Breaking News

कालाखेत की देशी शराब की दुकान को लेकर प्रशासन, राजनितिक व सामाजिक संस्‍थाओं में तनातनी जारी है

क्षेत्र की महिलाओं समाज सेवियों व राजनितिक लोगों ने मिलकर कालाखेत की सालों पुरानी देशी शराब की दुकान पर मंगलवार को तालाबंदी कराने के बाद बुधवार को क्षेत्र में गोमूत्र छिड़ककर गंगाजल से शुद्धिकरण किया गया। गुरुवार को शराब दुकान बंद करने की मांग को लेकर जिला कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल कलेक्टर से मिलेगा। वहीं दुकान ठेकेदार ने एसपी को पत्र लिखकर आर्थिक नुकसान का हवाला देते हुए दुकान खुलवाने में मदद करने का आग्रह किया है। इधर जिला आबकारी अधिकारी अभी भी दुकान को नियमानुसार होने की बात कहते हुए क्षेत्रवासियों की शिकायत की तीन सदस्यीय समिति द्वारा निराकरण करने का बता रहे हैं।

आज कलेक्टर को देंगे ज्ञापन
जिला कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल गुरुवार दोपहर 12.30 बजे कलेक्टर से मिलेगा। इसमें नगरीय क्षेत्र में संचालित दुकानों को लेकर हो रही नियमों की अनदेखी की शिकायत की जाएगी। अन्य स्थानों पर चल रही शराब दुकानों को बंद करने की मांग की जाएगी। प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रकाश रातड़िया करेंगे। इसमें क्षेत्रीय नागरिक के साथ कांग्रेस पदाधिकारी शामिल रहेंगे।

5 करोड़ में लिया था लाइसेंस
संजीत रोड व नयापुरा क्षेत्र के लिए शराब दुकान ग्रुप संचालन का लाइसेंस मेसर्स अविनाश चलाना एंड कंपनी पार्टनर गंगादीन पटेल ने 5 करोड़ 7 लाख 62 हजार 784 रुपए में लिया है। इसमें नया दुकान का वार्षिक मूल्य एक करोड़, 70 लाख 78 हजार 226 रुपए है। उन्होंने एसपी को लिखकर कहा दुकान की तालाबंदी से आर्थिक नुकसान हो रहा है। ताला खुलवाने हेतु संबंधित अधिकारियों को निर्देश प्रदान करें।

ताला खुलते ही होगा प्रदर्शन
बुधवार को शुद्धिकरण के साथ ही घोषणा की कि अब इस देसी शराब दुकान को नहीं खुलने दिया जाएगा। आबकारी विभाग और प्रशासन ने दुकान को खोलने का प्रयास किया तो फिर से धरना आंदोलन, प्रदर्शन होगा। महिलाओं की अगुवाई में आंदोलन कर दुकान की तालाबंदी की जाएगी।

समिति कर चुकी है निराकरण
जिला आबाकारी अधिकारी डॉ. शादाब अहमद सिद्दीकी ने बताया दुकान 25 साल से इसी स्थान पर है और नियमों के तहत संचालित है। क्षेत्रवासियों ने कलेक्टर को शिकायत की थी। इसकी एसडीएम, एसडीओ पीडब्ल्यूडी व एसडीओ एक्साइज ने जांच कर स्थान सही पाया है। दुकान स्कूल के 50 मीटर दायरे से बाहर है। कुछ लोगों ने जबरिया दुकान पर ताला लगाया है। लाइसेंसधारी ने पुलिस को शिकायत की है। अब पुलिस अपना काम करेगी। दुकान से शासन का राजस्व भी जुड़ा है।

कालाखेत के रहवासी क्षेत्र और शासकीय स्कूलों के बीच संचालित शराब दुकान का विरोध बुधवार को भी जारी रहा। रामनवमी पर सुबह 9 बजे क्षेत्र की महिलाएं व अन्य रहवासी एकत्र हुए। शराब दुकान के सामने नारेबाजी करने के बाद क्षेत्र में सफाई की। नपा कर्मचारियों के सहयोग से सफाई के बाद करीब एक ट्राली कचरा समेटकर हटाया। इसके बाद लोगों ने क्षेत्र में गोमूत्र और गंगा जल छिड़ककर शुद्धिकरण किया। इस दौरान जिला कांग्रेस महामंत्री डॉ राघवेंद्रसिंह तोमर, पूर्व पार्षद खूबचंद ग्वाला, विहिप नेता गोपाल दीवान, समाजसेवी अशोक सैनी, मोतीलाल सेवलदासानी, तुलसीराम दीवान, मुकेश धनगर, दिनेश दीवान, श्रवण ग्वाला, मुन्नालाल ग्वाला, प्रकाश वर्मा, हीरालाल रियार मौजूद थे।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts