Breaking News

शीतला सप्तमी पर्व पर आस्था के आगे हार गया कोरोना का भय

 

शीतला माता मंदिरों पर उमडा महिलाओं का सैलाब

मंदसौर। शीतला सप्तमी का पर्व 16 मार्च 20 सोमवार को नगर सहित अचंलों में हर्षाेल्लास के साथ मनाया गया। इस अवसर पर नगर के शीतला माता मंदिरों पर विशेष रूप से सज्जित किया गया था। परिवार में सुख शांति,समृद्धि एवं उत्तम स्वास्थ्य को लेकर शीतला माता की जाने वाली पूजा अर्चना को लेकर महिलाओं में एक दिन पूर्व विविध प्रकार के व्यंजनों को बनाकर माताजी को नैवेद्य चढ़ाया गया। महिलाओं की आस्था के आगे कोरोना वायरस का भय भी बौना साबित हुआ। प्रशासन द्वारा अलर्ट के बावजूद भी महिलाओं के उत्साह में कोई कमी नहीं देखी गई और बड़ी संख्या में महिलाओं ने शीतला माता मंदिरों में पहंुचकर माता को ठंडे भोजन का नैवैघ चढ़ाया व उत्तम स्वास्थ्य की कामना की। महिलाओं द्वारा रविवार – सोमवार की अर्द्धरात्रि से ही माता के मंदिरों में पूजा अर्चना का दौर शुरू कर दिया गया था। जो सोमवार को दोपहर तक निरंतर चलता रहा। नगर के हर शीतला माता मंदिर महिलाओं से पटे थे। महिलाओं ने लम्बी लम्बी कतारें लगाकर माताजी का पूजन वंदन किया। शीतला सप्तमी पर माताजी के पूजन के दौरान मातृशक्ति द्वारा मीठे ढोकले व चालव दही से निर्मित नमकीन व मीठे ओलिये का नैवेघ माता को चढाया गया।

खिड़की माता मंदिर पर मेले की नहीं मिली अनुमति फिर भी श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ा

शीतला सप्तमी के अवसर पर नगर से दो किमी दूर बायपास रोड़ के निकट स्थित लगभग 350 वर्ष पूराने अतिप्राचीन श्री खिड़की माता मंदिर परिसर में नगर पालिका परिषद् द्वारा प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी एक दिवसीय मेले का आयोजन किया था। लेकिन जिले भर में धारा 144 लगी होने के कारण मेले की अनुमति नहीं मिल सकी और रविवार को शाम को प्रशासन द्वारा मेले का आयोजन निरस्त करवाया गया। लेकिन आस्था में डूबे श्रद्धालुओं को प्रशासन नहीं रोक सका और सोमवार को बड़ी संख्या श्रद्धालु खिड़की माता मंदिर पहुंचे। नगर सहित विभिन्न अंचलों से आये श्रद्धालुओं ने पहुॅचकर माताजी के दर्शन वंदन कर धर्मलाभ लिया। वहीं पूजन अंर्चना करने आई महिलाओं ने खिड़की माता परिसर में पत्थरों से मकान बनाकर अपने खुद की मकान की कामना की। वहीं खिड़की माता मंदिर

सीतामऊ में भी मना पर्व

सोमवार को शीतला सत्पमी का पर्व धार्मिक उल्लास एवं श्रद्धापुर्वक मनाया गया। महिलाओं ने व्रत उपवास रखकर शीतला माता की पुजा अर्चना व आराधना करने अपने घर परिवार की सुख समृद्धि की कामनाए की तथा श्रद्धापुर्वक रात को बनाया गया ठण्डा भोजन मां को अर्पित कर सेवन किया।

महिला पुलिस की सक्रीय भागीदारी

नगर में शीतला माता के दो दरबार है जहां महिलाओ की इस दिन पुजन हेतु भारी भीड उमडती है फल स्वरूप धक्का मुक्की व भीड के बीच महिलओ को पुजन करना पडती है एवं परेशानी भी झेलना पर बाध्य होना पडता है। इस बार इन स्थलो पर महिला पुलिस की मौजुदगी में भीडभाड की स्थिति निर्मित नही हुई। महिलाओ को कतारो में लगना पडा एवं बारी-बारी से दो-दो महिलाओ ने शांतिपुर्ण मॉं की पुजा अर्चना व आराधना की। महिला पुलिस की सक्रीय भागीदारी को नगरवासीयो ने काफी सहारा एवं प्रमुख धार्मिक पर्वो पर इसी प्रकार की व्यवस्था सुनिश्चित किए जाने की मांग पुलिस प्रशासन से की।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts