Breaking News

किसान आंदोलन का आज अंतिम दिन : नहीं हुई दूध, सब्जी की किल्लत, अब प्रशासन लेगा चैन की सांस

Hello MDS Android App

मंदसौर। 1 जून से प्रारंभ हुई दस दिवसीय किसान आंदोलन का आज अंतिम दिन है। किसान आंदोलन में इस बार किसी प्रकार कोई समस्या या परेशानी आम जनता को नहीं हुई। आंदोलन के दौरान भरपूर मात्रा में दूध व सब्जियों की उपलब्धता रही। पूरे आंदोलन के दौरान कहीं कोई अप्रिय घटना भी नहीं घटी। आज किसान आंदोलन का समापन है और कल से जिला व पुलिस प्रशासन चेन की सांस लेगा।

शुरूआती दिनों में मंडीयों में दिखा था असर
किसान आंदोलन का मुख्य असर कृषि उपज मंडियों मेें शुरूआती दिनों में देखने को मिला था। शुरू के पॉच दिनों तक जिला मुख्यालय सहित तहसील स्तरों की उपज मंडीयों मेें किसान अपनी उपज लेकर नहीं आ रहे थे लेकिन राहुल गांधी की आमसभा के बाद 7 जून से किसानों ने फिर से मंडीयों का रूख किया और भरपूर मात्रा में उपज मंडीयों में आने लगी।

नहीं हुई किल्लत
किसान आंदोलन के दौरान दैनिक उपयोग में आने वाली वस्तुओं की किल्लत देखने को नहीं मिली। लोगों को भरपूर मा़त्रा में दूध व सब्जियॉ मिली। हालांकि आंदोलन के दौरान सब्जियों के भाव में जरूर उछाल देखने को मिला था।

प्रशासन अब लेगा चेन की सांस
पिछले वर्ष किसान आंदोलन की स्थिति से वाकिफ हर कोई इस बार भी आंदोलन को लेकर भयभीत था। विशेषकर जिला व पुलिस प्रशासन किसी भी तरह की लापरवाही के मूड में नहीं दिखा। आंदोलन के पहले से ही प्रशासन ने पूरी तैयारी कर रखी थी कि कही कोई अप्रिय घटना न हो।

सब शांति से हो गया
विगत् 15 दिनों में लगातार बड़े कार्यक्रम में जिले में हो रहे है। जिससे प्रशासन तनाव में था। पहले मुख्यमंत्री का मंदसौर दौरा, फिर किसान आंदोलन प्रारंभ उसके बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की सभा और फिर देश की राजनीति के प्रमुख नाम शत्रुध्न सिन्हा, यशवतं सिन्हा और प्रवीण तोगडि़या की दलौदा में हुई आमसभा सबकुछ शांति से और आराम से निपट गया। कही कोई विशेष समस्या सामने नहीं आई। जिससे सबसे ज्यादा प्रसन्न जिला व पुलिस प्रशासन ही होगा।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *