Breaking News

चुनावी वर्ष में फिर शिवना पर राजनीति ठीक नहीं – कुमावत

14 वर्षो में क्यों नहीं हो पाई शिवना शुद्ध, इसका जवाब चाहती हैं जनता

मंदसौर। नगर की जलप्रदायनी मां शिवना नदी मंदसौर नगर वासियों के लिये न केवल जलापूर्ति का साधन है बल्कि श्रद्धा व आस्था का केन्द्र भी है। लेकिन विगत 14 वर्षो से शिवना नदी राजनीति का केन्द्र बन गई है।

उक्त बात कहते हुए युवा इंटक जिलाध्यक्ष सुरेन्द्र कुमावत ने बताया कि विगत्14 वर्षो से प्रदेश में भाजपा की सरकार व मंदसौर में भी भाजपा के जनप्रतिनिधि काबिज है। प्रत्येक विधानसभा चुनाव में भाजपा ने माँ शिवना को शुद्ध करने का वादा किया लेकिन विगत 14 वर्षो में न तो प्रदेश के मुखिया और न ही स्थानीय भाजपा के जनप्रतिनिधि शिवना को शुद्ध कर पायें है।

यह वर्ष चूंकि चुनावी वर्ष है तो फिर से शिवना को शुद्ध करने की बात कहकर करोड़ो का बजट बनाया जा रहा है लेकिन वास्तविकता के धरातल पर स्थिति कुछ और ही हो जाती हैं। यदि भाजपा के जनप्रतिनिधि वाकई में शिवना को शुद्ध करना चाहते थे तो फिर वे 14 वर्षो में भी शिवना को क्यों शुद्ध नहीं कर पाये, यह एक बड़ा प्रश्न है जिसका उत्तर स्थानीय जनप्रतिनिधि ही दे सकते है। श्री कुमावत ने कहा कि शिवना में जलकुंभी न उत्पन्न हो इसके लिये तक स्थाई निराकरण नहीं किया गया। श्री कुमावत ने कहा कि डेढ महीने पूर्व प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की टीम शिवना की जांच कर गई थी, उसकी रिपोर्ट अब तक क्यों नहीं आई यह भी जिम्मेदारों को स्पष्ट करना चाहिए।

श्री कुमावत ने कहा कि शिवना नदी हमारी आस्था व श्रद्धा का केन्द्र है। इसे राजनीति व चुनावी मुद्दों से अलग रखना चाहिए व शिवना शुद्धीकरण हो इसका प्रयास होना चाहिए।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts