Breaking News

अब कांग्रेस नेताओं की नजर काप. बैंक, मंडी और एल्डरमेन जैसे पदों की ओर

सब लगे अपने अपने आकाओं को मनाने में

मंदसौर। प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद मंत्रीयों को नियुक्त कर उनके विभाग भी बांट दिए गए है। 7 जनवरी से नई सरकार का पहला सत्र भी प्रारंभ हो जाएगा। वहीं अब दूसरी ओर जिले के कांग्रेस नेताओं की नजर मनोनित पदों की ओर टिक गई है। सभी अपने अपने आकाओं को मनाने में लगे है। सरकार बदलने के साथ साथ अब कई महत्वपूर्ण पदों पर बैठे भाजपा के लोगों को हटाकर कांग्रेस अपने आदमी फीट करेगी। इसकी शुरूआत भी हो चुकी है कमलनाथ ने मुख्यमंत्री बनते ही नगर पालिकाओं के एल्डरमेन को हटाने के साथ साथ सभी समितियों, आयोग व निगमों के अध्यक्ष को भी हटा दिया है। आगामी एक से दो माह में इन पदों पर कांग्रेस के लोग बैठ जाएंगे। मंदसौर में भी कांग्रेस नेताओं की नजर दो मालदार पद सरकारी बैक के अध्यक्ष और प्रदेश की टॉप मंडीयों में शुमार मंदसौर के कृषि उपज मंडी के अध्यक्ष पद के साथ साथ नगर पालिका के एल्डरमेन पर लगी हुई है।

मंदसौर नगर में चार एल्डरमेन के पद है। जिस पर कई कांग्रेस नेताओं की नजर है लेकिन ऐसा माना जा रहा है कि इन पदों पर पूर्व मुख्यमंत्री र्दििग्विजय सिंह के खेमे के ही लोग बैठेगे, क्योंकि नगरीय प्रशासन मंत्री उनके पुत्र जयवर्द्धन सिंह है। वहीं जिला सहकारी बैंक अध्यक्ष के लिए अभी से जोड़ तोड़ शुरू हो गई और क्षेत्र के कई कांग्रेस नेता सहकारी मंत्री गोविन्द सिंह राजपूत से सम्पर्क निकालने में लगे है वैसे इस पद पर नीमच के पूर्व विधायक नंदकिशोर पटेल का नाम चल रहा है क्योंकि वे पहले भी बैंक अध्यक्ष रह चुके है। ऐसी ही स्थिति कृषि मंडी के लिए कांग्रेस नेताओं की है। इसके अलावा कई बड़े नेता जो विधानसभा चुनाव के दौरान विधायक टिकट के दावेदार थे और प्रदेश के बड़े नेताओं से सम्पर्क में है उनकी नजरे बड़े आयोग या निगम के अध्यक्ष बनने पर टिकी है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts