Breaking News

गांधीसागर में पर्यटन को लेकर नये आयाम खोजें जा रहे है

बोट क्लब के भवन निर्माण का कार्य प्रारंभ भी हो चुका है। उल्लखेनीय है कि गांधीसागर मेंं पर्यटको को आकर्षित करने के लिए पर्यटन विभाग ने प्रस्ताव तैयार कर शासन को भेजा था। बोट क्लब की गतिविधियां प्रारंभ होने के बाद पर्यटको को मनोरम दृश्य देखने को मिलेगा, इससे स्थानीय विकास होगा और राजस्व में वृद्धि होगी। बोट क्लब में मेहमानो के लिए क्वालिटी फूड अरेंजमेंट्स के साथ ही एलईडी, इंटरनेट और एसी जैसी लग्जरी सुविधाएं भी रहेगी।

दिसंबर तक शुरु हो जाएगी जल क्रीडाएं
बोट क्लब बनने के बाद यहां आने वाले पर्यटक क्रूज, मिनी कू्रज, वॉटर स्कूटर, वॉटर बोट, पेडल बोट, स्पीड बोट का आनंद ले सकेंगे। इसके साथ ही स्विमिंग पुल, कैफेटेरिया, बार, रेस्टोरेंट निर्माण का कार्य यहां जारी है। 22 कॉटेज का कार्य भी यहां लगभग पूर्णता की और है। गांधीसागर नंबर-2 क्षेत्र में बन रहे बोट क्लब भवन में टिकट काउंटर, पार्किंग, गार्डन, शौचालय सहित अन्य सुविधाएं दी जाएगी। विभाग के अधिकारियों के अनुसार दिसंबर-2017 तक इस क्षेत्र में जल संबंधी गतिविधियां शुरु हो जाएगी।

निजी कंपनियों को सुविधा मिलने से झील पर कब्जे का डर
जिला कांग्रेस उपाध्यक्ष महेंद्रसिंह गुर्जर, मार्केटिंग सोसायटी के अध्यक्ष कुलदीपसिंह, भंवरसिंह सहित कई लोगों का कहना है कि पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए निजी कंपनियों को बड़े पैमाने पर राहत दी जाएगी। इससे इस बात का डर भी है कि जलक्षेत्र पर निजी कंपनियों का कब्जा होगा। कंपनियों को जलक्षेत्र चुनने, किराया तय करने सहित मनोरम स्थल विकसित करने की छूट रहेगी। इससे जलक्षेत्र में कंपनियां मनमानी पूर्ण कदम उठा सकती हैं। फिलहाल पर्यटन विभाग के अधिकारियों का दावा है कि जल संबंधित सभी गतिविधियां विभाग के माध्यम से ही संचालित की जाएगी।

अधिकृत सर्वेयर की नौकाएं
जानकारी अनुसार पर्यटन विभाग ने इसके लिए कुछ शर्ते भी रखी हैं। इसके तहत इंडियन रजिस्टर ऑफ शिपिंग द्वारा अधिकृत सर्वेयर की नौकाएं ही उपयोग होगी। जल क्रीड़ा उपकरणों का प्रमाण पत्र होने पर ही कंपनी लाइसेंस के लिए आवेदन कर सकती है। इन शर्तों को अनिवार्य रूप से पालन करना होगा।

इनको भी किया गया चिन्हित
गांधीसागर के अलावा प्रदेश के बाणसागर, इंदिरा सागर बांध, औंकारेश्वर बांध, बरगी बांध, तवा बांध, मणीखेड़ा बांध, हलाली बांध, चांदपाठा बांध, चौरल बांध, गंगऊ बांध व बारना बांध को शामिल किया गया है।

शासन ने गांधीसागर क्षेत्र में बोट क्लब निर्माण के लिए नोटिफिकेशन जारी कर दिया है। इसके तहत यहां आने वाले पर्यटक वॉटर बोट, पेडल बोट, स्पीड बोट के माध्यम से जल क्रीडाओं का आनंद ले सकेंगे। बोट क्लब भवन निर्माण एवं अन्य सुविधाओं को लेकर कार्य प्रारंभ कर दिया है। इसके अलावा कैफेटेरिया, कॉटेज, रेस्टोरेंट, बार, स्विमिंग पुल के कार्य निर्माणाधीन है।- कमल पटेल, सब इंजीनियर, पर्यटन विकास निगम

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts