Breaking News

छात्रसंघ चुनाव को लेकर आज जारी होगी अधिसूचना

मंदसौर। जिले के 9 शासकीय महाविद्यालयों में 30 अक्टूबर को छात्रसंघ चुनाव होंगे। इसे लेकर 23 अक्टूबर को सुबह 11 बजे सभी महाविद्यालयों में अधिसूचना जारी कर लॉटरी के माध्यम से सीटों का आरक्षण तय किया जाएगा। 24 अक्टूबर को महाविद्यालय प्रबंधन द्वारा सेक्शनवार मतदाता सूची का प्रकाशन किया जाएगा। अधिसूचना जारी होते ही सभी महाविद्यालयों के आसपास 500 मीटर क्षेत्र में आचार संहिता लागू हो जाएगी। चुनाव को लेकर छात्र संगठन अपने-अपने स्तर पर तैयारियों में लगे हैं।

अधिसूचना जारी करने के बाद दोपहर 3 बजे 50 फीसदी कक्षा प्रतिनिधि पद पर छात्राओं के आरक्षण के लिए लॉटरी निकालेंगे। छात्र संगठनों के पदाधिकारियों की उपस्थिति में प्रबंधन द्वारा लॉटरी निकालकर आरक्षण तय किए जाएंगे। इसके साथ ही कक्षावार मतदाता सूची का प्रकाशन किया जाएगा। आरक्षण की स्थिति साफ होते ही छात्र संगठनों में उम्मीदवारों की दौड़ प्रारंभ हो जाएगी। 25 अक्टूबर को दावे-आपत्तियों का निराकरण कर शाम को फाइनल मतदाता सूची का प्रकाशन किया जाएगा।

सुरक्षा के लिए लिखा है पत्र

सोहोनी ने बताया कि चुनाव में पिछले सालों में हर बार विवाद की स्थिति बनती रही है। इसके मद्देनजर उच्च शिक्षा विभाग इस बार अलर्ट है। लीड कॉलेज प्रबंधन ने कलेक्टर ओपी श्रीवास्तव और एसपी मनोज कुमार सिंह को पत्र लिखकर 23 से 30 अक्टूबर तक के लिए सुरक्षा इंतजाम के लिए स्टाफ मांगा है।

संगठन लगे तैयारी में

अभाविप के प्रांत मंत्री बंटी चौहान ने बताया कि छात्रसंघ चुनाव की तैयारियों को लेकर भोपाल में बैठक होना है। आरक्षण के बाद दो-तीन दिन में उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी जाएगी। चुनाव लड़ने के लिए दो-तीन दिन में घोषणा-पत्र भी जारी कर दिया जाएगा।

वहीं एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष सुनील बसेर ने बताया कि 50 फीसदी कक्षाओं में कक्षा प्रतिनिधि की सूची तैयार कर ली गई है। घोषणा-पत्र के संबंध में प्रदेश स्तर से दिशा-निर्देश मिलने के बाद कार्रवाई की जाएगी।

यह रहेगी आचार संहिता

लीड कॉलेज चुनाव प्रभारी रविंद्र सोहोनी ने बताया कि अधिसूचना जारी होते ही जिले के सभी शासकीय महाविद्यालय से आस-पास 500 मीटर क्षेत्र में आचार संहिता लागू हो जाएगी।

– छात्र संगठन चुनाव प्रचार के लिए किसी भी तरह के फ्लेक्स और पोस्टर नहीं लगा सकते हैं।

– प्रचार के लिए केवल हाथ से बने पोस्टर ही लगा पाएंगे।

– ड्यूटी के दौरान न तो प्रोफेसर और न ही छात्र मोबाइल का उपयोग कर पाएंगे।

– कॉलेज परिसरों में 30 अक्टूबर सुबह 8 बजे से लेकर चुनाव प्रक्रिया खत्म होने तक मोबाइल का उपयोग नहीं हो सकेगा।

– मतपत्र में विद्यार्थियों को मोहर की जगह संबंधित नाम के सामने टिक लगाकर मत देंगे।

– जिन छात्रों की यूजी और पीजी की पढ़ाई के दौरान गैप है, वे चुनाव नहीं लड़ पाएंगे।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts