Breaking News

30 अप्रैल से होगा शिवना के स्वरुप को निखारने का कार्य शुरु

मंदसौर। शिवना नदी का सौंदर्यकरण, चौड़ीकरण एवं गहरीकरण का कार्य आज से प्रारंभ होगा । पहले दिन भगवान पशुपतिनाथ महादेव मंदिर के सामने वाले क्षेत्र से कार्य का शुभारंभ होगा । 15 दिवस तक चलने वाले इस श्रमदान में विभिन्न सामाजिक संगठन अपनी भागीदारी करेंगे । प्रतिदिन एक घंटा प्रातः 7 से 8 बजे तक श्रमदान होगा ।

रविवार को मंदिर सभागृह में हुई मप्र जनअभियान समिति की बैठक में यह निर्णय लिया गया । बैठक में निर्णय लिया गया कि 1 मई से 15 तक चलने वाले शिवना सौंदर्यकरण अभियान में विभिन्न समाजों, सामाजिक संगठनों, संतों एवं प्रशासनिक महकमे के साथ आमजन को जोड़ा जाएगा । जनअभियान परिषद की समन्वयक श्रीमती तृप्ति बैरागी ने बताया कि आज 30 अप्रैल को संतों की उपस्थिति में श्रमदान कार्य का शुभारंभ होगा । प्रातः 10.30 बजे पशुपतिनाथ मंदिर सभागृह पर मप्र जनअभियान परिषद के तत्वावधान में जल संसद कार्यक्रम का आयोजन होगा । बैठक में जनअभियान समिति के डॉ. क्षितीज पुरोहित, प्रकाश सिसौदिया, जितेन्द्र गेहलोत, विनय दुबेला, मनीष भावसार, संजय गोठी, मिथुन वक्ता, ब्रजेश आर्य, धर्मेंद्रसिंह सोनगरा, महेन्द्रसिंह देशावत, नपा के स्वास्थ अधिकारी केजी उपाध्याय सहित समिति सदस्य उपस्थित थे ।

जिले में5 स्थानों पर होगा शुभारंभ-जनअभियान परिषद की समन्वयक श्रीमती तृप्ति बैरागी ने बताया कि मप्र जनअभियान परिषद द्वारा प्रदेश की 313 नदियों में शामिल मंदसौर की शिवना, सीतामऊ की गिड़गंगा, भानपुरा की रुपा, मल्हारगढ़ की आवना एवं गरोठ की अंसर नदी का सौंदर्यकरण, चौड़ीकरण एवं गहरीकरण का कार्य किया जाएगा । सभी नदियों के अभियान को सरकार जनअभियान से जोड़ रही है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts

Leave a Reply