Breaking News

एन.सी.सी. का स्थापना दिवस मनाया गया

कार्यक्रम का शुभारंभ एन.सी.सी. सीनियर डिविजन के छात्र सैनिकों द्वारा गार्ड आॅफ आॅनर एवं अतिथियों द्वारा ध्वजारोहण कर किया गया। माॅ सरस्वती के चित्र पर अतिथियों द्वारा माल्यार्पण कर अतिथियों का स्वागत एन.सी.सी. इकाईयों के अधिकारियों और केडेटों ने किया। स्वागत उद्बोधन शासकीय महाविद्यालय के मैजर आर.के. व्यास ने दिया। विशेष अतिथि डाॅ. बी.आर. नलवाया ने उपस्थित केडेटों को संबोधित करते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। प्लाटून कमाण्डर एवं ए.एस.आई. श्री पाण्डे ने आपदा प्रबंधन की जानकारी केडेटों को दी।
मुख्य अतिथि कर्नल जयसिंह हाड़ा ने अपने उद्बोधन में एन.सी.सी. द्वारा प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष लाभों को रेखांकित किया इससे के छात्र एक दूसरे के संस्कृति को समझने में सक्षम होते है। उन्होंने केडेटों से अपील की कि हम सभी को राष्ट्रीय चरित्र का विकास करना चाहिए। मात्र सर्जिकल स्ट्राईक के समक्ष व्हाट्सअप, फेसबुक व इन्टरनेट पर देशभक्ति को नहीं दर्शाना चाहिए बल्कि देशवासियों को अपना स्वाभाविक चरित्र प्रस्तुत करना चाहिए जिसमें अनुशासन, ईमानदारी, सच्चाई, श्रमशीलता और देश के प्रति प्रत्येक नागरिक की स्वयं की जवाबदारी होना चाहिए। आजकल देशभक्ति केवल घर के अन्दर ही सिमट कर रह गई है। यदि आप अपने घर का कचरा सड़क पर फेंकते है, झूंठ बोलते है, संसाधनों का दुरूपयोग करते है तो वह भी भ्रष्टाचार में सम्मिलित है व ऐसा व्यक्ति कतई देशभक्त नहीं हो सकता है। एनसीसी राष्ट्रीय चरित्र के निर्माण में अपना बड़ा योगदान देती है। केडेटों को अपने माता-पिता गुरूजनों का सम्मान करना एवं अपने अच्छे बुरे का स्वयं फैसला करना सिखाती है। आपका चिंतन अलग हो सकता है किन्तु राष्ट्रीय चरित्र सभी का एकसा होना चाहिए। अंत में आपने एनसीसी दिवस की शुभकामनाएं और छात्रों के उज्जवल भविष्य की कामना की।
कार्यक्रम के अध्यक्ष कर्नल डाॅ. शक्तावत ने कहा कि यह युनिफार्म पहनना ही अपने आप में गर्व का विषय है, साथ ही आपकी जिम्मेदारी को भी बढ़ाती हैं। एकता और अनुशासन ही आपको अपने जीवन में सफलता दिला सकता है। अंत में आभार प्रदर्शन सेकेण्ड आफीसर विजयसिंह पुरावत ने किया और एनसीसी गान एनसीसी अधिकारी जितेन्द्र कनोजिया ने सम्पन्न कराया।
होमगार्ड के कमाण्डेड युवराजसिंह चैहान की टीम ने सभी छात्रों को सेल्फ डिफेंस का डेमोस्ट्रेशन एनसीसी के छात्रों के साथ मिलकर प्रस्तुत किया। जिसमें आपदाओं जैसे पानी में डूबने से बचाना, आग व भूकम्प से बचने के उपाय तथा सर्पदंश से बचने के तरीके और सांप को पकड़ने के तरीके का प्रदर्शन अतिथियों व छात्रों को सामने प्रस्तुत किया। इसमें एएसआई श्री पाण्डे, हवलदार कुरेशी, जवान विशाल जोशी आदि ने अपना सहयोग प्रदान किया।
इस अवसर पर अतिथियों द्वारा वृक्षारोपण किया गया। सभी उपस्थित केडेटों की विशाल रैली को अतिथियों ने हरी झण्डी दिखाकर नगर के प्रमुख मार्गों हेतु रवाना किया। उत्कृष्ट विधालय में रैली सम्पन्न हुई। गांधी चैराहे पर नगरपालिका अध्यक्ष श्री प्रहलाद बंधवार, मुख्य नगरपालिका अधिकारी श्री हिमांशु भट्ट, स्वास्थ्य समिति के सभापति श्री विनोद डगवार, जलकल समिति के सभापति श्री पुलकित पटवा एवं जिला योजना समिति के सदस्य श्री यशवंत भावसार और नगरपालिका के श्री जैन, श्री के.जी. उपाध्याय आदि ने एन.सी.सी. कैडेटों को स्वच्छ भारत मिशन की शपथ दिलवाई एवं नगरपालिका अध्यक्ष और सीएमओ ने स्वच्छ भारत मिशन के ग्रेडिंग सिस्टम की जानकारी एन.सी.सी. केडेटों को दी ताकि मंदसौर शहर स्वच्छ भारत मिशन में प्रथम स्थान पर आ सके। इस दौरान 21 एम.पी. बटालियन एन.सी.सी. के सुबेदार इमाम अली खान ने सभी अतिथियों का पुष्पगुच्छ देकर सम्मान किया। रैली का नेतृत्व एन.सी.सी. के सीनियर छात्र दीपक प्रजापत, रमन परमार, सौरभसिंह एवं अन्य छात्रों ने किया। रैली के दौरान एन.सी.सी. अधिकारी जितेन्द्र कनोजिया, शिवा गोस्वामी, धीरज शुक्ला एवं तरूण जैन आदि ने सहयोग प्रदान किया। कार्यक्रम के दौरान बाल विवाह की कुरूति को दूर करने में अहम् भूमिका निर्वाह हेतु एवं मध्यप्रदेश के ब्राण्ड एम्बेसेडर बनाये जाने पर एन.सी.सी. केडेट गोविन्द गरासिया का सम्मान कर्नल जयसिंह हाड़ा एवं नगरपालिका के अध्यक्ष श्री बंधवार ने शाल-श्रीफल देकर सम्मान किया। इस दौरान स्वच्छ भारत मिशन विशेष सहयोग देने हेतु एनसीसी अधिकारी विजय पुरावत, जितेन्द्र कनोजिया, धीरज शुक्ला का नगरपालिका अध्यक्ष श्री बंधवार ने शाल-श्रीफल व प्रशस्ती पत्र देकर सम्मान किया। स्वच्छता मिशन के लिये हस्ताक्षर अभियान का नेतृत्व युवा नेता विनय दुबेला और उनके साथियों के द्वारा सभी एनसीसी केडेटों से स्वच्छ भारत मिशन पर हस्ताक्षर करवाये।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts