चारों ओर ही बप्पा की धूम : घर – घर और सार्वजनिक पांडालों में विराजें विघ्नहर्ता भगवान गणेश

Hello MDS Android App

दस दिनों तक मनेगा उत्सव होगे, विभिन्न आयोजन

मंदसौर। गुरूवार को नगर सहित जिलेभर में बड़ी ही धूमधाम के साथ गणेश चतुर्थी का पर्व मनाया गया। श्रद्धालुओं ने घरों और सार्वजनिक पंडालों में गणपति की प्रतिमा की स्थापना की। उल्लेखनीय है कि भाद्रपद की शुक्लपक्ष की चतुर्थी को भगवान गणेश का जन्म हुआ था इस दिन से देश भर में दस दिवसीय गणेशोत्सव मनाया जाता है। इस बार भक्तों ने पर्यावरण संरक्षण के लिए इको फ्रैंडली बप्पा अपने हाथों से ही बनाए। पर्यावरण को बचाने के लिए इस बार नगर में कई स्थानों पर मिट्टी के गणेश बनाने का प्रशिक्षण समाजसेवी संस्थाओं ने दिया था। अन्य भक्तों ने भी इस बार बाजार से मिट्टी की गणेश प्रतिमा ही ज्यादा खरीदी।

 

सुबह से ही लगी भक्तो की भीड़
गणपति बप्पा को अपने घर ले जानेे के लिए सुबह से भक्तों की भीड़ बाजारों में दिखने लगी थी। कोई अपने बप्पा को बाईक पर ले जा रहा था तो कोई लोडिंग वाहन में। डीजे की थाप युवा नृत्य करते हुए गणेश प्रतिमाओं को पांडाल तक उत्साह से ले जा रहे थे।

 

200 से अधिक सार्वजनिक पांडाल
मंदसौर में गणेशोत्सव के लिए छोटे बड़े 200 से अधिक गणेश पांडाल बनाए गए है। जहॉ पर गुरूवार को विधि विधान के साथ विध्नहर्ता को विराजित किया गया। अब 10 दिनों तक भक्त भगवान गणेश की पूजा अर्चना करेगे।

 

सुख समृद्धि का होता है वास
रिद्धि सिद्धि के दाता भगवान श्रीगणेश की स्थापना करने से घर में सुख समृद्धि का वास होता है। हिन्दू धर्म में भगवान गणेश का विशेष स्थान है। कोई भी पूजा, हवन या मांगलिक कार्य उनकी स्तुति के बिना अधूरा है। हिन्दुओं में गणेश वंदना के साथ ही किसी नए काम की शुरुआत होती है। नगर सहित जिले में सिर्फ चतुर्थी के दिन ही नहीं बल्कि भगवान गणेश का जन्म उत्सव पूरे 10 दिन यानी कि अनंत चतुर्दशी तक मनाया जाता है और इस दिन मंदसौर में एक भव्य चल समारोह भी निकाला जाता है। जिसमें विभिन्न प्रकार की आर्कषक झांकिया भी सम्मिलित होती है।

 

प्रकृति मित्र श्री गणेश की हुई स्थापना
सरस्वती विहार शैक्षिक संस्थान द्वारा संचालित ईकाई सरस्वती विद्या मंदिर सीबीएसई विद्यालय, सरस्वती विद्या मंदिर आवासीय विद्यालय तथा छात्रावास के भैया बहिनों द्वारा प्रकृति मित्र मिट्टी से निर्मित श्री गणेश की प्रतिमा का गणेश चतुर्थी के शुभ प्रसंग पर विधि विधान व वैदिक मंत्रोच्चार द्वारा स्थापित किया। इस अवसर पर भारतीय आदर्श शिक्षण समिति के उपाध्यक्ष राजदीप परवाल, व्यवस्थापक प्रमोद अरवन्देकर, सीबीएसई विद्यालय के प्राचार्य राघवेन्द्र देराश्री, छात्रावास अधीक्षक भारतसिंह बोराना, आवासीय विद्यालय के प्राचार्य महेश वप्ता, भैया-बहिन व आचार्य परिवार उपस्थित थे।

गणेशजी का नगर भ्रमण जुलूस निकला
परम्परानुसार श्री चारभुजा नाथ मंदिर से बग्घी मे विराजमान गजानंद श्री गणेशजी का ढोल- ढमाके व बैण्ड बाजे के साथ नगर के प्रमुख मार्गो से होता हुआ जुलूस निकला जिसका जगह-जगह स्वागत हुआ। जुलूस मे नगर के सामाजिक, धार्मिक व गणमान्य नागरिक शरिक हुए।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *