Breaking News

एक महिने से नाबालिग बिटियां गायब, फिर भी पुलिस ने नही की कार्यवाही 

विधायक सिसौदिया ने पत्रकारवार्ता में की जांच की मांग

मंदसौर। मंदसौर शहर की एक नाबालिग बिटियां को पुलिस विभाग का एक आरक्षक बहला-फुसलाकर भगा ले गया बिटियां के पिता ने इस घटना की सूचना 27 फरवरी 2019 को दे दी बावजुद इसके पुलिस अब तक इस मामलें में कोई कार्यवाही नही कर रही है और तो और बिटियां के पिता ने शंका के अाधार पर आरक्षक के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई है लेकिन फिर भी पुलिस ने एफआईआर में आरक्षक नही लिखा और ना ही उसके बारे में कुछ पता किया है जबकि आरक्षक पुलिस लाईन में पदस्थ बताया जा रहा है । जब रक्षक ही भक्षक बन जाएंगे तो आखिर जनता की रक्षा कैसे होगी इस गंभीर मामलें को लेकर प्रदेश के गृहमंत्री बाला बच्चन से चर्चा की है, मंदसौर पुलिस अधीक्षक विवेक अग्रवाल से भी चर्चा की है ।

यह बात वरिष्ठ विधायक यशपालसिंह सिसौदिया ने बुधवार को पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहीं । आपने कहा कि नाबालिग बिटियां के पिता ने बिती रात मुझे पूरी घटना और अपनी व्यथा से अवगत कराया है 27 फरवरी को नाबालिग बिटियां भण्डारें में शरीक होने के लिए गई थी लेकिन उसके बाद से घर नही लोटी, बिटियां के परिवार और पिता ने सब जगह उसे तलाशा लेकिन उसका कहीं भी पता नही लगा जिसके बाद उन्होने शाकासिंह निवासी सुखेड़ा जिला रतलाम के विरुध्द नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई है । श्री सिसौदिया ने कहा कि शाकासिंह पुलिस विभाग का आरक्षक बताया जा रहा है जो मंदसौर पुलिस लाईन में पदस्थ है । बावजुद इसके पुलिस उसे अब तक नही तलाश पाई है और ना ही  बिटियां के बारे मे कुछ पता लग पाया है ।

सिसौदिया ने कहा कि सरकार केवल वचन पत्र पर लगी है लेकिन बिटियां के पिता के दर्द पर किसी का ध्यान नही है एक नाबालिग बिटियां का पिता पिछले एक महिने से परेशान है बिटियां किस हालत में है, कहां है, जीवित भी है या नही बावजुद उसके पुलिस प्रशासन ने केवल खानापूर्ति करके अपने कर्तव्य की इतिश्री कर ली है, इस घटना से गरीब परिवार और बिटियां का पिता हताश हो गया है अपनी बेटी की चिंता में वह लगातार परेशान हो रहा है । श्री सिसौदिया ने कहा कि इस घटना को पुलिस प्रशासन को गंभीरता के साथ और प्राथमिकता के आधार पर लेना चाहिए क्योंकि यह घटना चिंता का विषय है । श्री सिसौदिया ने कहा कि इस गंभीर मामलें को लेकर प्रदेश के गृहमंत्री बालाबच्चन से विस्तार के साथ चर्चा हुई है उन्होने मामलें की जांच कराएें जाने के अादेश देने का आश्वासन दिया है । श्री सिसौदिया ने कहा कि बिटियां का गायब हो जाना, उसके बारे में अब तक कुछ पता नही लगना और ना ही आरोपी का पकड़ा जाना गंभीर विषय है पुलिस को तत्काल इस पर संज्ञान लेना चाहिए और कार्यवाही की जानी चाहिए ताकि बिटियां का पता लग सके ।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts