Breaking News

किसान भ्रमित न हो, नहीं दिए जा रहे कोई नोटिस – मदनलाल राठौर

मंदसौर। प्राथमिक कृषि साख सहकारी संस्थाओं के माध्यम से कृषकों को प्रतिवर्ष अल्पावधि कृषि ऋण खरीफ एवं रबी सीजन के लिए वितरण किया जाता हैं। संस्थाएं अपने  सदस्यों को नियमों के अनुरूप लिए ऋण के हिसाब-किताब की सूचना देती हैं। इस सूचना को कर्ज वसूली के नोटिस बताए जाकर किसानों को भ्रमित किया जा रहा हैं, जो कि अनुचित हैं। बैंक अध्यक्ष मदनलाल राठौर के द्वारा एक प्रेस नोट में दी गई जानकारी अनुसार खरीफ 2015 में सोयाबीन की फसल खराब हो जानें से शासन द्वारा कृषकों के अल्पावधि कृषि ऋण को तीन वर्षीय मध्यावधि ऋण में परिवर्तित कर दिया गया था जिसकी प्रथम किश्त दिसंबर 2016, द्वितीय किश्त दिसंबर 2017 एवं तृतीय किश्त दिसंबर 2018 में वसूली योग्य हैं। श्री राठौर  ने आगे बताया कि खरीफ 2017 में वितरित कृषि ऋण की ड्यू दिनांक पूर्ववत् 28 मार्च 2018 ही हैं। संस्था के कृषक सदस्य स्वयं अवगत हैं, कि उन्हें प्रतिवर्ष संस्था अपने ऋण का हिसाब किताब मांग सूचना पत्र के रूप में देती हैं, जो कि नोटिस नहीं होता हैं।

इसके साथ ही श्री राठौर ने बताया कि कृषक भावांतर योजना के लाभ को समझ चुके हैं, और पूर्णतः संतुष्ट हैं, क्योंकि उन्हंे प्रदेश के मुख्यमंत्री के द्वारा जिला मंदसौर के भानपुरा में विकास यात्रा के दौरान सहर्ष अवगत कराया गया था कि सोयाबीन में रू. 470/-, मंूगफली में रू. 730/-, मक्का में रू. 235/-, मंूग में रू. 1455/- एवं उड़द में रू. 2400/- प्रति क्विंटल अंतर की राशि का लाभ होगा। किसानों को हो रहे इस प्रकार के लाभ से अपने आप को किसान हितेशी बताने वाले कतिपय व्यक्ति प्रसन्न नहीं हैं। इसलिए उन्हें ड्यू-डेट की जानकारी भी नोटिस लग रही हैं। जबकि संस्थाआंे द्वारा अपने सदस्यों को अवगत कराया जाता हैं कि वे निर्धारित समय पर ऋण अदा कर दें ताकि उन्हें शून्य प्रतिशत् का लाभ प्राप्त हो और वे ब्याज से बच सके, क्योंकि अभी तक भाजपा की सरकार के पूर्व किसान अपने अल्पावधि कृषि ऋण पर 17 से 18 प्रतिशत् तक ब्याज का भार वहन करते थे। जब से भाजपा सरकार में कृषकों को शून्य प्रतिशत् पर अल्पावधि कृषि ऋण वितरित किया जा रहा हैं तब से संस्थाएं अपने कृषक सदस्यों को ड्यू डेट पर ऋण जमा करवाए जानें हेतु अवगत कराती हैं ताकि कृषक शून्य प्रतिशत् के लाभ को प्राप्त करते रहे।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts