माण खुद ही हटाने के लिए तीन दिन का नोटिस चस्पा किया था। जिसे 7 जनवरी को तीन दिन पूरे हो जाएंगे। इसके बाद नगर पालिका प्रशासन व पुलिस के सहयोग से इसे तोड़ने की कार्रवाई कर सकती है। प्रशासनिक तोड़फोड़ में नुकसान से बचने के लिए सोमवार को मो. शफी के परिजन ने घर का कीमती सामान भी खोलना शुरू कर दिया। इससे पहले रविवार रात से भी मो. शफी के परिजन अपने घर का सामान ट्रक में भरकर ले गए। मो. शफी के पड़ोसियों के अनुसार रविवार रात करीब 10 बजे से शफी के घर का सामान खाली होना शुरू हो गया था। यह सिलसिला सोमवार सुबह तक चला। सोमवार दोपहर तक परिजन घर का सामान निकालते रहे। इधर युवराजसिंह हत्याकांड में फरार मास्टरमाइंड दीपक तंवर के रिश्तेदार जंगीबाबू ने भी दूसरे दिन सोमवार को अपने घर का अवैध निर्माण तोड़ दिया है। जंगीबाबू ने नोटिस मिलने के बाद रविवार से ही घर का अवैध निर्माण तोड़ना शुरू कर दिया था। जंगीबाबू तंवर ने कहा कि मैं दीपक तंवर का दादा नहीं हूं।

विजलेंस तस्करी शफी के घर विजलेंस की टीम ने की जांच

अंतराष्ट्रीय फरार तस्कर मोहम्मद शफी के गुदरी गेट स्थित घर पर विद्युत वितरण कंपनी की विजलेंस टीम पुलिस बल के साथ पहुंची। यहां पर विद्युत वितरण कंपनी के अधिकारियों ने बिजली चोरी की आशंका में पूरी जांच की। जांच में सामने आया कि पूरे घर में छह मीटर कनेक्शन है। जिसमें से दो मीटर जले हुए पाए गए है।

 अधिकारियों की माने तो जांच के बाद ही आगे की कार्रवाई होगी। बड़ी संख्या में पुलिस बल को देख बड़ी संख्या में लोग कार्रवाई को देखने के लिए लोग एकत्रित हो गए और कार्रवाई को देखते रहे। जांच के दौरान विद्युत वितरण कंपनी के एई मणिशंकर, थानाप्रभारी शिवकुमार यादव सहित अन्य अधिकारी मौके पर मौजूद थे। इस दौरान भवन में दो से तीन महिलाएं भी थी। यहां पर महिला पुलिसकर्मियों ने अंदर कमरों के दरवाजे खुलवाए।
विद्युत वितरण कंपनी के एई मणिशंकर ने बताया कि विजलेंस की टीम द्वारा बिजली चोरी की आशंका में जांच की गई है। पूरे मकान में करीब ५३ कमरे से अधिक है। इसमें छह विद्युत कनेक्शन है। जिसमें दो बंद पाए गए है। चार बिजली मीटर चालू पाए गए है। इस मामले में जांच कर आगे की नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। दो मीटर लेेकर आए है।
सीएसपी नरेंद्र सौलंकी ने बताया कि तस्कर मोहम्मद शफी के पिता के नाम से नोटिस जारी किया गया है। यह नोटिस हाजी अब्दुल पिता नूर मोहम्मद के नाम से जारी किया गया है। इस नोटिस की समयावधि सोमवारक ो खत्म हो जाएगी। उसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। नोटिस अवधि में परिजन या रिश्तेदार अनुमति संबंधी दस्तावेज बता सकते है। दस्तावेज नहीं बता पाए तो आगे की कार्रवाई होगी।
अधिकारी रह गए दंग, कमरे ही कमरे
थानाप्रभारी शिवकुमार यादव, विद्युत वितरण कंपनी के एई मणिशंकर सहित अन्य अधिकारी जब मकान के अंदर गए। तो देख कर दंग रहे गए। अधिकारियों ने बताया कि एक के बाद एक कमरे है। अधिकारियों ने अनुसार उसमें कई फ्रिज रखे हुए है। गैस टंकियां भी है। बड़ा टीवी है। हीटर, दो से तीन एसी लगे हुए है। इस पूरे मकान के बारे में आम चर्चा में है कि यह भूलभूलैया है। लोगों चर्चा कर रहे थे कि यहां पर तहखाना भी है। अधिकारियों की माने तो अंदर जाने के बाद अंजान व्यक्ति एक दम बाहर कतई नहीं आ सकता है। इस तरह से कमरे बने हुए है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts