Breaking News

एक बार फिर शहर थाने को मिल सकता है नया थानेदार : पुलिस विभाग में सर्जरी की तैयारी

मंदसौर। विधानसभा चुनावों के परिणामों के बाद जैसा की कयास लगाए जा रहे थे कि कलेक्टर और एसपी के तबादले होगें और हुआ भी वैसा ही। कलेक्टर ओमप्रकाश श्रीवास्तव और एसपी मनोजसिंह के तबादले हुए और मंदसौर जिले को धनराजू एस नये कलेक्टर और तुषारकांत विद्यार्थी नये एसपी के रूप में मिलें। अब एसपी श्री विद्यार्थी को आए लगभग एक माह हो चुका है तो अब वे जिले के थानों की सर्जरी करने के मूड में आ गए है। विगत् दिनों श्री विद्यार्थी के नेतृत्व में दलौदा थाने के लिए गांवों का संीमाकन भी किया था जिसके चलते नईआबादी, वायडीनगर, अफजलपुर और भावगढ़ थानों के कई गांव दलौदा थाने में कर दिए गए है। अब आज या कल में थानोें के टीआई को बदलने की भी चर्चाएं जोरों पर है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शहर थाना कोतवाली को एक बार फिर से नया टीआई मिलने की उम्मीद है। अभी एस एल बौरासी थाने की कमान संभाले हुए है। इसके अलावा लाइन में मौजूद दो टीआई नरेन्द्रसिंह यादव और आनन्दसिंह आजाद को भी फिर से थाने मिलने की उम्मी है। श्री यादव और श्री आजाद को पूर्व एसपी मनोजसिंह ने लाईन अटैच कर दिया था। वर्तमान में गरोठ थाना में टीआई नहीं है वंहां पर सब इंस्पेक्टर श्री हिरवे को थाने का प्रभार दिया हुआ है। विनोदसिंह कुशवाह के भी स्थानांनतरण की चर्चाएं चल रही है। थानों में जो भी फेरबदल होगा वो संभवतः आज या कल में सार्वजनिक हो जाएगा।

 

लगातार जारी है ऑपरेशन शिकंजा, शक्ति और सद्भावना अभियान
पुलिस अधिकक्ष तुषारकांत विद्यार्थी जब से मंदसौर आए हैं तब से कुछ न कुछ नया करने में लगे है। सबसे पहले मलचलों और आवार लड़कों पर लगाम लगाने के लिए ऑपरेशन शक्ति चालु किया और उसके बाद गुण्डों व असामाजिक तत्वों के लिए ऑपरेशन शिकंजा जो लगातार असामाजिक तत्वों पर कार्यवाही कर रहा है। इसके लिए श्री विद्यार्थी के नेतृत्व मे प्रतिदिन वाहनों की चैंकिंग का अभियान भी चलाया जा रहा है और 1 फरवरी से आपसी भाईचारा व अपराधों में कमी लाने के लिए मिशन सद्भावना भी प्रारंभ किया गया है जिसके अंतर्गत ग्रामीण स्तर पर सद्भावना समितियों को गठन किया जा रहा है। अपराधों पर नियंत्रण को लेकर शनिवार को जिला पुलिस कंट्रोल रूम पर जिला पुलिस अधिक्षक तुषारकांत विद्यार्थी ने पुलिस अधिकारियों की मिटिंग ली। समाचार लिखे जाने तक बैठक चल रही थी।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts