Breaking News

सख्त हुआ लॉकडाउन: पुलिस ने तब्त किए 63 वाहन

किराना दुकाने बंद, दूध डेयरियों को भी तय समय से पहले करवाया बंद

मंदसौर। कोरोना से लड़ाई लड़े रहे पूरे भारत के साथ मंदसौर में भी 21 दिनों लॉकडाउन चल रहा है। अब इस लॉकडाउन के 5 दिन और शेष बचे है। ऐसे में जिला प्रशासन ने लॉकडाउन को और अधिक सख्त कर दिया है। गुरूवार को लॉकडाउन के दौरान सुबह तीन घंटे में ही यातायात पुलिस ने मंदसौर नगर के 63 दो पहिया वाहनों को जब्त किया है। पुलिस ने मुख्य रूप से बीपीएल चौराहा और श्रीकोल्ड चौराहा पर चैकिंग पाईट बना रखा है। सर्वाधिक गाड़ीयां यही से जब्त कि गई है। हर आने जाने वालों से पूछताछ कि जा रही है। यदि उचित कारण होता है तो उसे पुलिस जवानों द्वारा छोड़ दिया जाता है अन्यथा गाड़ी जब्त करने की कार्रवाई पुलिस द्वारा कि जा रही है। कई लोग पुलिस जवानांे के सामने हाथ जोड़ते हुए मिन्नते करते हुए भी नजर आए लेकिन पुलिस ने किसी की नहीं सुनी और उचित कारण नहीं होने पर लॉकडाउन के नियमों के तहत गाड़ीयां जब्त की।

गुरूवार को सर्वाधिक 63 दो पहिया वाहन जब्त किए गए। वहीं बुधवार को 56 और मंगलवार को 43 वाहनो को जब्त करने की कार्रवाई की गई थी। बुधवार 8 अप्रैल तक पूरे जिले से 424 वाहन पुलिस द्वारा जब्त किये जा चुके है। जिनके पंजीयन निरस्त करने की कार्रवाई की जा सकती है।

दूध डेयरियों को करवाया बंद

पुलिस ने गुरूवार को सख्त लॉकडाउन के अंतर्गत सुबह छूट के समय खुली दूध डेयरियों को भी समय से पूर्व बंद करवाया। पुलिस के जवान दूध डेयरियों के आस पास ही नजर आए और भीड़ एकत्रित नहीं होने दी।

किराना दुकानें आगामी आदेश तक बंद

छूट के समय सर्वाधिक भीड़ किराना दुकानों पर ही लग रही थी। जिसके बाद प्रशासन ने बड़ा कदम उठाते हुए आगामी आदेश तक नगर की सभी किराना दुकानों को बंद करने के आदेश जारी कर दिए है। गुरूवार से सभी किराना दुकाने आगामी आदेश तक के लिए बंद कर दी गई है। जरूरी सामान होने पर किराना एसोसिएशन ने किराना व्यापारियों की एक सूची जारी कर दी है जिस पर आवश्यक सामग्री की सूची वहाटस् अप कर सामग्री दुकानदार द्वारा घर पहंुचा दी जायेगी। घर पहंुच सेवा निशुल्क होने की बात एसोसिएशन ने कहीं है।

महाराष्ट्र से आए पिक अप चालक की हुई जांच

गुरूवार को सुबह एक पिक अप वाहन में पपीता भरकर मंदसौर लाया गया। जिसकी सूचना मिलने पर खानपुरा में पिक अप को रूकवाकर उसमें सवार चालक और दो अन्य व्यक्तियों की जांच स्वास्थ्य विभाग द्वारा की गई।

सेवा देने वाले सभी का हुआ मेडिकल चैक अप

गुरूवार को सुबह कंट्रोल रूम पर एएसपी मनकामना प्रसाद के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग की एक टीम ने कोरोना से लड़ाई में अपनी सेवाएं दे रहे है एनसीसी कैडैट्स अन्य सामाजिक संस्थाओं के सदस्य आदि का मेडिकल करवाया। सभी मेडिकल सामान्य ही रहा।

शामगढ़ में थाना प्रभारी ने ली बैठक

शामगढ़ में कोरोना संक्रमण एवं लॉक डाउन उल्लघंन से बचने के लिए थाना प्रभारी अरविन्द सिंह राठौर ने थाना परिसर में तहसीलदार आरएल मुनिया, सीएमओ गोविन्द पोरवाल की मौजुदगी में सब्जी एवं फल विक्रेताओ की बैठक ली। बैठक में सब्जी-फल विक्रेताओ को समझाइस दी गई की गली मोहल्लों में पहुँचकर प्रातः 7 से 11 बजे तक सब्जियाँ फल विक्रय करें। कोई भी भीड़-भाड़ एकत्रित ना होने दे।

सब्जीमंडी में थोक आड़त विक्रय पूर्णतः बंद रहेगी , नियमो का उल्लंघन करने एवं बाहरी लोगों का नगर में सब्जी विक्रय पर त्वरित कार्यवाही की जायेगी। बैठक में सीएमओ श्री पोरवाल ने नगर में निस्वार्थ सेवारत समाजसेवियों को आगामी दिनों सम्मानित की बात भी कही।

खेतों में नरवाई जलाने पर धारा 144 के तहत होगो सख्त कार्यवाही

अपर कलेक्टर एवं अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट मंदसौर बीएल कोचले ने दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 के तहत प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए प्रतिबंधात्मक आदेश पारित किये है। जारी आदेश अनुसार मंदसौर जिले में रबी की कटाई के पश्चात खेतों में नरवाई जलाना पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेगा। रबी कटाई के बाद किसान खेतों में नरवाई(फसल अवशेष) जला देते है, जिससे मिट्टी में मौजूद पोषक तत्व एवं मित्र कीट नष्ट हो जाते है, साथ ही जमीन बंजर होती है। नरवाई को जलाने के कारण पर्यावरण भी प्रदुषित होता है। जिसका मानव स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पडता है। खेतों मे लगाई जाने वाली अनियंत्रित आग से रहवासी बस्तियों में भी आग फेलने की आशंका रहती है। जिससे बडी जन-धन हानि हो सकती है। ऐसे स्थिति को रोकने हेतु इस पर अंकुश लगाया जाना अतिआवश्यक है। आदेश का उल्लंघन करने वाले किसानों के विरूद्ध भारतीय दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144(2) के तहत कार्यवाही की जावेगी।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts