Breaking News

इन्टरनेशनल कराटे चैम्पियनशिप में मंदसौर के 6 खिलाड़ियों ने जीते 8 मेडल

मन्दसौर जिला कराटे एसोसिऐशन के सचिव एवं चीफ कोच भंवरसिंह राणा ने बताया कि कु. शुभदा राणावत ने काता में स्वर्ण पदक, कुबिते में कास्य पदक, मेघा सोनगरा ने काता में सिल्वर और कुबिते में कांस्य पदक, जया सिसौदिया ने कुबिते में कास्य, काजल सिसौदिया ने काता में कांस्य, आशुतोष मेहमावत ने कुबिते में कांस्य व प्रखर दुबे ने कुबिते में सिल्वर पदक जीता। यह प्रतियोगिता भारत शासन के खेल मंत्रालय द्वारा मान्यता प्राप्त थी। जिसमें 6 देशों के 950 खिलाड़ियों ने भाग लिया था। इस अवसर पर वर्ल्ड कराटे एसोसिऐशन के हंसी हिरोशी नाकाजीमा, कराटे एसो. ऑफ इंडिया शिहान भरत शर्मा, वर्ल्ड कराटे फेडरेशन के रेफरी सेंसई मार्क लेन्स्की, अलेक्स, सिमन मेरिक न्यूजीलैण्ड, जापान, आस्ट्रेलिया विशेष रूप से उपस्थित थे। एससीकेएफआई के अध्यक्ष एवं टेक्निकल चेयरमेन सेंसई महेश कुशवाह, एमपीआईजीके के टेक्निकल डायरेक्टर आशुतोष दाधीच ने खिलाड़ियों को सम्मानित कर उत्साह बढ़ाया।
जूड़ो खेल भवन शुक्ला कॉलोनी में आयोजित सम्मान समारोह में मुख्य अतिथि राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के जिला प्रचारक अजय घाडके ने कहा कि भारत में यह कला गुरू महर्षि वशिष्ठ ने श्री राम को सिखाई थी। बेहद प्रसन्नता हुई कि मंदसौर के खिलाड़ियों ने पदक जीते व संस्था का नाम रोशन किया। अध्यक्षता करते हुए संघ के जिला कार्यवाह दशरथसिंह झाला ने कहा कि मंदसौर जिला जूड़ो कराटे एसोसिऐशन की गतिविधियां प्रशंसनीय है। व्यथ्क्त का शरीर स्वस्थ रहता है तो वह मानसिक रूप से भी प्रतिभावान होता है। मंदसौर जिला जूड़ो एसोसिऐशन के अध्यक्ष महेन्द्र चौरड़िया ने कहा कि मेहनत का परिणाम सफलता है। खिलाड़ियों ने जिले व देश का नाम रोशन किया। आगे भी उन्हें विजयी होने का आशीर्वाद दिया। एसोसिऐशन के उपाध्यक्ष डॉ. घनश्याम बटवाल ने कहा कि विवेकानन्द ने कहा था कि गीता पढ़ने के बजाय बच्चें खेल मैदानों में खेले। भावी पीढ़ी शारीरिक रूप से मजबूत होगी तो निश्चय ही वे आगे बढ़ेंगे। इस दौरान सांसद सुधीर गुप्ता ने प्रसन्नता जाहिर करते हुए खिलाड़ियों को फोन पर बधाई दी। इस अवसर पर जिला रेडक्रास सोसायटी चेयरमेन व कुराश एसो. के अध्यक्ष प्रीतेश चावला, उपाध्यक्ष कमलेश सोनी (लाला), वरिष्ठ उपाध्यक्ष मुकेश काला, जिला स्टेडियम प्रबंधक एवं क्रिकेट वरिष्ठ कोच एस.एस. भाटी, क्रिकेट एसो. के अरूण शर्मा, वरिष्ठ पत्रकार शांतिलाल जैन, म.प्र. बी.सी.सी.आई. के श्रीनिवास विशेष रूप से उपस्थित थे।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts