Breaking News

कैबिनेट का फैसलाः किसानों के खाते में इस दिन आएगा पैसा, 55 लाख किसानों को होगा कर्ज माफ

भोपाल। मध्यप्रदेश में कमलनाथ सरकार की कैबिनेट बैठक में शनिवार को कई अहम प्रस्तावों को मंजूरी दे दी गई। कैबिनेट के मुताबिक मध्यप्रदेश के 55 लाख किसानों को कर्ज माफी का लाभ मिलने जा रहा है। यह पैसा 22 फरवरी से इनके खातों में पहुंचने लगेगा।

मध्यप्रदेश में शनिवार को कमलनाथ कैबिनेट की बैठक हुई। जिसमें कई प्रस्तावों को मंजूरी दे दी गई। इसस मौके पर कानून एवं जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा एवं खेल एवं युवक कल्याण मंत्री जीतू पटवारी ने कैबिनेट के फैसलों की जानकारी दी।

पटवारी ने बताया कि सबसे पहले लघु एवं सीमांत किसानों को लाभ दिया जाएगा। मध्यप्रदेश के 55 लाख किसानों को कर्ज माफी का लाभ मिलेगा। यह पैसा 22 फरवरी से किसानों के खातों में पहुंचाया जाएगा। इसके लिए कट ऑफ डेट 12 दिसम्बर तय की गई है। पहले 31 मार्च तक के कर्ज वालों को इसका लाभ दिया जाना था। अब 12 दिसंबर 2018 तक कर्ज लेने वाले किसानों को इसका लाभ दिया जाएगा। किसानों का 2 लाख तक कर्ज माफ किया जाएगा।

गौरतलब है कि कांग्रेस की सरकार ने चुनाव पूर्व वायदा किया था कि वे यदि सत्ता में आते हैं तो किसानों का कर्ज माफ कर देंगे। कमलनाथ ने शपथ ग्रहण वाले दिन ही किसानों की कर्ज माफी की फाइल पर साइन कर दिए थे।

सरकार की तरफ से जानकारी देते हुए मंत्री पटवारी ने कहा कि योजनाओं में हो रही लापरवाही के लिए विकासखंड के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ही जिम्मेदार होंगे।

पटवारी ने कहाकि 22 फरवरी से ऋण माफी शुरू हो जाएगी। यह अपने आप में सबसे बड़ी कर्ज माफी है। हरे,गुलाबी और सफेद रंग के होंगे कर्ज माफी के फार्म।

पटवारी ने बताया कि कन्यादान योजना की राशि भी बढ़ाकर 51 हजार रुपए कर दी गई।

इधर, मुख्यमंत्री ने एक बयान में कहा है कि मध्यप्रदेश में अक्टूबर में ग्लोबल इंपेस्टर्स समिट का आयोजन किया जाएगा। लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए यह निर्णय किया गया है।

फैसले एक नजर में

  • -55 लाख किसानों को ऋण माफी का लाभ मिलेगा।
  • -विकाससखंड के मुख्य कार्यपालन अधिकारी योजना के लिए जिम्मेदार।
  • 22 फरवरी से किसानों के खाते में पहुंचेंगे पैसे।
  • लघु और सीमांत किसानों को सबसे पहले लाभ।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts