Breaking News

कान्हा के जयकारों से गूंजे देवालय, जन्माष्टमी पर निकला विहिप का भव्य चल समारोह

ग्वाला गवली समाज ने भी निकाली कलशयात्रा : दिन में शोभायात्रा तो शाम को फोड़ी मटकी

मंदसौर। सोमवार सुबह से शहरभर में जन्माष्टमी की धूम शुरू हो गई थी। जन्माष्टमी के पर्व पर पषुपतिनाथ की नगरी दषपुर धाम पूरी तरह कृष्ण भक्ति में रमी हुई प्रतित हो रही थी। इधर, जन्माष्टमी एवं विहिप के स्थापना दिवस पर खानपुरा से सुबह एक भव्य शोभायात्रा शहर में प्रारंभ हुई, जो शाम तक गांधी चौराहा पहुंची। शाम होते ही शहर के विभिन्न चौक-चौराहों पर मटकी फोड़ का आयोजन हुआ, तो देर रात घड़ी के कांटे पे कांटा आते ही अनेक मंदिरों में लड्डू गोपाल की किलकारियां गूंज उठी।

सोमवार को विष्व हिंदू परिषद के तत्वावधान में निकले भव्य चला समारोह में विभिन्न झांकियां एवं अखाड़ों ने अपनी सहभागिता दर्ज की। चल समारोह सदर बाजार, मंडीगेट, धानमंडी, राजेन्द्रसूरी मार्ग बड़ा चौक, गणपति चौक, शुक्ला चौक, घंटाघर, भारतमाता चौराहा कालीदास मार्ग, नेहरू बस स्टैंड होते हुए गांधी चौराहे पहुंचा। यहां यात्रा एक धर्मसभा में परिवर्तित हुई।

जनमाष्टमी के अवसर पर ग्वाला गवली समाज ने भी एक भव्य कलश यात्रा निकाली जो नगर के विभिन्न मार्गो से निकली कलश यात्रा में जहॉ महिलाएॅ सिर पर कलश धारण किए हुए थी वहीं युवा डीजे की धुन पर थिरकते हुए शोभायात्रा में उत्साह पूर्वक शरीक हुए। जन्माष्टमी के दिन नगर के सभी वैष्णव देवालय भगवान कृष्ण के जयकारों से गूंजते रहे।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts