Breaking News

ग्राम दावतखेड़ी में शासकीय जमीनों को हेराफेरी कर बेच रहे है भूमाफियां

शासन को लगा रहे है चुना, जनता को कर रहे है गुमराह

ग्राम बुलगड़ी के ग्रामवासियों ने कार्यवाही की मांग को लेकर लिखे पत्र

मन्दसौर। शासकीय जमीनों की जहां हेराफेरी कर हड़पने का और उन्हें बेचने का मामला आये दिन सामने आता है। मंदसौर शहर में भी तेलिया तालाब को छोटा कर इसकी जमीन को जहां कम करने का मामला इन दिनों सुर्खियों बना हुआ है वहीं समीप ही ग्राम पंचायत दाउदखेड़ी की शासकीय भूमि दौलतपुरा में सड़क के किनारे लगी हुई इसे अपना बताकर भूमाफिया बेच रहे है और जमकर शासन और जनता को चुना लगा रहे है। पूर्व में भी रेवास देवड़ा मार्ग पर जमीन अवैध रूप से कब्जा बताकर बेचने का मामला आया था और वापस रातोरात ये मुनाफा खोर प्लॉट काट रहे है।

ग्राम बुलगढ़ी के युसुफ पिता माले खां, अमजद पिता नाहर खां, फरीद पिता अजीज खां, शब्बीर पिता चांद खां आदि ग्रामवासियों ने एक बयान में बताया कि जिला मुख्यालय से 5 किमी दूर ग्राम दाउदखेडी सीमा दौलतपुरा मुख्यमार्ग जहाँ शासकीय छात्रावास बना हुआ हैं जिसके आसपास रोड़ किनारे लगी हुई सर्वेे क्र. 147 एवं अन्य जो सर्वे कि भूमियां है जो शासकीय है इन भूमियों पर भू-माफियाओं और इसी क्षेत्र के आपराधिक किस्म व्यक्तियों द्वारा मिलीभगत करके बेचा जा रहा हैं। बेशकिमती जमीन को अपनी बताकर खुलेआम आठ-आठ लाख रूपये में विक्रय किया जा रहा है और शासकीय भूमि पर रातो-रात कार्य चलाकर बाउन्ड्री बनाई जा रही है। इस शासकीय भूमि को अपनी बताकर भूरे खां पिता नूर खां, असलम पिता भूरे खां, जाफर पिता भूरे खां  इलियास पिता भूरे खां सभी निवासी बुलगड़ी के द्वारा अवैध रूप से भूखण्डों को अपना बताकर ब्रिक्रय  जा रहा है।

ग्रामवासियों ने बताया कि पूर्व में भी उक्त कथित लोगोे द्वारा जमीन को बेचने का मामला समने आया था जिनके प्रकरण न्यायालय में वर्तमान में विचाराधीन हैं। इन सौदो पर पूर्व में भी आरोप प्रत्यारोप लगे थे। उक्त कथित लोग आपराधिक गतिविधियों में संलग्न है और इनके खिलाफ कई मुकदमे चल रहे है यही नहीं ये लोग जिला बदर भी हो चूके है और इस रेवास-देवड़ा मार्ग पर कई जमीनो पर कब्जा कर रखा है और अपनी रसुक के चलते यह लोग हर किसी से दादागिरी करते और क्षेत्र के लोग भी इनसे भयभित हैं । उक्त लोगों ने भूमाफिया के साथ मिलकर दाउदखेड़ी मार्ग पर स्थित शासकीय जमीनों को बेचकर मोटा लाभ कमा रहे है और शासन को और जनता को चूना लगा रहे जबकि उक्त आपराधिक किस्म के लोग न तो ग्राम पंचायत के किसी पद पर है और न नहीं जमीन का मालिकाना हक इनके पास है फिर भी कागजों में कारस्तानी कर जमीन को हेरा  फेरी करने से बाज नहीं आ रहे हैं। ग्रामवासियों ने पूर्व में आवाज उठाई थी और शासन ने यहां से अतिक्रमण हटाया था। और फिर ये लोग जमीन को बेच रहे है। जिन लोगों को यह भूखण्ड बेच रहे है और बाउण्ड्रीवाल बना रहे है उन्हें तुरंत तुड़वाया जाये। यहां पूर्व में भी जो सरपंच और पंच रहे है पूर्व में जो जमीन बेची है उनके खिलाफ 420 के मुकदमे चल रहे है।

ग्रामवासियों ने सांसद, विधायक, जिला कलेक्टर, जिला पुलिस अधीक्षक एवं तहसीलदार को पत्र लिखकर मांग की है कि तत्काल उक्त लोगों के खिलाफ मामला पंजीबद्ध कर दण्डित कार्यवाही की जावे वरना शासकीय जमीन को पूरी तरह से अफरा तफरी कर ओने-पोने दाम में बैचकर शासन को चूना लगा देगें । इस शासकीय भूमि के अफरा-तफरी के काम में जांच की जावे तों मौजा पटवारी और ग्राम पंचायत के सरपंच भी शामिल है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts