Breaking News

जनभागीदारी समिति के अध्यक्ष बोले 6 माह में कॉलेज की सूरत बदल जाएगी

मंदसौर। करीब डेढ़ माह पहले पीजी कॉलेज जनभागीदारी समिति के अध्यक्ष पद पर मनोनीत हुए राजेश रघुवंशी ने सोमवार को पत्रकार वार्ता की। उन्होंने महाविद्यालय की सूरत को बदलने के लिए तैयार कि या गया अपना प्लान बताते हुए कहा कि छह माह में महाविद्यालय की सूरत बदल जाएगी। वर्षों से बंद पड़ी कैंटिन फिर चालू की जाएगी। इसके साथ ही कॉलेज में शिक्षा के साथ ही अन्य व्यवस्थाओं में सुधार होगा। रघुवंशी ने महाविद्यालय परिसर में चार-पांच वर्षों के भीतर हुए निर्माण कार्यों को घटिया बताते हुए प्रश्न उठाया। उन्होंने कहा कि 15 साल से कांग्रेस सत्ता में नहीं थी। इन 15 वर्षों में महाविद्यालय में क्या हुआ वह बोलूंगा तो राजनीति हो जाएगी। महाविद्यालय में सुधार की शुरुआत अब हुई है और जल्द ही परिणाम नजर आएंगे।

पीजी कॉलेज जनभागीदारी समिति के अध्यक्ष राजेश रघुवंशी ने बताया कि मंदसौर का पीजी कॉलेज प्रदेश का दूसरा एवं संभाग का पहला सबसे अच्छा कॉलेज है। मेरा उद्देश्य है कि जनभागीदारी के पास विद्यार्थियों एवं कॉलेज से संबंधित जो अधिकार है, उसका उपयोग कर बेहतर व्यवस्थाएं की जाए। कॉलेज परिसर को क्लीन करने की शुरुआत हमने की है। कॉलेज की प्रतिष्ठा विद्यार्थियों की संख्या से नहीं होना चाहिए शिक्षा ही कॉलेज की प्रतिष्ठा होना चाहिए, हम इसी दिशा में काम कर रहे है। पीजी कॉलेज नकल प्रकरण एवं प्रोफे सर छात्र विवाद से बदनाम रहा है। इस संबंध में सुधार के लिए रोडमेप तैयार कि या गया है। कॉलेज परिसर में गुंडागर्दी न हो, बाहरी लोग कॉलेज में न आ सके इसके साथ ही राजनीतिक हस्तक्षेप भी कम से कम हो ऐसा हम प्रयास कर रहे है। हमारा उद्देश्य है कि कैंटिन परिसर, बिल्डिंग कि सी प्रायवेट कॉलेज के जैसी दिखाई दें, दो-तीन साल में इस प्रकार से तैयार कर लेंगे। कॉलेज ग्राउंड को जनभागीदारी समिति द्वारा शासन-प्रशासन के सहयोग से आदर्श ग्राउंड बनाया जाएगा। इस परिसर में फु टबॉल, हॉकी का एक अच्छा मैदान हो इसके लिए प्लान तैयार कि या है। इसके अलावा इनडोर स्टेडियम का प्रपोजल भी तैयार कि या गया है। महाविद्यालय के ऑडिटोरियम में भी सुविधाएं बढ़ाई जाएगी। शासन से मांग की गई है कि पीजी कॉलेज में कम्प्यूटर सेंटर एग्जाम की स्वीकृति मिले इसके लिए एक हजार कम्प्यूटर वाला सेंटर बनाया जाए।

कॉलेज में जो नए निर्माण हुए वे घटिया है

जनभागीदारी समिति अध्यक्ष रघुवंशी ने कॉलेज परिसर चार-पांच वर्षों में हुए निर्माण कार्यों को घटिया बताया। उन्होंने कहा कि पीडब्ल्यूडी ने जिस तरह से काम कि या है उसमें भ्रष्टाचार हुआ है। घटिया निर्माण कि या गया है। अगर निर्माण कार्य गारंटी पीरियड में है तो उन्हें सूचना पत्र जारी कि या जाएगा।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts