Breaking News

क्‍या मन्‍दसौर मे स्‍थापित हो पायेगा मेगा फूडपार्क?

डायमंड ज्वेलर्स के ऊपर हुए हमले और शोरूम बंद करने के बाद आम आदमी के मन में यह प्रश्न पैदा हो रहा है कि बड़े बड़े सपने दिखाने वाला जिला प्रशासन एक तरफ औषधीय फसलों और फूड प्रोसेसिंगपार्क या मेगा फूड पार्क जैसी बड़ी-बड़ी योजनाएं मंदसौर में लाने की बात करता है और बड़े बड़े निर्माण के दावे करता है इन सब से आकर्षित होकर जब बड़े निवेशक मंदसौर में आएंगे तो क्या आने से पूर्व यहां के अपराधिक तत्वों की जानकारी नहीं लेंगे और आज जो अवैध वसूली का कारोबार मंदसौर में फल-फूल रहा है उसकी भनक यदि बड़े कारोबारियों को लग जाती है तो निश्चित ही जिला प्रशासन की बड़ी-बड़ी कोशिशें बेकार चली जाएंगी। सरकार ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में भले ही उद्योगपतियों और निवेशकों को लुभाने मे लगी है ! वही दुकानदार की रक्षा नही कर पा रही है !
मंदसौर जिले की दलोदा तहसील में 500 करोड़ रुपए की लागत वाले मेगा फूड पार्क स्थापित करने की स्वीकृति दी है। प्रदेश के लिए यह एक अहम उपलब्धि है, इस फूड पार्क की स्थापना का काम मेसर्स चेतक इंटरप्राइजेस लिमिटेड कंपनी द्वारा किया जाएगा।
इसमें करीब 500 करोड़ रुपए का निवेश होगा। इस परियोजना में डाबर, झण्डू, फार्मास्यूटिकल्स और पतंजलि जैसी बड़ी कंपनियों शामिल हैयह मंदसौर में आने वाली बड़ी योजनाओं के लिए बहुत घातक साबित हो सकता है इसके लिए डायमंड ज्वेलर्स के बहाने मंदसौर जिला SP एवं कलेक्टर को साथ ही बड़े-बड़े नेताओं को एक सुर में इन अपराधिक तत्वों पर सख्ती से नियंत्रण कर मंदसौर के विकास के लिए अपना योगदान देना चाहिए एवं अपने कर्तव्यों का पूर्ण ईमानदारी से निर्वहन करना चाहिए

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts