Breaking News

आदर्श को-ऑपरेटिव सोसायटी में मंदसौर जिले के दस हजार से अधिक खाता धारको की करोडो की राशि फंसी

एसएफईओ द्वारा जारी प्रकरण के बाद मेच्योरिटी होेने के बाद भी नही हो पा रहा है भुगतान

मंदसौर। मल्टी स्टेट को- ऑपरेटिव सोसायटी आदर्श के प्रबंध निर्देशक श्री मुकेश मोदी एवं प्रबंधक श्री राहुल मोदी पर एबीपी न्यूज द्वारा मास्टर स्ट्रोक ऐपिसोड के माध्यम से किये गये खुलासे के उपरांत वर्ष 2018 में सीरियल फ्राड ऑफ इन्वेस्टिगेशन ऑफीस द्वारा 200 करोड से अधिक की आदर्श सोसायटी की पूंजी मोदी परिवार की फर्जी कंपनियो को बिना व्यापार किये लोन दियेे जाने के मामलें में प्रकरण दर्ज किया गया था। इस दौरान राजस्थान, मध्यप्रदेश एवं गुजरात प्रांत में निवेशको को गुमराह करते हुये आरडी, एफडी की जाती रही और कुछ लोगो को भुगतान कर संतुष्ठ किया जाता रहा लेकिन पिछले कुछ दिनो से सोसायटी द्वारा मेच्योरिटी होने के बावजुद भुगतान नही किया जा रहा है। मंदसौर जिले में निवेशको में बडी संख्या गरिब एवं मजदूर वर्ग के नागरिको की है जिनका लगभग पचास करोड रूपया मंदसौर बांच में फंस गया है।

यह बात जिला कांग्रेस प्रवक्ता एवं जिला इंटक अध्यक्ष श्री सुरेश भाटी ने प्रेस नोट के माध्यम से कहीं। उन्होने प्रकरण का हवाला देते हुये कहा कि वर्ष 2018 में मुकेश मोदी एवं राहुल मोदी जो कि संस्था के प्रमुख है उन्होनें अपने रिश्तेदारो एवं मित्रो के नाम से 134 कंपनियो का निर्माण करवाकर आदर्श को- ऑपरेटिव का 200 करोड से अधिक की राशि का लोन इन कंपनियो का दिया जो सहकारिता नियम के विरूध्द है। एसएफईओ ( सीरियस फाॅड इन्वेस्टिगेशन ऑफीस) द्वारा प्रकरण दर्ज किये जाने के बाद मोदी परिवार के प्रमुखो की जमानत नई दिल्ली हाईकोर्ट द्वारा प्रदान कर दी गयी जिस पर सुप्रीम कोर्ट में दोनो आरोपियो की जमानत 26 मार्च 2019 को निरस्त कर आत्मसर्पण हेतु आदेश दिया।

श्री भाटी ने कहा कि लगभग 6 माह से मंदसौर, नीमच में आदर्श सोसायटी की शाखाओं द्वारा आरोपो को खारिज करते हुये भोलेभाले निवेशको से राशि आरडी एवं एफडी के रूप में जमा करवाते रहे लेकिन पिछले दो माह से राशि की मेच्योरिटी होने के बावजुद भुगतान करने से मना किया जा रहा है या फिर एफडी की अवधि बढाने हेतु कहा जा रहा है। उन्होनें इस मामले में आदर्श के ऐजेन्टो द्वारा पहले तो भोलेभाले निवेशको को आरडी एवं एफडी हेतु प्रेेरित किया लेकिन अब स्वयं आगामी दिनो में पुलिस में मुकेश मोदी एवं राहुल मोदी के खिलाफ आवेदन देकर फरियादी बनने की सोच रहे है ताकी आम निवेशको के प्रति जवाबदेही से बच सके।

श्री भाटी ने मंदसौर जिले के लगभग दस हजार खाता धारको को आदर्श सोसायटी द्वारा केवल राशि जमा करने एवं भुगतान नही करने के प्रति सचेत करते हुये कहा कि शाखा के प्रबंधक एवं कर्मचारी राशि तो जमा कर रहे है लेकिन भुगतान के नाम पर न्यायालय के नाम का सहारा ले रहे है जो नियम विरूध्द है। अगर न्यायालय द्वारा किसी प्रकार की रोक होती तो आखिर कैसे संस्था के कर्मचारी राशि जमा कर रहे है।

श्री भाटी ने मंदसौर नगर सहित जिले के निवेशको को आदर्श को- ऑपरेटिव द्वारा भुगतान नही किये जाने के मामले में कहा कि संस्था की शाखाये आगामी दिनो में स्वयं ही तालाबंद होकर इसके कर्मचारी भागने फिराक में है ऐसे में निवेश इस मामले में कानूनी कार्यवाही करे। इंटक द्वारा इस मामले में जल्द शाखा के कर्मचारियो एवं ऐजेन्टो के विरूध्द थाने में शिकायत दर्ज करवायेगी।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts