Breaking News

अंधगति से दौड़ रही ट्रेक्टर ट्रॉली से बड़ा हादसा होते होते टला

पुलिस ने कहा नहीं हुई कायमी

मंदसौर। गांधी चौराहे पर बुधवार की प्रातः लगभग 9 बजे अंधगति से दौड़ रही टैªक्टर – ट्रॉली व बाईक के बीच बड़ा हादसा होते होते व्यापारियों की सूझ बूझ से टल गया। अन्यथा एक बड़ा हादसा फिर शहर के सामने आ जाता।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बुधवार की प्रातः लगभग 9 बजे गांधी चौराहे पर रेत से भरी एक ट्रेक्टर – ट्रॉली अंधगति से दौड़ती हुई रांग साइड आ रही थी। जबकि अपनी साइड से चल रहे बाईक सवारों पर वह चढ़ने ही वाली थी कि गांधी चौराहे पर व्यवसायरत् नागरिेकों ने हल्ला कर बाईक सवारों को तो बचा लिया। लेकिन टेªक्टर – ट्रॉली चौराहें पर लगी एटीएम मशीन में भी घुसते – घुसते बच ही गई।

घटना के समय चौराहे सेे गुजर रहें एक आरक्षक ने तत्परता दिखाते हुए तेज व लापरवाही पूर्वक टेªक्टर ट्रॉली चलाने वाले चालक को फटकारते हुए लायसेंस मांगा। जो चालक के पास नहीं था। हालांकि टेक्टर ट्रॉली चालक ने अपने रसूख का हवाला भी आरक्षक को दिया। लेकिन आरक्षक ने बाईक सवारों व टेªक्टर ट्रॉली सहित चालक को शहर थाना कोतवाली ले गया। घटना के संबंध में शहर कोतवाली द्वारा बताया गया कि ऐसी घटना की कोई कायमी हमारे यहां नहीं हुई है। जबकि कायमी की जाना थी। वैसे भी शहर में निर्माण मटेरियल ढोने वाले टेªक्टर ट्रॉलीयां अनियंत्रित गति से ही शहर की सड़कों पर प्रतिदिन दोड़ती आ जावेगी। अगर समय रहते इनकी गति पर नियंत्रण नहीं किया तो कभी भी शहर में बड़ा हादसा हो सकता है।

यातायात पुलिस को भी अंधगति से दौड़ने वाले टेªक्टर ट्रॉलीयों पर अंकुश लगाने का प्रयास करना चाहिए। ताकि अपनी साइड से चलने वालों की जान पर न बन सके व पुलिस कप्तान को बुधवार के दिन थाने ले जाने वाले टेªक्टर ट्रॉली के चालक पर कार्यवाही क्यों नहीं कि, उसे क्यों छोड़ा गया इसकी जांच करना चाहिए।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts