Breaking News

उप प्रबंधक ने ही लूटे थे आठ लाख रूपये, कंजरों से लिया था सहयोग, मकान बनाने के लिये थी रूपयों की आवश्यकता

मंदसौर निप्र। थाना प्रभारी नाहरगढ़ गिरीश जजुरकरेग्राम बिशनिया मे हुई चोरी का पर्दाफाश किया। 16 मई 17 की रात्रि मे प्राथमिक कृषी सहकारी संस्था ग्राम बिषनिया की तिजौरी का ताला तोड़कर अज्ञात आरोपियों द्वारा 08 लाख 50 हजार रूपये चुराये गये थे जिस पर थाना नाहरगढ़ पर 457,380 भादवि मे अपराध पंजीबध्द कर विवेचना मे लिया गया था विवेचना के दौरान संदेह के आधार पर प्राथमिक कृषी साख सहकारी संस्था मर्यादित खजूरी गोड मुख्यालय बिषनिया के कर्मचारी, सहायक प्रबंधक मनोज पिता चेतन्यप्रसाद शर्मा उम्र 42 साल को गिरफ्तार कर पूछताछ करने पर बताया कि मुझे मकान बनवाने व कर्ज चुकाने के लिये रूपये की जरूरत थी जिस पर मैने अपने दोस्त जितेन्द्र सिंह पिता रघुनाथसिंह राजपूत निवासी गुराड़िया के साथ मिलकर संस्थान की तिजौरी से रूपये चुराने की योजना बनाई। जितेन्द्र सिंह ने चोरी की योजना मे मुण्डला से विक्रम कंजर व रसूलिया कंजर को भी शामिल किया। 16 मई 17 की शाम 06.00 बजे मैने व संस्था के कर्मचारी कुबेर सिंह ने तिजौरी मे 08 लाख 50 हजार रूपये रखे व इसकी सूचना अपने दोस्त को दी। रात्रि 11.00 बजे तुफान गाड़ी से विक्रम कंजर एवं रसूलिया कंजर अपने अन्य साथियों के साथ बिजली तार, कटर मषीन, टाॅमी, हथोड़ी एवं सब्बल लेकर संस्था पर आए तथा तिजौरी से रूपये चुराकर जितेन्द्र सिंह के कुएॅ पर आये जहाॅ पर उन्होने रूपयो का बटवारा बाद मे करने का बोलकर चोरी किये गये रूपये अपने साथ लेकर चले गये। जितेन्द्र सिंह, विक्रम कंजर एवं रसूल कंजर व इनके साथी फरार है जिनको गिरफ्तार करने के लिये टीम बनाकर प्रयास किया जा रहा है। पुलिस टीम के उनि शिवमंगल सेंगर, उनि लाखनसिंह, सउनि भीमसिंह, सउनि विजय सिंह चौहान, आरक्षक जुझारलाल, आरक्षक राजपाल सिंह, आरक्षक कमलेश देतरिया की भूमिका अहम रही।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts