Breaking News

गौ हत्या व अवैध गौ तस्करी के विरोध में विश्व हिन्दु परिषद द्वारा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के नाम दिया ज्ञापन

मंदसौर। मध्यप्रदेश गौवंश वध अधिनियम 2011 (सशोधित) कानून का पालन नहीं किये जाने से लगातार हो रही गौवंश की तस्करी, अवैध परिवहन एवं हिन्दूओं की धार्मिक भावनाऐं भड़काये जाने के आशय से की जाने वाली गौमाता की हत्याओं के अपराधों पर प्रतिबंध लगाये जाने एवं के संबंध में विश्व हिन्दु परिषद बजरंग दल द्वारा प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजंिसह चौहान के नाम संपूर्ण प्रांत के साथ पूरे मंदसौर जिले में एक साथ सभी प्रखण्डो पशुपतिनाथ प्रखण्ड, महाराणा प्रताप प्रखण्ड, रेवास देवड़ा, मल्हारगढ प्रखण्ड, दलौदा प्रखण्ड, डिंगाव प्रखण्ड, नाहरगढ प्रखण्ड, बुढा प्रखण्ड तथा सीतामऊ प्रखण्ड में एक ज्ञापन अनुविभागीय अधिकारी/तहसीलदार महोदय को दिया गया।

ज्ञापन में उल्लेख किया गया कि –

1) मन्दसौर में पिछले वर्ष दिनांक 30-31 मई 2018 की मध्य रात्रि में ग्राम सिहोर थाना अफजलपुर में मुंशी खाँ के खेत पर गौवंश काटते हुए आरोपियों को रंगे हाथ पकड़ा गया एवं 11 गौवंश खेत पर ही जीवित बरामद किये गये जबकि उस दिन मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री जी का मन्दसौर में ही प्रवास एवं रात्रि विश्राम था।

2) गरोठ जिले के शामगढ़ थाना क्षैत्र कि रूनिजा चौकी के रूनिजा गाँव में विगत 4 जून को दो गौवंश के कटे हुए सिर बरामद हुए एवं ग्रामवासीयों ने जब उक्त घटना की सूचना पुलिस को दी तब पुलिस ने रिर्पोट लिखने की बजाए उन्ही लोगों के साथ बेरहमी से मारपीट की जो षिकायत करने गए थे।

3) धार जिले के मनावर क्षैत्र के अमझेरा (दसई) गाँव में विगत 9 मई 2018 को गौ तस्करों द्वारा ले जाया जा रहा गौवंष से भरा ट्रक पलटी खा जाने से मौके पर ही 21 गौवंष की मृत्यु हो गई। उक्त वाहन में 37 गौवंष ठुस-ठुस कर भरे गये थे। उक्त घटना के संबंध में बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने जब प्रषासन पर दबाव बनाया तब पुलिस के द्वारा रिर्पोट दर्ज की गई।

4) धार जिले के डही ग्राम से होकर आलीराजपुर के ककराना ग्राम के पास नर्मदा नदी से पार करवाकर एक बार में 50 से अधिक गौवंष रात्रि में नन्दुरवार महाराष्ट्र पहुँचाया जाता है जिसके लिये एक बड़ी नाव पर डोंम बनाया गया है। एक राज्य से दूसरे राज्य में गौवंष की तस्करी के इस बड़े अपराध में कुरैषी नाम का रिटायर्ड पुलिसकर्मी संलग्न है।

5) खण्डवा जिले के हरसुद क्षैत्र में नर्मदा नगर थाना प्रभारी अमर सिंह बड़ैले द्वारा बड़ी मात्रा में गौवंष से भरे वाहनों की अवैध निकासी करवाई जाती है जो सतवास से होकर पुनासा एवं खण्डवा के लिये जाते हैं इसी प्रकार देषगाँव चौकी के प्रभारी टिकमचंद षिंदे द्वारा भी गौवंष के अवैध परिवहन में सहयोग किया जाता है। जब कार्यकर्ताओं के द्वारा गौवंष के अवैध परिवहन को रोकने का प्रयास किया जाता है तो उक्त पुलिस अधिकारी उन्हे झूठे अपराधिक मामलों में फँसाए जाने की धमकी देतें है।

6) 28 जुलाई 2017 को खण्डवा रोड़ पर सिंमरोल से आगे इन्दौर से जा रहे कावड़ीयों ने स्थानीय बजरंग दल के कार्यकर्ताओं की सहायता से गायों से भरा एक पूरा कन्टेनर रोकने का सराहनीय कार्य किया जिसमें 150 से अधिक गौवंष एक साथ भरे हुए थे। इन गौवंषों को नषीले इंजेक्षन देकर कन्टेनर में ठुस-ठुस कर भरा गया था।

7) 14 अक्टोबर 2014 बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने महू के ए. बी. रोड़ पर एक आयसर गाड़ी जप्त करवाई जिसमें एक बेल मृत अवस्था में एवं 22 बछड़े घायल अवस्था में बरामद हुए जिन्हे नषीले इन्जेक्षन देकर वध के लिये ले जाया जा रहा था।

8) विगत 6 जुलाई 2017 को चोरल के पास एक दर्दनाक हादसा हुआ जिसमें 15 से अधिक गौवंष की मौत हो गई। एक आयसर गाड़ी जिसमंे 50 से अधिक गौवंष को रस्सीयों से बांधकर एक के उपर एक जमाकर क्रुरतापूर्वक भरा गया था। उक्त वाहन का संतुलन बिगड़ जाने के कारण वाहन पलटी खा गया। ऐसी सैंकड़ो घटनाऐ प्रतिमाह मालवा प्रांत में घट रही हैं।

9) रतलाम के पास जावरा से लगे हुए आलोट मे विगत दो वर्षों से गौवंष के मेले पर प्रतिबंध लगा हुआ था परंतु दिनांक 10 मई 2018 को स्थानीय विधायक ने फिर से मेला प्रारम्भ करवा दिया और एस. डी. एम. पर दबाव डालकर पशु परिवहन की अनुमती करवाई एवं लगभग 4000 गौवंष को रतलाम की सिमा से बाहर भेजा गया। एस. डी. एम., तहसीलदार, थाना प्रभारी ने फालो करते हुऐ गाड़ीयों को रतलाम जिले की सीमा से बाहर क्यों छोड़ा यह विचारणीय है ? इसी प्रकार नामली के फोरलेन सड़क पर गौवंष से भरे 100 वाहन – रतलाम में 50 एवं जावरा में 50, वाहन के अवैध परिवहन की सूचना बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने प्रषासन को दी जिसे प्रषासन ने परमीट वाहन होने की असत्य बात कहकर अपराधीयों को बचाया और बदले में सूचना देने वाले 7 कार्यकर्ताओं पर ही झुठा मुकदमा दर्ज कर दिया।

10) इन्दौर में चंदन नगर थाना क्षैत्र में दिनांक 14 मई 2017 को गौमाता के बछड़े की गर्दन काटकर विषेष सम्प्रदाय के लोगों ने दस्तुर गार्डन के सामने सार्वजनिक स्थान पर पटक दिया इसी प्रकार दिनांक 13 जून 2018 को सांवेर के पास धरमपुरी के राजौदा गाँव में भी विषेष सम्प्रदाय के लोगों ने दो गौमाता की धारदार हथियारों से हत्या कर दी एवं उनके मृत शरीर को सार्वजनिक स्थान पर फेंक दिया जिसके कारण तनाव की स्थिति पैदा हो गई।

11) इन्दौर के चंदन नगर, खजराना, बम्बई बाजार, आजाद नगर, जुना रिसाला एवं बड़वानी चौकी क्षैत्र में विषेष सम्प्रदाय के लोगों द्वारा खुलेआम गौमांस का अवैध रूप से विक्रय किया जाता है।

12) इन्दौर को स्मार्ट सिटी बनाने के नाम पर लगभग 20 हजार गौमाता को शहर से बाहर ले जाया गया है एवं प्रषासन ने ऐसा बताया कि उक्त गौवंष गौषालाओं में सुरक्षित है परन्तु सत्यता यह है कि अधिकांष गौवंष कसाईयों को विक्रय किया गया है एवं बचे हुए गौवंष को इन्दौर से दूर ले जा कर सड़कों पर मरने के लिये छोड़ दिया गया है और आज भी नगर निगम के कर्मचारी स्मार्ट सिटी के नाम पर गौ पालकों के परिवारों पर अत्याचार कर रहे हैं। जिन लोगों ने प्रषासन की अनुमती से घर में एक गाय पाल रखी है उसे बाउंसरों की मदद से हटाया जा रहा है।

13) पिछले वर्ष शाजापुर के उकावदा गाँव में एक साथ 35-40 मृत गौवंष के अवषेष बरामद हुए थे जिन्हे विषेष सम्प्रदाय के लोगों ने मांस प्राप्त करने के बाद गाँव में ही छोड़ दिया था।
महोदय इस ज्ञापन में जिन घटनाओं का उल्लेख किया गया है उन सभी घटनाओं के संबंध में प्रमाणिक तथ्यों के आधार पर स्थानीय पुलिस थानों में एफ. आई. आर. दर्ज करवाई गई है।

उक्त घटनाओं के अतिरिक्त भी अनेक घटनाऐं और हैं जो प्रषासन की जानकारी में है। गौवंष की अवैध तस्करी एवं परिवहन को विषेष सम्प्रदाय के लोगों ने जीवन यापन का साधन बना लिया है जबकि उन्हे अच्छी तरह से ज्ञात है कि बहुसंख्यक हिन्दू समाज गाय को माता के रूप में पूजता है एवं गौमाता की सेवा करना हिन्दु अपना धर्म मानता है। फिर भी विषेष सम्प्रदाय के लोग हिन्दूओं की धार्मिक भावनाओं को आहत करने का घ्रणित कार्य कर रहें हैं। कुछ पुलिसकर्मीयों द्वारा ऐसे अपराधों में दोषी लोगों का सहयोग किया जाता है, उनके विरूद्ध रिर्पोट दर्ज करने में लापरवाही की जाती हैं और इतना ही नहीं अनेक बार गौरक्षकों पर ही पर ही झुठी कार्यवाही कर दी जाती हैं। विगत दो वर्षों में हिन्दू संगठनों के कार्यकर्ताओं की सूचना पर ही प्रषासन ने गौवंष के अवैध परिवहन को रोकने का प्रयास कार्य किया है परंतु पुलिस ने ऐसे किसी भी मामले में स्वप्रेरणा से कोई कार्यवाही नहीं की है।
मध्यप्रदेष के घोंसला, कानवन, राजगढ़, सुदरेल (धार), सनावद खरगोन, मक्सी, शाजापुर, खण्डवा, नेपानगर, मंदसौर के सुवासरा, शामगढ़, रतलाम के आलोट ताल एवं इन्दौर के पास देपालपुर में किसानों के नाम पर लगने वाली गौवंष की मण्डीया बंद करें। ये वो मण्डीयां हैं जहां से हजारांे की संख्या में गौवंष को तस्कर ले जाते हैं।

अतः आपसे आग्रह है कि बहुसंख्यक हिन्दू समाज की धार्मिक भावनाओं को ध्यान में रखते हुए गौमाता के अवैध परिवहन, तस्करी एवं आये दिन होने वाली गौमाता की निर्मम हत्याओं के मामलों पर प्रतिबंध लगाने हेतु गौवंष की रक्षा के कानून का कठोरता के साथ पालन करवाने का कष्ट करें, साथ ही ऐसे थाना क्षैत्र जिसमें गौवंष की अवैध निकासी या गौहत्या होती है ऐसे थाना प्रभारी को निलंबित करें एवं गौ तस्करी में उपयोग में आने वाले वाहनों को राजसात करने की कार्यवाही करें अन्यथा हिन्दू समाज को उग्र आन्दोलन करने के लिए बाध्य होना पड़ेगा जिसके समस्त परिणामों की जिम्मेदारी राज्य शासन एवं प्रषासन की होगी।

ज्ञापन देने में विश्व हिन्दु परिषद के प्रांत गौ रक्षा प्रमुख सोहन विश्वकर्मा, प्रांत सह विशेष सम्पर्क प्रमुख गुरूचरण बग्गा, विभाग मंत्री भगवानदास ज्ञानानी, विभाग सह संयोजक चेतन बैरागी, जिलाा संगठन मंत्री मोहन राठौर, जिलाध्यक्ष प्रकाश पालीवाल, जिला उपाध्यक्ष प्रदीप चौधरी, जिला मंत्री जितेन्द्र राठौर, जिला विशेष सम्पर्क प्रमुख हरीश टेलर, जिला अखाड़ा प्रमुख विनोद निनामा, वैभव मराठा जिला विद्यार्थी प्रमुख, नगर संयोजक विक्की गोसर, पशुपतिनाथ प्रखण्ड मंत्री नेतिक ब्रिजवानी, प्रखण्ड संयोजक शंकर शर्मा, सह संयोजक अनिल वर्मा, दीपक जेसवार, महाराणा प्रताप प्रखण्ड अध्यक्ष महेन्द्र यादव, कमलेश माली, शुभम माली, प्रकाश कुमावत, जितेन्द्रसिंह परिहार, अर्जुन धनगर, राहुल धनगर, शुभम माली, राजेश माली, सुनील , रूपेन्द्र राठौर, यशवंत बागडी, कपिल शर्मा,  जितु खटीक, शेलु सिंह गंधार, समरथ, अर्जुन दिलावरा, पवन दिलावरा, ईश्वर दिलावरा, विनोद, कैलाश, भूरीया दिलावरा, सुखदेव, परमानंद कुमावत, राध्ेाश्याम मालवीय, विशाल, ओमप्रकाश, ओमप्रकाश धनगर, अर्जुन सांकरीया, समरथ सांकरीया, संजय मीणा, धर्मेन्द्र, तथा काफी तादाद में विश्व हिन्दु परिषद बजरंग दल के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे। उक्त जानकारी विश्व हिन्दु परिषद जिला विशेष सम्पर्क प्रमुख हरीश टेलर ने दी।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts