Breaking News

कांग्रेस द्वारा आचार संहिता के उल्लंघन पर की कार्रवार्ई, न्यायालय से जमानत पर छूटे

सीतामऊ। विस चुनाव की आचार संहिता का उल्लंघन कर बिना अनुमति केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली का पुतला दहन करने के मामले में पुलिस ने युकां जिलाध्यक्ष सहित कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया। यहां दोपहर में सभी को न्यायालय में पेश किया। न्यायाधीश ने सभी को जमानत पर रिहा कर दिया है।

टीआई बीएस गोरा ने बताया कि गुरुवार दोपहर 12 बजे लदूना चौराहे पर युवक कांग्रेस जिलाध्यक्ष कर्मवीरसिंह भाटी सहित कार्यकर्ताओं द्वारा पुतला दहन किया जा रहा था। आंदोलन बगैर अनुमति किया गया और चुुनाव की घोषणा होने के बाद कलेक्टर ने जिले में धारा 144 लागू कर दी है। इसके उल्लंघन के आरोप में व बगैर अनुमति धरना, प्रदर्शन, पुतला दहन, आंदोलन प्रतिबंधित होने से हमने कार्रवाई की हैं। जिलाध्यक्ष भाटी के साथ श्याम गुर्जर, दीपक सोलंकी, पुष्पेंद्रसिंह, जितेंद्रसिंह, भूपेंद्र, मंगू शेख, गजेंद्रसिंह, भगतसिंह, इंदरसिंह, लोकेंद्रसिंह को गिरफ्तार किया गया। भाटी व उनके साथियों की गिरफ्तारी के बाद विधायक हरदीपसिंह डंग, प्रदेश कांग्रेस सचिव ओमसिंह भाटी, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष गोविंदसिंह पंवार सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता एकत्र हो गए। बाद में सभी को न्यायालय में पेश किया गया। वहां से जमानत पर रिहा कर दिया गया।

आचार संहिता की आड़ में परेशान कर रहे

विधायक डंग ने कहा कि शासन के दबाव में प्रशासनिक अधिकारी आचार संहिता की आड़ में कांग्रेसजनों को परेशान कर रहे हैं। युवक कांग्रेस का आंदोलन देश भर में हुआ है। राजनीतिक दबाववश कार्रवाई दुर्भाग्यपूर्ण है। जिला युवक कांग्रेस अध्यक्ष कर्मवरीसिंह भाटी ने आरोप लगाया है कि शासन आचार संहिता का दुरुपयोग कर प्रशासन पर दबाव बनाकर प्रताड़ित कर रहा है लेकिन हम संघर्ष जारी रखेंगे।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts