Breaking News

जरा बच के : शहर मे स्वाईन फ्लू ने दी फिर से दस्तक

मंदसौर। मौसम परिवर्तन के साथ क्षेत्र में स्वाइन फ्लू ने फिर दस्तक दी है। सीएमएचओ कार्यालय के आईडीएसपी यूनिट के महेश धनोतिया ने बताया कि मल्हारगढ़ क्षेत्र के एक व्यक्ति को स्वाइन फ्लू पॉजिटिव आया है। जिसका उपचार उदयपुर के निजी अस्पताल में चल रहा है। गांव में सर्वे करवाया गया है। उदयपुर से रिपोर्ट में स्वाइन फ्लू की पुष्टि हुई है। धनोतिया ने बताया कि गत दिवस चार संदिग्ध मरीजों की जांच रिपोर्ट भोपाल भेजी है। जो बुधवार शाम तक आएगी।

50 दिन में तीन पॉजिटिव, एक की मौत
उन्होंने बताया कि जनवरी से लेकर 19 फरवरी तक तीन मरीज स्वाइन फ्लू के पॉजिटिव आए है। इसमें से एक स्वाइन फ्लू मरीज की मौत 2 फरवरी को हुई है। इससे पहले 15 मरीजों को स्वाइन फ्लू की पुष्टि हुई थी। जिसमें से पांच लोगों की मौत हो चुकी है। स्वाइन फ्लू के लिए सभी मॉस्क और टेमी फ्लू दवाईयां सिविल अस्पताल से लेकर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर उपलब्ध है। सभी जगह पर्याप्त व्यवस्थाएं है। 

मौसम में अचानक परिवर्तन से आए संदिग्ध सामने 
जानकारी के अनुसार अचानक मौसम में परिवर्तन के बाद ठंड फिर से लौटी। जिसके कारण स्वाइन फ्लू का वायरस एनएस-1 एक्टिव हो गया है। यह वायरस ठंड में सबसे अधिक घातक होता है। जिसके चलते स्वाइन फ्लू की जद में मरीज आया है। उल्लेखनीय है कि 2017 में 48 मरीजों को स्वाइन फ्लू पॉजिटिव आया था। जिसमें नौ लोगों की मौत हो गई थी।

इनका कहना….
एक स्वाइन फ्लू का मरीज पॉजिटिव आया है। जिसकी रि पोर्ट उदयपुर के निजी अस्पताल ेसे मिली है। चार संदिग्ध मरीजों की जांच रिपोर्ट भोपाल भेजी है। डॉ महेश मालवीय, सीएमएचओ।

स्वाइन फ्लू के लक्षण 
स्वास्थ्य विभाग के अनुसार बुखार या तेज बुखार, जुकाम, नाक बहना, तेज सिर दर्द, छाती में दर्द, गले में खराश व दर्द, मांसपेशियों में पीड़ा, सांस फूलना, सांस लेने में तकलीफ व बलगम में खून आना स्वाइन फ्लू के मुख्य कारण है।

कैसे करें बचाव
खांसते और छींकते समय अपने मुंह ओर नाक को ढंकने के लिए साफ रुमाल का प्रयोग करें, एक-दूसरे से बात करते समय कम से कम तीन फूट की दूरी रखें, अपने हाथों को अक्सर साबुन या साफ पानी से साफ करें, अपने नाक, आंख और मुंह को न छूएं तथा बिना चिकित्सक परामर्श के दवाई ना लें, हाथ न मिलाएं, गले न लगें या गले न लगें। अन्य अभिवादन न करें। अगर आपको यह लक्षण है तो भीड़ के स्थान पर जाने से बचे।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts