Breaking News

गोरखपुर-फूलपूर में सपा की जीत, योगी बोले- अति आत्मविश्वास ले डूबा, अखिलेश ने माया को कहा धन्यवाद

Hello MDS Android App
लखनऊ। समाजवादी पार्टी ने गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा उपचुनाव में भाजपा को करारा झटका देते हुए दोनों सीटें बड़े अंतर से जीत लीं। इन दोनों सीटों पर सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार शुरू से ही पीछे चल रहे थे।
योगी ने कहा समीक्षा करेंगे
गोरखपुर में हार पर प्रतिक्रिया जताते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हम हार के कारणों की समीक्षा करेंगे। उन्होंने कहा कि हम अति आत्मविश्वास के चलते चुनाव हार गये। उन्होंने कहा कि कहां कमी रह गयी हम इसकी समीक्षा करेंगे। उन्होंने कहा कि हम सपा और बसपा की दोस्ती नहीं समझ पाये। योगी ने कहा कि लोकसभा उपचुनाव के परिणाम हमारे लिये एक सबक हैं। इसकी समीक्षा आवश्यक है। उप चुनाव में स्थानीय मुद्दे हावी होते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि उपचुनाव के परिणाम अप्रत्याशित हैं और सपा बसपा की राजनीतिक सौदेबाजी देश के विकास को बाधित करने के लिये है।
अखिलेश ने मायावती को दिया धन्यवाद
उधर, समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि मैं मायावती जी को समर्थन के लिए धन्यवाद देता हूँ। मीडिया को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के गढ़ में सत्तारुढ़ पार्टी की हार दर्शाती है कि नौजवानों की अपेक्षाएं पूरी नहीं हुईं और कोई विकास नहीं हो रहा है। अखिलेश ने कहा कि ये लाखों जनता की जीत है। अखिलेश ने कहा कि जीएसटी और नोटबंदी ने लोगों के रोजगार छीन लिये। उन्होंने कहा कि जो भय का माहौल बनाया गया था उसे जनता ने खत्म करने का काम किया है। उन्होंने कहा कि ये गरीबों, मजदूरों की जीत है और योगी शासन से जनता पूरी तरह नाराज है। अखिलेश ने कहा कि यह राष्ट्रवाद का झूठा ढोंग करने वालों की करारी हार है। सपा अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा के बुरे दिन आ गये हैं क्योंकि प्रदेश और केंद्र की सरकार से जनता नाराज है।
केशव प्रसाद मौर्य भी स्तब्ध
फूलपुर के पूर्व सांसद और प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा, ‘हमें उम्मीद नहीं थी कि बसपा का वोट इस तरह से सपा की तरफ ट्रांसफर हो जाएगा। हम विश्लेषण करेंगे और हम ऐसी परिस्थितियों के लिए भी तैयारी करेंगे, जबकि सपा-बसपा और कांग्रेस साथ मिलकर लड़ सकते हैं।’
गोरखपुर और फूलपुर में भाजपा की करारी हार
इससे पहले समाजवादी पार्टी के नागेंद्र प्रताप सिंह पटेल ने भारतीय जनता पार्टी के कौशलेंद्र सिंह पटेल को 59,460 मतों के अंतर से हराकर फूलपुर लोकसभा उपचुनाव जीत लिया। सपा ने मतगणना के प्रथम दौर से ही भाजपा पर बढ़त बनाये रखी। यहां मुंडेरा मंडी में स्थित मतगणना स्थल पर आज शाम अंतिम नतीजे घोषित किये गये। सपा उम्मीदवार नागेंद्र प्रताप सिंह पटेल को 3,42,922 मत मिले, जबकि भाजपा के कौशलेंद्र सिंह पटेल को 2,83,462 मत प्राप्त हुए। वहीं कांग्रेस के उम्मीदवार मनीष मिश्र को 19,353 मत मिले और वह चौथे स्थान पर रहे, जबकि बाहुबली नेता अतीक अहमद को कुल 48,094 मत प्राप्त हुए। देवरिया जेल में बंद अतीक ने निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर यह चुनाव लड़ा था।
उल्लेखनीय है कि फूलपुर संसदीय सीट के तहत पांच विधानसभा क्षेत्र फूलपुर, फाफामऊ, सोरांव, इलाहाबाद पश्चिम और इलाहाबाद उत्तर आते हैं और इस लोकसभा क्षेत्र में कुल 19,63,543 मतदाताओं में से महज 7,29,126 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। गत 11 मार्च को हुए मतदान का प्रतिशत 37.13 प्रतिशत था। दिलचस्प है कि फूलपुर संसदीय सीट के लिए इस उपचुनाव में सत्तारूढ़ भाजपा ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी थी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह, नागरिक उड्डयन मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय, पर्यटन मंत्री रीता बहुगुणा जोशी आदि ने भाजपा उम्मीदवार के पक्ष में जमकर प्रचार किया था। गौरतलब है कि केशव प्रसाद मौर्य 2014 के आम चुनाव में फूलपुर लोकसभा सीट से 3 लाख से अधिक मतों से विजयी हुए थे। 2017 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों में भाजपा की जीत के बाद उन्हें प्रदेश के उप मुख्यमंत्री बनाए जाने के बाद उन्होंने फूलपुर सीट से त्यागपत्र दे दिया था जिससे यह सीट खाली हुई थी।
दूसरी ओर, मुख्यमंत्री योगी आदित्नयाथ के गृह क्षेत्र गोरखपुर की प्रतिष्ठित लोकसभा सीट पर सपा के प्रवीन निषाद ने अपने निकटतम प्रतिद्वन्द्वी भाजपा के उपेंद्र शुक्ला को हरा दिया। गोरखपुर और फूलपुर उपचुनाव के लिये मतदान गत 11 मार्च को हुआ था। इस दौरान क्रमशः 47.75 प्रतिशत और 37.39 फीसद वोट पड़े थे। गोरखपुर सीट के लिये 10 तथा फूलपुर सीट पर 22 उम्मीदवार मैदान में थे।

UP में बड़ा राजनीतिक घटनाक्रमः मायावती से उनके घर जाकर मिले अखिलेश

उत्तर प्रदेश की गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा उपचुनाव में जीत के बाद सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बसपा मुखिया मायावती के घर जाकर उनसे मुलाकात की। अखिलेश लखनऊ स्थित मायावती के आवास पर गये और वहां कुछ वक्त ठहरे। हालांकि इस मुलाकात के दौरान क्या बात हुई, इस बारे में तत्काल जानकारी नहीं मिली। लेकिन पार्टी के अंदरूनी सूत्रों के मुताबिक अखिलेश ने मायावती को भी उपचुनाव में जीत की बधाई दी।

साथ ही दोनों नेताओं ने भविष्य की सियासी तस्वीर और आगामी लोकसभा चुनाव में भाजपा का मुकाबला करने के लिये गठबंधन पर चर्चा की। इसके पूर्व, अखिलेश ने देर शाम यहां संवाददाताओं से बातचीत में उपचुनाव परिणामों के लिये जनता को बधाई देते कहा कि वह सबसे पहले बसपा नेता मायावती का बहुत-बहुत धन्यवाद देते हैं कि उन्होंने देश की महत्वपूर्ण लड़ाई में सपा का सहयोग और समर्थन किया। उन्होंने कहा कि उपचुनाव परिणाम केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार और राज्य की योगी आदित्यनाथ सरकार के खिलाफ ‘जनादेश‘ है। गोरखपुर मुख्यमंत्री योगी का क्षेत्र हैं जबकि फूलपुर उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य का क्षेत्र है। अगर उन क्षेत्रों की जनता में इतनी नाराजगी है तो सोचिए आने वाले चुनाव में क्या होगा।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *