Breaking News

आज होगी तलेरा विहार मंदिर में शंखेश्वर पार्श्वनाथ जी की प्राण प्रतिष्ठा

निकला भव्य विशाल चल समारोह, 13 बगीयों, तीन बैण्ड व 12 रांगोलियों ने बढाई शोभा

मंदसौर। नगर की पावन धरा पर आज जैन समाज के भगवान श्री शंखेश्वर पार्श्वनाथ अंजनशलाक (मंदिर) का प्रतिष्ठा कार्यक्रम को बंधु बेलड़ी पू आचार्य श्री जिनचंद्रसागरसूरिजी मसा एवं पू आचार्य श्री हेमचन्द्रसागर सूरिजी मसा संपन्न करवाएंगे। प्रतिष्ठा महोत्सव के कार्यक्रम विगत् 16 जनवरी से निरंतर चल रहे थे। इनके अंतर्गत ही गुरूवार को नगर में जैन समाज द्वारा एक विशाल रथयात्रा निकाली गई। जिसमें बड़ी संख्या में समाजजन सम्मिलित हुए।

रथयात्रा प्रातः 9.30 बजे तलेरा विहार स्थित नवनिर्मित जिनालय से प्र्रारंभ हुई जो अफीम गोदाम रोड़, नई आबादी, गौल चौराहा होती हुई पुनः तलेरा विहार पहुंची। रथयात्रा में पपू आचार्य बंधू बलेडी अपने साधु समुदाय के साथ चल रहे थे। महिलाओं ने केशरिया वस्त्र कर गरबा नृत्य करती हुई चल रही रही थी। युवा वर्ग भी रथयात्रा में पूरी तरह से भक्ति के रंग में रंगा हुआ नजर आ रहा था।

ये रहे रथयात्रा के आर्कषण
रथयात्रा में सबसे आगे ध्वजा चक्र चल रहा था जिसका सर्वाधिक महत्व होता है। यात्रा में 13 बगीयां थी जिसमें पार्श्वनाथ कल्याणक के पात्र माता पिता, इन्द्र इन्द्राणी, प्रिया नन्दा, मंत्री जी, नगर सेठीजी, कोषाध्यक्ष, सेनापति, राज पुरोहित, घणीदार आदि पात्र बनकर श्रावक श्राविकाएं बैठे थे। रथयात्रा में एक हाथी, बड़नगर व रतलाम का बैण्ड और शाही करबा आर्कषण बढ़ रहे थे। अयोध्यापुरम् गुजरात के गुरूकुल के बालकों ने आचार्यश्री द्वारा तैयार करवाये गए स्काउट बैण्ड का भी प्रदर्शन किया। रथयात्रा के मार्ग में 12 स्थानो पर आर्कषण बड़ी रांगोलियां भी बनाई गई थी।

आज होगे यह आयोजन
25 जनवरी को प्रतिष्ठा महोत्सव का समापन होगा। आज महा मंगलकारी प्रतिष्ठा मूलनायक आदि जिन बिम्बों की प्रतिष्ठा होगी जिसके बाद सकल जैन समाज का स्वामीवात्सल्य भी होगा।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts