Breaking News

किसान भाई आपस में न लड़े शांतिपूर्ण तरीके से रखे अपनी मांगे – सोमिल नाहटा

मंदसौर निप्र। सरकार के नीतियों और नियत के विरूद्ध आज आम आदमी और किसान इतना आक्रोशित नजर आ रहा है जिसकी जिम्मेदार भाजपा सरकार ही है और आंदोलन के उग्र होने के बाद भी भाजपा की प्रदेश सरकार पर कोई असर पड़ता नजर नहीं आ रहा है।
उक्त बात कहते हुए युवक कांगे्रस लोकसभा अध्यक्ष सोमिल नाहटा ने कहा कि जो आज हो रहा है वह प्रजातंत्र और खुफियातंत्र दोनों की नाकामी साबित कर रहा है। किसानों में सरकार की नीतियों को लेकर इतना बड़ा आक्रोश पैदा हो रहा है और इतना बड़ा जन आंदोलन होने वाला है यह बात सरकार को उसका खुफियातंत्र नहीं बता पाया। श्री नाहटा ने कहा कि ऐसा लग रहा है कुछ लोगा किसानों के आंदोलन को भटकाना चाहते है। आज व्यापारी वर्ग,छोटे व्यापारी,दुकानदार,ठेला व्यवसायी हर वर्ग ही दुखी है। श्री नाहटा ने कहा कि यदि यह आंदोलन सही दिशा में चलता है तो ही किसानों को इसका लाभ मिल पायेगा। लेकिन कुछ लोग इस आंदोलन को गलत दिशा देने व किसानों को भटकाने में लगे जिससे भाजपा सरकार की कमीयाॅ नहीं दिख पाये और किसानों को ही दोशी ठहरा दिया जाये।
श्री नाहटा ने कहा कि निश्चित रूप से शासन की नीतियों को लेकर हर वर्ग परेशान है लेकिन यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि आंदोलन ने इतना बड़ा रूप ले लिया है सरकार को भी किसानों को मांगों को हल जल्द ही निकालना चाहिए।
श्री नाहटा ने कहा कि सब्जीफेंकना दूध ढोलना अपने ही लोगों को नुकसान पहुॅचाना बिल्कुल सही नही है। किसान व आमजन को एकजुट होकर जनप्रतिनिधियों व सत्ताधारीयोें के विरूद्ध आंदोलन चलाना चाहिये न कि आपस में लड़कर। श्री नाहटा ने कहा कि आपस में लड़ने लूटपाट तोड़फोड़ करने से स्थिति तनावपूर्ण ही होगी न की कोई हल निकलेगा।
सोमिल नाहटा ने आंदोलनकारियों से अपील कि है वे शांतिपूर्ण ढंग से आंदोलन करें व आपस में झगड़े नहीं।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts