Breaking News

मंदसौर लॉकडाउन का पहला दिन : प्रशासन रहा मुस्तैद – कोरोना से जंग जारी

भीड़ भाड़ वाले इलाकों को तुरंत खाली करवाया

मंदसौर। कोरोना वायरस से बचने के लिए मप्र के अनेक जिलों सहित मंदसौर में भी 25 मार्च तक का लॉकडाउन है। लोग अपने – अपरे घरों में कैद है। बाहर निकला चाह रहे है लेकिन निकल नहीं पा रहे है। रविवार को जनता कर्फ्यू के बाद ही जिला प्रशासन ने लॉक डाउन का आदेश दे दिया था। कुछ लोग रविवार को बाहर निकले थे लेकिन प्रशासन ने सख्ती से उन्हें घरों के अंदर भेज दिया।

सोमवार को सुबह लोग घरों से बाहर निकलें दूध, सब्जी, अखबार लिये और फिर अपने घर चले गए। कुछ लोग लॉकडाउन को नहीं समझ पायें और नगर के जीवागंज में प्रतिदिन लगने वाली सब्जी मंडी सोमवार को लॉक डाउन के दौरान भी लग गई और भीड़ एकत्रित होने लगी। जिसकी जानकारी तहसीलदार नारायण नांदेड़ा को मिलते है वे मौके पर पहंुचे और सब्जीवालों को घर भेजा और भीड़ को भी घर जाने को कहा। वही नगर के जनकूपुरा क्षेत्र में बाईक पर सवार जा रहे दो युवकों को पुलिस ने समझाइश दी लेकिन वे नहीं माने तो पुलिस ने फिर लाठी से युवकों को समझाया। हालांकि दूसरे दिन तो कोई खास समस्या शहरवासियों को नहीं आई। जरूरत की सभी सामग्री सुबह उपलब्ध हो गई थी।

मंदसौर में नहीं एक भी प्रकरण

स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार मंदसौर में कोरोना का एक भी प्रकरण अब तक नहीं है और स्वास्थ्य विभाग की टीम पूरी तरह से तैयार है।

मुस्तैद रही पुलिस

लॉकडाउन के पहले दिन मंदसौर का पुलिस प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद रहा। नगर के प्रमुख चौराहों पर पुलिस बल तैनात था और जो लोग भी सड़को पर निकल रहे थे उन्हंे पुलिस द्वारा समझाइश दी जा रही थी कि घर से नहीं निकलें।

सक्रिय निगरानी एवं नियंत्रण के लिए कलेक्टर ने विशेष टीमों का किया गठन

विश्व के लगभग 184 देशों के साथ-साथ भारत के विभिन्न राज्यों में यथा केरल, महाराष्ट्र, तमिलनाडू, आंघ्रपदेश, दिल्ली, उत्तर प्रदेश एवं पड़ोसी राज्य राजस्थान में भी कोरोना महामारी के संक्रमण प्रतिदिन बढ़ रहे है। मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले में अभी तक कोई भी कोरोना वायरस के संक्रमण का प्रकरण नही पाया गया है। उक्त परिस्थिति को दृष्टिगत रखते हुये जिले में कोरोना संक्रमण के रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु कलेक्टर श्री मनोज पुष्प द्वारा अलग अलग टीमो का गठन किया गया है। इसके साथ ही वर्तमान स्थिति एवं गम्भीरता को दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर द्वारा इन टीमों का गठन किया गया है।

कलेक्टर की अध्यक्षता एवं पुलिस अधीक्षक के संयोजन में गठित सभी टीमें कोरोना वायरस के संक्रमण, नियंत्रण, बचाव एवं रोकथाम पर जिले की समस्त गतिविधियों पर सतत निगरानी बनाये रखेगी।

महामारी के संक्रमण से बचाव, नियंत्रण एवं रोकथाम हेतु विकासखंड स्तर पर हेल्थ अमला व मजिस्ट्रेट की टीमों का गठन किया गया है। हेल्थ रिस्पांस टीम द्वारा जिले में विदेशध्आस पड़ोस के राज्यों से आये हुये यात्रियोंध्निवासियों की स्क्रीनिंग एवं परीक्षण किया जावेगा तथा आवश्यकतानुसार उन्हे निःशुल्क उपचारध्होम आईसोलेनध्हास्पीटल आईसोलेशन की सलाह दी जावेगी तथा प्रतिदिवस जिला कार्यालय एवं कंट्रोल रूम को प्रतिवेदन दिया जाएगा।

जिला मीडिया सेल द्वारा कोरोना संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम हेतु जन जागरूकता, विभिन्न प्रकार की उपयोगी जानकारियों का प्रचार-प्रसार, हेल्पलाईन एवं कंट्रोल रुम तथा कलेक्टर व पीआरओ फेसबुक पेज, सोशल मीडिया व अन्य माध्यम से प्रचार-प्रसार संबंधी समस्त दायित्वों का निर्वहन किया जावेगा।

विकासखंड स्तर पर गठित हेल्थ टीम द्वारा जिले में विदेशध्आस पड़ोस के राज्यों से आये हुये यात्रियों निवासियों की स्क्रीनिंग एवं परीक्षण किया जावेगा। आवश्यकतानुसार संबंधित यात्री निवासी को निःशुल्क उपचाराधीन आईसोलेशन हास्पीटल आईसोलेशन के संबंध में निर्णय लिया जाकर कार्यवाही की जावेगी तथा उनके अभिलेखों का संधारण एवं अनुश्रवण प्रतिदिन किया जावेगा।

कंट्रोल रूम समिति द्वारा शासन के निर्देशानुसार सीएम हेल्पलाइन नंबर 181 तथा स्वास्थ्य हेल्पलाईन नंबर 104 के साथ-साथ, कॉल सेंटर कंट्रोल रूम 24×7 प्रति दिवस में शिफ्ट अनुसार संचालन किया जावेगा।

आवश्यक औषधियां, सामग्री का क्रय एवं भंडारण करने हेतु कलेक्टर द्वारा स्वास्थ्य विभाग की टीम को निर्देशित किया गया है। नियमानुसार औषधियां सामग्री की सतत् उपलब्धता सुनिष्चित की जाएगी।

कोरोना संक्रमण से बचाव, नियंत्रण एवं रोकथाम हेतु आवश्यक मानव संसाधन की उपलब्धता सुनिश्चित कराएगी।

इसके साथ ही कलेक्टर द्वारा मंदसौर जिले में कोरोना वायरस से बचाव नियंत्रण संबंधित समस्त कार्यवाही किये जाने हेतु जिला पंचायत सीईओ श्री ऋषव गुप्ता को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से बचाने हेतु मंदसौर जिले का हेल्पलाइन नंबर 8989057941 पर भी सूचना दी जा सकती है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts