Breaking News

अब केवल इंदौर एमवायएच जाएंगी निःशुल्क एम्बुलेन्स

रेडक्रास की बैठक में हुए बड़े निर्णय, आर्थिक मजबूती की कोशिशें

मन्दसौर। रेडक्रास प्रबंध समिति की बैठक में कई बड़े और सख्त निर्णय हुए। आर्थिक तंगी से जूझ रही सोसाइटी को मजबूती के लिए हुए निर्णयों के तहत निःशुल्क एम्बुलेन्स सुविधा के लिए सख्त नियम तय हुए तो वही अत्याधुनिक संसाधनों वाले एक ओर नए फिजियोथेरेपी सेंटर को जल्द चालू करने का निर्णय भी हुआ। कलेक्टर ओपी श्रीवास्तव और चेयरमेन प्रितेश चावला की उपस्थिति में सुधार, बदलाव और नए विकास के भी निर्णय हुए।

अब हर कही निःशुल्क नही जाएंगी एम्बुलेन्स – बैठक में घाटे में चल रही एम्बुलेन्स सेवा को जनहित में और सुचारू बनाने के साथ ही निःशुल्क एम्बुलेन्स भेजने की प्रक्रिया में फेरबदल पर सहमति भी बनी। तय हुआ कि अब निःशुल्क एम्बुलेन्स मप्र के निजी अस्पतालों या बाहरी राज्यो के किसी भी अस्पताल के लिए नही जाएंगी। वास्तविक जरूरतमंद को मन्दसौर सरकारी हॉस्पिटल से निःशुल्क केवल इंदौर के एमवायएच अस्पताल ही ले जाया जाएगा। बताया जाता हैं कि असमर्थता जताकर फ्री में एम्बुलेन्स ले जाने वाले मरीजों के महंगे निजी अस्पतालों में इलाज करवाने की बात पर सदस्यों द्वारा ध्यानाकर्षण के बाद यह निर्णय हुआ।

निजी एम्बुलेंसों पर शिकंजे कसेंगे – बैठक में सदस्यों द्वारा निजी एम्बुलेंस वाहनों के सरकारी अस्पताल परिसर से मरीजों को ले जाने, कम दाम का लालच देने और तस्करी के मामले प्रकाश में आने की और भी ध्यानाकर्षण किया गया। इस पर कलेक्टर श्रीवास्तव ने साफतौर पर कहा कि सरकारी अस्पताल से रेफर मरीजो को ले जाने में रेडक्रोस की एम्बुलेन्स को प्राथमिकता के निर्देश दिये जायेंगे।

होमियोपैथिक सेंटर होंगा बन्द – जिला आयुष विभाग के तहत आयुर्वेदिक, यूनानी और होमियोपैथिक चिकित्सा निःशुल्क मिलने के बाद रेडक्रास द्वारा संचालित होमियोपैथिक सेंटर के औचित्यहीन होने का मामला सामने आया। इस पर घाटे में चल रहे सेंटर को तुरंत बन्द करने का निर्णय लिया गया।

अत्याधुनिक मशीन वाले फिजियोथेरेपी सेंटर मिलेंगा जल्द – रेडक्रास द्वारा संचालित फिजियोथेरेपी सेंटर को मिली सफलता के बारे में सदस्य एवं सेंटर प्रभारी पत्रकार राहुल सोनी ने जानकारी दी। साथ ही प्रस्तावित एक ओर नए सेंटर के मामले में कलेक्टर श्रीवास्तव व चेयरमेन चावला की अगुवाई में निर्णय हुआ कि गनेडीवाल ट्रस्ट हॉस्पिटल की जगह पर यह जल्द शुरू होंगा। साथ ही दानदाता के माध्यम से अत्याधुनिक मशीने जल्द ही मंगवाकर यह सेंटर लोकार्पित किया जायेगा।

सभी प्रकल्पों में होंगे विकास के कार्य, स्टाफ की पूर्ति होंगी – इस दौरान रेडक्रास के माध्यम से संचालित करीब एक दर्जन प्रकल्पों की समीक्षा हुई। सभी प्रकल्पों में स्टाफ की पूर्ति करने के साथ ही व्यवस्था को और मजबूत बनाने के निर्णय हुए। साथ ही आने वाले समय मे रेडक्रास समितियों का जिले से तहसील स्तर तक गठन किये जाने पर भी विचार हुआ।

यह थे बैठक के उपस्थित – कलेक्टर ओपी श्रीवास्तव की अगुवाई में आयोजित हुई प्रबंध समिति की पहली बैठक में एसडीएम आर एल शाक्य, रेडक्रास के वाईस चेयरमेन महेंद्र चौरडि़या, कोषाध्यक्ष प्रमोद अरवेंदेकर, प्रदेश प्रतिनिधि संजय पोरवाल समेत शिवकुमार फरक्या, एड. राजकुमार फरक्या, डॉ. महेश शर्मा, राहुल सोनी, डॉ प्रीतिपालसिंह राणा, राजेश नामदेव आदि उपस्थित थे।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts