Breaking News

ऐरा स्कूल के बाल वैज्ञानिक योगेश का राज्य स्तरीय चयन

अपशिष्ट प्रबंधन एवं मृत पशु समाधि प्रोजेक्ट किया प्रस्तुत

मन्दसौर। मंदसौर जिले के सीतामऊ विकासखण्ड के कयामपुर संकुल के एक रचनात्मक एवं नवाचारी विद्यालय शा.मा.वि. ऐरा के बाल-वैज्ञानिक योेगेश डांगी पिता मांगीलाल डांगी कक्षा 8वीं ने अपने विज्ञान मार्गदर्शक शिक्षक जगदीशचन्द्र गुप्ता के मार्गदर्शन में अपना विज्ञान मॉडल ‘‘अपशिष्ठ प्रबंधन’’ समाज की चुनौतियों का वैज्ञानिक समाधान विषय पर संभाग स्तरीय प्रतियोगिता में प्रस्तुत किया।

बाल वैज्ञानिक योगेश डांगी ने उज्जैन शिक्षा महाविद्यालय में निर्णायकों के समक्ष अपने मॉडल का प्रस्तुतिकरण करते हुए बताया कि थर्माकोल जैसे कई प्लास्टिक अपशिष्ट हमारे पर्यावरण को निरंतर प्रदूषित कर रहे है। जिसका उचित प्रबंधन करना अति आवश्यक है। योगेश डांगी ने अपने मॉडल में थर्माकोल का हाइड्रो कार्बन पेट्रोल के साथ अपघटन कर एक उपयोगी चिपकने वाले पदार्थ का निर्माण किया है। साथ ही मृत पशु जो अपशिष्ट के रूप में खुले स्थानों पर फेंक दिये जाते है उनके उचित प्रबंधन हेतु पशु समाधी की कल्पना प्रस्तुत की है।

संभाग स्तरीय प्रतियोगिता में इस मॉडल को सर्वश्रेष्ठ मॉडल के रूप में प्रथम स्थान प्राप्त हुआ। अब राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में 4 एवं 5 दिसम्बर 2018 को शिक्षा महाविद्यालय, जबलपुर में बाल वैज्ञानिक योगेश डांगी एवं शिक्षक जगदीशचन्द्र गुप्ता उज्जैन संभाग का प्रतिनिधित्व करेंगे।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts