Breaking News

आचार्य श्री रामानुजजी महाराज के मुखारविन्द से 6 से 14 जनवरी तक आयोजित : श्रीरामकथा की चल रही भव्य तैयारियां

कथा आमंत्रण पत्रिका का विमोचन, झाबुआ जाकर महाराजश्री का आशीर्वाद लिया समिति ने

मंदसौर। भगवान बालाजी के भक्त आचार्यश्री रामानुजजी महाराज के मुखारविन्द से 6 से 14 जनवरी तक आयोजित श्रीरामकथा के भव्य आयोजन को लेकर व्यापक स्तर पर तैयारियां चल रही है। श्रीरामकथा आयोजन की निमंत्रण पत्रिका भी छपकर तैयार हो गई जिसका विमोचन गुरूवार को झाबुआ में आयोजित श्रीमदभागवत कथा के दौरान आचार्य श्री ने किया और श्रीहरिकथा आयोजन समिति के अध्यक्ष नरेन्द्र अग्रवाल की अगुवाई में मंदसौर से गए संयोजक मोहनलाल शर्मा जांगीड़, सह संयोजक जेपी बटवाल, सचिव सुरेश सोमानी, कोषाध्यक्ष सत्यनारायण छापरवाल, अशोक झलौया, राव विजयसिंह, रमाकांत शर्मा, ब्रजमोहन गर्ग, अरुण गौड़, जयंतिलाल नीमा, बाबुलाल नीमा, सुनील कटलाना, किशोर डाबर, पं रामेश्वरजी बालाजी मंदिर, सुरेश पाठक सहित सदस्यों को आशीर्वाद भी दिया। इस अवसर पर समिति सदस्यों ने पूज्य आचार्यश्री का सम्मान भी किया।

श्रीहरिकथा आयोजन समिति के तत्वावधान में भगवान पशुपतिनाथ की पवित्र नगरी मंदसौर में 6 जनवरी से 14 जनवरी तक भव्य रामकथा का आयोजन किया जा रहा है इस आयोजन के पहले दिन 6 जनवरी को दोपहर 12 बजे श्री तलई वाले बालाजी मंदिर से विशाल शौभायात्रा प्रारंभ होगी जो नगर के प्रमुख मार्गाे से होती हुई कथा स्थल माहेश्वरी धर्मशाला नयापुरा पर पहुुंचेगी जहां संध्या 4 बजे से कथा प्रारंभ होगी। 7 जनवरी से प्रतिदिन दोपहर 1 बजे से संध्या 5 बजे तक कथा का रसपान व्यासपीठ पर विराजित आचार्यश्री रामानुजजी महाराज कराएंगे।

कथा के आयोजन को लेकर भव्य तैयारियां चल रही है समिति सदस्यों ने पूरे शहर के गणमान्यजनों से भेंट कर उन्हें कथा का न्यौता दिया है इसके अलावा कथा स्थल माहेश्वरी धर्मशाला को भी पूरे धर्ममय वातावरण के अनुरूप सज्जित किया जा रहा है। श्रीहरिकथा आयोजन समिति के अध्यक्ष नरेन्द्र अग्रवाल की अगुवाई में सदस्यगण झाबुआ में चल रही श्रीमदभागवत कथा के दौरान व्यासपीठ पर विराजित आचार्यश्री रामानुजजी महाराज का आशीर्वाद लेने और आमंत्रण पत्रिका का विमोचन करने पहुंचे। इस दौरान आयोजन समिति के अध्यक्ष नरेन्द्र अग्रवाल ने आचार्य श्री को कथा आयोजन के संबंध में अब तक हो चुकी तैयारियों के बारे में विस्तार से अवगत कराया। इस अवसर पर आचार्यश्री रामानुजजी ने कहा कि भगवान बालाजी के धाम मंदसौर में श्रीरामकथा का आयोजन भव्य रूप से होगा जिसमें हजारो की तादाद में श्रद्धालुओं को श्रीरामकथा श्रवण का लाभ मिलेगा। आपने कहा कि मंदसौर वह शहर है जहां आशुतोष भगवान पशुपतिनाथ और श्रीबालाजी महाराज स्वयं विराजते है ऐसी पवित्र नगरी में श्रीरामकथा का आयोजन होना वास्तव में पुण्यशाली काम है इस आयोजन में जो भी लोग सहभागी हो रहे है उन पर प्रभु श्रीराम की विशेष कृपा है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts