Breaking News

ऋण के साथ कौशल विकास का प्रशिक्षण प्रदान कराना शासन की अभिनव पहल है – नपाध्यक्ष श्री बंधवार

मंदसौर। ऋण के साथ कौशल विकास का प्रशिक्षण प्रदान करने से बेरोजगारों द्वारा लगाये गये उद्योग की सफलता सुनिश्चित होती है यह शासन की अभिवन पहल है। उक्त उदगार आज नपाध्यक्ष श्री प्रहलाद बंधवार द्वारा मुख्यमंत्री स्वरोजगार एवं कौशल सम्मेलन एवं रोजगार मेले को संबंोधित करते हुये व्यक्त किये। शासन की विभिन्न स्वरोजगार योजनाओं के माध्यम से अनेक बेरोजगार न केवल लाभान्वित हो रहें है अपितु उनके परिवारों में आर्थिक स्थिति में भी सुधार हुआ है। ऋण हमारी सुविधा के लिए है, उसकी अदायगी भी समय पर होना चाहिये जिससे अन्य लोग भी लाभान्वित हो सके और भविष्य में और अधिक ऋण प्राप्त हो सके साथ ही ब्याज का अतिरिक्त ीाार भी नही लगेगा। इस अवसर पर कलेक्टर श्री ओमप्रकाश श्रीवास्तव ने कहा कि ग्राम बेहपुर में 30 लाख रू संे युवा उद्यमी द्वारा तैयार किये गये पोलीहाउस से 10 लख रू से भी अधिक प्रतिवर्ष आय प्राप्त हो रही है । इसी प्रकार उद्यमी ईश्वरलाल गौशाला से गोबर क्रय कर जैविक खाद पूरे प्रदेश में विक्रय कर अपनी आजीविका चला रहें है। ऐसे अनेक उद्यमी है जो उच्च शिक्षित होकर नोकरी के बजाय स्वयं के रोजगार से लोगों को रोजगार प्रदान कर रहें है। उन्होने ने प्रदेश सरकार की विभिन्न योजनाओं की जानाकारी देते हुये युवाओं से आईटीआई एवं नाबार्ड के माध्यम से छोटे-छोटे प्रशिक्षणउ प्राप्त कर रोजगार प्रारंभ करने का आव्हान किया। मंचासीन अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री मंडेरिया, लीड बैंक अधिकारी श्री उपाध्याय, जिला रोजगार अधिकारी श्री कुशवा, प्राचार्य आईटीआई तथा महाप्रबंधक अद्योग श्री ईन्दौरे ने भी उपस्थित जनसमुदाय को रोजगार मूलक योजनाओं की जानकारी दी। कार्यक्रम में उपस्थित युवा उद्यमी श्री तनय जैन, राजेश पाटीदार, ईश्वरलाल आदि ने अपने अनुभव साझा कियें। नाबार्ड के श्री मनोज हरचंदानी एवं विभिनन बैंके के प्रबंधको द्वारा शासन की विभिन्न हितग्राही एवं रोजगार मूलक योजनाओं के 100 से भी अधिक हितग्राहियों को 11 करोड रू. के ऋण स्वीकृत कर मुख्य अतिथि के हाथें से वितरित किये गयें। इस अवसर पर रोजगार प्रदान करने वाली संगम इण्डिया लिमि. भीलवाडा एवं यशस्वी एकेडेमी सहित 17 कम्पनियां शिविर स्थल पर मौजूद थी, जिनके माध्यम से पंजीकृत 1281 आवेदकों में से 352 का रोजगार हेतु प्राथमिक चयन भी शिविर स्थल पर किया गया।

इस कार्यक्रम में कृषि विभाग द्वारा जैविक खेती, मिट्टी परीक्षण, खेती लाभ का धंधा, उन्नत किस्मो का बीजो का प्रदर्शन कम पानी की फसल सम्बधी जानकारी जनसमुदाय को प्रदाय की गई। उद्यानिकी विभाग के द्वारा किसानो द्वारा किए जा रहे उन्नत फसलों, खाद्य प्रसंस्करण इकाईयो औषधीय फसलो की जानकारी प्रदाय की गई। पशुपालन विभाग के द्वारा उन्नत नस्लो एवं रखरखाव संबंधी जानकारी दी गई। उद्यानिकी महाविद्यालय, नगर पालिका परिषद, महिला एवं बाल विकास विभाग/महिला सशक्तिकरण द्वारा विभागीय योजनाओं की जानकारी उपलब्ध कराई गई। स्वरोजगार योजनाओं को संचालित करने वाले कार्यालयों/विभागों जिला पंचायत म.प्र. खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड, हाथकरघा विभाग,अंत्यावसायी सहकारी समिति, आदिम जाति कल्याण विकास विभाग, पिछडा वर्ग कल्याण विभाग,विमुक्त जाति, जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र द्वारा जनसमुदाय को उनके कार्यालय द्वारा संचालित स्वरोजगार योजनाएॅ मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना, मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना, मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना एवं प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम संबंधी जानकारी दी गई एवं पेम्पलेट उपलब्ध कराए गए। औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान एवं पॉलेटेक्निक कॉलेज के द्वारा मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन योजना एवं मुख्यमंत्री कौशल्या योजना के संबंध में जानकारी दी गई। सामान्य जन को बैंक एंव वित्तीय संस्थाओं के द्वारा किए जा रहे कार्यो की जानकारी देने हेतु सम्मेलन में नाबार्ड, जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक के साथ ही समस्त बैंक प्रतिनिधियों द्वारा वित्तीय योजनाओं की जानकारी उपलब्ध कराई गई।

सम्मेलन में प्रदर्शनी का आयोजन भी किया गया जिसमें जिले में स्थित लघु एवं कुटीर उद्योगो के द्वारा तैयार सामग्री का प्रदर्शन भी किया गया। प्रदर्शनी में आर्युवेदीक/हर्बल दवाईयों का प्रदर्शन मेंसर्स पुखराज हर्बल जग्गाखेडी कृषि दवाईयों का प्रदर्शन मेसर्स एम.पी. एग्रो केमिकल्स जग्गाखेडी रेडीमेड वस्त्र ए.एच. टेक्सटाईल्स खानपुरा गीता हेण्डलूम मंदसौर द्वारा वस्त्र निर्माण, मेसर्स मोदीकेड एवं सेवा सामाजिक संस्था, जय मॉ काली स्वंय सहायता समूह द्वारा विभिन्न घरेलू उत्पाद अराधना स्वंय सहायता समूह, द्वारा तैयार लाख चुडी एवं अन्य उत्पाद का प्रदर्शन किया गया। ग्लोबल इण्डस्ट्रीज ग्राम माल्याखेडी द्वारा तैयार विभिन्न पेपर बेग प्रदर्शित किए गए। विश्वकर्मा फुड प्रोडक्टस ग्राम जग्गाखेडी द्वारा विभिन्न खाद्यानो की पिसाई के उत्पाद का प्रदर्शन किया गया। मलिन्डा रोस्टर्ड इण्डस्ट्रीज जग्गाखेडी द्वारा पीनट्स का प्रदर्शन दीपक फुड प्रोडक्ट मंदसौर द्वारा फ्रायम्स एवं फीन्गर्स तथा अमन फाईबर मल्हारगढ द्वारा तैयार रजाई-गाद्यी का प्रदर्शन किया गया। एन.के. इंजीनियरिंग एवं इलेक्ट्रीकल्स जग्गाखेडी द्वारा लसन ग्रेडींग मशीन भी कार्यरत स्थिति में प्रदर्शित की गई। ग्रेडींग मशीन से पृथक किए गए लहसुनों का प्रदर्शन दलौदा के श्री इंदरंिसंह द्वारा किया गया। प्रदर्शनी स्थल में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान की तरफ से छात्रो का कौशल प्रदर्शन विभिन्न मॉडल/प्रोजेक्ट के माध्यम से किया गया। कार्यक्रम का संचालन जिला योजना अधिकारी डा जेके जैन ने किया एवं आभार महाप्रबंधक उद्योग श्री ईनदौरे ने किया।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts