Breaking News

ऑपरेशन शिकंजा : लक्ष्मण शाह दरवाजे पर लगी 40 से अधिक गुमटियों को हटाया गया

मंदसौर। शहर में अवैध अतिक्रमण के खिलाफ चल रहे अभियान के तहत बुधवार को नगर पालिका ने लक्ष्मण दरवाजा के समीप लगी गुमटियों को हटाया। नपा अमले के साथ सीएमओ सविता प्रधान गौड़, सीएसपी राकेश मोहन शुक्ल, शहर कोतवाली टीआई एवं यातायात पुलिस भी मौजूद थी। यहां पर लंबे समय से अतिक्रमण कर लगाई गई सभी गुमटियों को हटाया गया। सीएमओ का कहना है कि शहर में अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई लगातार जारी रहेगी।

जिला पुलिस प्रशासन एवं नपा द्वारा नगर में चलाया जा रहा ऑपरेशन शिकंजा के तहत् बुधवार को नेहरू बस स्टेण्ड के पीछे स्थित लक्ष्मण शाह दरवाजे के निकट अवैध रूप से रखी गई लगभग 40 से 5 अवैध गुमटियों को हटाने का कार्य किया गया। जिला पुलिस कप्तान तुषारकांत विद्यार्थी मुख्य नपाधिकारी सविता प्रधान की अगुवाई में चली गुमटी हटाओं अभियान का आंशिक विरोध भी कुछ महिलाओं द्वारा किया गया लेकिन महिला पुलिस बल के पहुंचने पर उनका विरोध ज्यादा देर तक नहीं चल पाया।

नगर पुलिस अधिक्षक राकेश मोहन शुक्ला के अनुसार इस क्षेत्र में लगातार अपराधों के बढ़ने की शिकायतें भी मिल रही थी। कुछ माह पूर्व इसी स्थान पर एक मासूम बालिका के साथ अमानवीय कृत्य की घटना भी हुई थी। इस स्थान पर निरंतर अवैध गुमटियों का उद्योग बढता जा रहा था। जिस पर अकंुश लगाने के लिए बुधवार को कार्यवाही की गई है जो निरंतर चलती रहेगी। ऑपरेशन शिकंजा के तहत विगत दिनों महू नीमच रोड़ पर 17 गुमटियों को जमीदौज करने के बाद 6 जनवरी 19 बुधवार को लगभग 45 गुमटियों को हटाकर कार्यवाही को जारी रखा।

महिला बोली जान दे दूंगी, गुमटी नहीं हटने दूंगी
गुमटियां हटाने की कार्रवाई के दौरान अयोध्या बस्ती निवासी कलाबाई ने नपा की कार्रवाई का विरोध किया। जेसीबी जब गुमटियां उठाकर ट्रॉली में रख रही थी। तब भीड़ के बीच कलाबाई यहां पहुंची और गुमटी के आगे खड़ी होकर विरोध किया और कहा कि जान दे दूगी लेकिन गुमटी नहीं हटने दूंगी। उनका कहना था कि गरीब वर्ग के लोग है। गुमटियां से ही परिवार चला रहे है। यहां सीएमओ ने पहुंचकर महिला को पहले समझाया और फिर चेतावनी दी।बाद में अमले ने अपना काम किया।कुछ दिव्यांग भी यहां पहुंचे तो उन्हें स्वत: हटाने की समझाईश के साथ छूट दी गई।

गुमटियों को ही बना दिया गोदाम
नपा ने जिन क्षेत्रों में गुमटियों को हटाने की कार्रवाई की। वह दिखने में बंद दिखी। हमेशा ही यह गुमटियां बंद ही दिखती है, लेकिन असल में यही गुमटियां जिन लोगों ने रखी है, उनके लिए गोदाम का काम कर रही है। इसमें सामान रखा जाता है। गोदाम के रुप में गुमटियों में सामान रखकर इनका उपयोग किया जा रहा था। बस स्टैंड, लक्ष्मण दरवाजा सहित इस क्षेत्रमें बड़ी संख्या में सरकारी जमीन पर यह अवैध गुमटियां रखी हुई थी। गुमटियों के खिलाफ शुरु हुई मुहिम यहां पहुंची तो यह पूरा क्षेत्रगुमटियों से मुक्त हो गया। नपा सीएमओ सविताप्रधान गौड़ नपा के पूरे अमले को साथ लेकर कार्रवाई के लिए पहुंची। इस दौरान एसपी तुषारकांत विद्यार्थी, सीएसपी राकेश मोहन शुक्ल सहित बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स भी तैनात रहा।

मुख्य नपाधिकारी सविता प्रधान के अनुसार नगर में 336 अवैध गुमटियां जो बंद पड़ी है। उन्हें चिन्हित कर लिया गया है। जिनको भी शीघ्र हटाया जायेंगा।

नपा व पुलिस ने साथ मिलकर लक्ष्मण दरवाजा क्षेत्र से मिलकर अवैध अतिक्रमण कर रखी गई गुमटियों को हटाया है। हम ऐसे स्थानों को भी चिन्हित कर रहे हैं, जहां पर अपराध पनप सकता है। ऑपरेशन शिंकजा के तहत भी कार्रवाई की जा रही है। -राकेश मोहन शुक्ला, सीएसपी, मंदसौर

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts