Breaking News

अनंत चतुर्दशी पर निकलेगा 15 झांकियों और 8 अखाड़ों का कारवां

केन्द्रीय गणेशोत्सव समिति की बैठक सम्पन्न

मन्दसौर। भगवान पशुपतिनाथ की पवित्र नगरी मंदसौर में गणपति विसर्जन का 54वां चल समारोह नयनाभिराम आकर्षक जगमगाती बहुरंगीय बिजली की चमचमाहट से युक्त मनमोहक झांकियों के साथ 23 सितम्बर को रात्रि 8 बजे से नगर में निकलेगा। चल समारोह में 15 झांकियां एवं 8 अखाड़े सम्मिलित होंगे। चल समारोह शहर के जनकुपुरा गणपति चौक स्थित श्री द्विमुखी चिंताहरण गणपति मंदिर से प्रारंभ होगा। यह निर्णय केन्द्रीय गणेशोत्सव समिति की आयोजित बैठक में लिया गया। बैठक में सर्वानुमति से निर्णय लिया गया कि यदि 23 सितम्बर को वर्षा की स्थिति बनती है तो चल समारोह अगले दिन निकाला जाएगा।
इस अवसर पर नपाध्यक्ष एवं मंदिर समिति के अध्यक्ष प्रहलाद बंधवार ने कहा कि मंदसौर नगर में अनन्त चतुदर्शी पर्व का चल समारोह लगातार 53 वर्षों से निकलता आ रहा है। इस बार आयोजन का यह 54वां वर्ष हैं त्यौहारों का अपना एक महत्व होता है और उस महत्व को बनाये रखने के लिये नगर में ऐसे आयोजन किये जाते है।
बैठक में समिति अध्यक्ष पं. दिलीप शर्मा, राजकुमार सिंहल, गोपाल मण्डोवरा, संजय रील, कपिल मावर, रमेश ग्वाला, सुरेन्द्र चौहान ‘गोटू’ सहित बड़ी संख्या में सदस्य उपस्थित थे।
झांकियां और अखाड़ों बढ़ाने का होना चाहिये प्रयास- संयोजक राधेश्याम शर्मा ने कहा कि मंदसौर शहर का यह उत्सव मालवा का एक बड़ा उत्सव बन चुका है। हम सबको मिलकर इस व्यवस्था को ओर अच्छा बनाने का प्रयास करना चाहिये। मंडी समिति से दिलीप ग्वाला ने कहा कि इस बार निकलने वाले झांकियों का प्रचार प्रसार ग्रामीण क्षेत्रों तक किया जाएगा जिससे नयनाभिराम एवं आकर्षक झांकियों से ग्रामीणजन भी जुड़ सके। गोपाल कृष्ण गौशाला समिति के संचालक राजेन्द्र सेठिया ने कहा कि जांगड़ा पोरवाल समाज ने स्वप्रेरणा से झांकियां निकालने का जो निर्णय लिया है वह स्वागत योग्य है अन्य समाजों को भी इस कार्य से प्रेरणा लेना चाहिये। लक्ष्मीनारायण कोठारी ने कहा कि प्रत्येक झांकि के साथ अखाड़ा होना चाहिये यह हमारी कोशिश होगी इससे झांकियों की सुन्दरता बढ़ती है। श्री राम गणशोत्सव समिति के कपिल मावर ने बताया कि झांकियों के अलाव अन्य समितियों द्वारा रात भर जो खानपान के स्टॉल निःशुल्क लगाये जाते है उन्हें भी गणेशोत्सव समिति से जोड़ना चाहिए।
आकर्षक पाण्डाल को किया जाएगा पुरस्कृत-समिति के संयोजक प्रदीप भाटी ने संचालन करते हुए बताया कि इस बार सामाजिक सद्भाव समिति द्वारा गणेशजी के 3 आकर्षक पाण्डाल का चयन कर पुरस्कृत किया जाएगा। इस हेतु एक समिति का गठन किया गया है जो निरीक्षण कर अपना निर्णय देंगे। अन्त में आभार छगनलाल पारख ने व्यक्त किया।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts