Breaking News

जिला कांग्रेस अध्यक्ष श्री प्रकाश रातडिया ने कांग्रेस का वचन पत्र पत्रकार वार्ता में जारी किया

किसानो के दो लाख तक के कर्जे माफ होगे, युवाओ को रोजगार मिलेगा, व्यापारियो को इंस्पेक्टर राज से मुक्ति मिलेगी, हर ग्राम में गौशाला खुलेगी

मंदसौर। मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के  सिलसिले में मध्यप्रदेष कांग्रेस कमेटी ने अपना वचन पत्र जारी किया। मंदसौर में आयोजित पत्रकार वार्ता में जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री प्रकाश रातडिया ने यह वचन पत्र मंदसौर में जारी किया। वचन पत्र में कहा गया है कि किसानो के दो लाख तक के कर्जे माफ होगे, युवाओ को रोजगार मिलेगा, व्यापारियो को इंस्पेक्टर राज से मुक्ति मिलेगी, हर ग्राम में गौशाला खुलेगी। पत्रकार वार्ता में प्रदेश कांग्रेस महामंत्रीद्वय श्री मुकेश काला, श्री कमलेश पटेल, प्रदेश सचिव श्री तरूण खिंची, जिला कांग्रेस के उपाध्यक्ष श्री महेन्द्रसिंह गुर्जर, शहर ब्लॉक कांगेंस अध्यक्ष श्री मोहम्मद हनिफ शेख, जिला कांग्रेस सेवादल अध्यक्ष श्री जगदीपसिंह राजपूत, जिला महिला कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती बबीतासिंह तोमर, जिला विधि प्रकोष्ठ के अध्यक्ष श्री कांतिलाल राठौर, जिला व्यापार एवं उधोग प्रकोष्ठ के अध्यक्ष श्री रमणीकलाल पोखरना, कार्यालय प्रभारी श्री मदन मसानिया एवं जिला मिडीया कोडिनेटर  सुरेश भाटी उपस्थित थे।
           श्री रातडिया ने वचन पत्र का उल्लेख करते हुये कहा कि इंदिरा किसान ज्योति योजना के अंतर्गत दस हार्स पावर तक के कृषि विघुत प्रभार को आधा किया जायेगा। फसल बीमा की राशि की रसीद किसानो को मिलेगी। ग्राम सभा की अनुशंसा पर किसानो को फसल बीमा राशि पाने की पात्रता होगी। बिना कर्ज लिये भी किसान फसल बीमा में शामिल हो सकेगा।  किसानो को जीवन एवं स्वास्थ्य बीमा भी कांग्रेस सरकार आने पर किया जायेगा। आपने कहा कि किसानो पर आंदोलन के दौरान दर्ज मुकदमे वापस लिये जायेगे। किसानो पर हुये  गोलीकांड व लाठीचार्ज की उच्च न्यायालय के वर्तमान न्यायाधीश से जांच करवायी जायेगी। श्री रातडिया ने कहा कि प्रत्येक ग्राम में गौशाला खोली जायेगी। 65 लाख हेक्टेयर भूमी की सिंचाई के लिये नवीन योजनाएॅ बनेगी। पशुपालन एवं डेरी की योजनाओ को प्रोत्साहन दिया जायेगा। नये पशु चिकित्सा महाविधालय खोले जायेगे। गायो को चराने के लिये भूमी दी जायेगी। सहकारी संस्थाओ के चुनाव स्थानीय निर्वाचन आयोग द्वारा किये जायेगे। गैर कृषि प्रयोजन के कर्जो की समीक्षा कर राहत प्रदान की जायेगी। वकीलो सहित अन्य स्वरोजगार आरंभ करने वाले युवाओ को चार हजार रूप्ये प्रतिमाह पांच साल तक सहयोग राशि मिलेगी। व्यापमं जैसे घोटाले रोकने के लिये राज्य कर्मचारी चयन आयोग बनाया जायेगा। शासकिय सेवाओ में प्रत्येक के युवाओ को प्रार्थमिकता मिलेगी। नई खेल निति बनायी जायेगी। विक्रम अवार्ड से सम्मानित खिलाडियो को नौकरी या पंद्रह हजार रूपये प्रतिमाह दिये जायेगे। ओलम्पिक में स्वर्ण पदक विजेताओ को 51 हजार रूपये प्रतिमाह मिलेगा। प्रांतीय ओलिम्पिक खेलो का आयोजन होगा। मध्यप्रदेश से निर्यात बढाने के लिये नई उघोग निति में प्रावधान होगा। ओघोगिक भूखंडो को लीज की बजाय स्वामित्व पर दिया जायेगा। नये उघोग खोलने वाले युवाओ को पांच  साल तक ब्याज मे छुट मिलेगी।  कुम्हारो को बिना रायल्टी मिटटी मिलेगी। खादी एवं ग्रामोधोग का अनुदान बहाल किया जायेगा। प्रत्येक जिले में कुटीर उधोग प्रक्षिक्षण केन्द्र खोले जायेगे। गौण खनिज के अधिकार पंचायतो को मिलेगे। 24 घंटे बिजली आपूर्ति होगी। गरिब परिवारो को सौ रूपये प्रतिमाह में बिजली मिलेगी। स्वरोजगार के लिये घेरलु दर से विघुत आपूर्ति होगी। अत्यधिक एवं अनुचित बिलो का तत्काल निराकरण किया जायेगा। बिजली के छुटे प्रकरण वापस लिये जायेगे। युवाओ की सहकारी समितियो के माध्यम से बसे चलायी जायेगी। स्थानीय निकायो द्वारा सीटी बसे चलायी जायेगी। यात्रा में महिलाओं को सुरक्षित किया जायेगा। वाहन चालको का स्वास्थ्य परिक्षण एवं बीमा होगा। रेल्वे के ओवर ब्रीज एवं अंडरब्रीज बनाये जायेगे। टोल टेक्स ठेकेदारो से राहत दिलायी जायेगी। शिक्षा की गुणवत्ता सुनिश्चित की जायेगी। आठवी बोर्ड की परिक्षा शुरू होगी। ई. अंटेडेन्टर्स समाप्त होगी। शिक्षको की नियुक्ति  की जायेगी। मेरिट विघार्थियो को लेपटॉप एवं दो पहिया वाहन दिये जायेगे। 17 से 45 वर्ष की महिलाओ को नि शुल्क स्माटफोन दिये जायेगे। छात्राओ की संपूर्ण शिक्षा नि शुल्क रहेगी। शिक्षक संस्थाओ को राजनैतिक हस्तक्षेप से मुक्त किया जायेगा। अस्पतालो में डॉक्टर नियुक्त होगे। प्रत्येक पंचायत मुख्यालय पर अस्पताल खोले जायेगे। कुपोषण व अकाल मृत्यु रोकी जायेगी। ग्राम एवं शहरो में पेयजल व्यवस्था होगी। साठ साल से अधिक के प्रत्येक नागरिक को एक हजार रूपये प्रतिमाह पेंशन देगे। सामाजिक सुरक्षा पेंशन तीन सो से बढाकर एक हजार प्रतिमाह होगी। कन्या विवाह के लिये तीस हजार से बढाकर 51 हजार रूप्ये अनुदान किया जायेगा। प्रत्येक ग्राम पंचायत व नगर के वार्ड में डे केयर सेंटर वृध्दजनो के लिये खोलेगे। सौ वर्ष से अधिक आयु के नागरिको को एक लाख रूपये सम्मान निधि से सम्मानित किया जायेगा। ग्रामीण महिलाअें को नि शुल्क सेनेटरी नेपकिन दिये जायेगे। कृषक महिलाओं को खेती की रजिस्ट्री में तीन प्रतिशत की दर से स्टॉम्प डयुटी लगेगी। बाल मजदूरी रोकेगे। छात्रावासो में स्थान बढाये जायेगे। सभी दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी स्थायी होगे। पिछडे वर्ग के कल्याण के सभी आयोगो की सफाईरिशे लागु होगी। गुरू नानक देव का 550 प्रकाश वर्ष धुमधाम से मनाया जायेगा। भगवान महावीर के 2600 वे निर्वाण वर्ष में आरंभ किये गये सम्मान लागु किये जायेगे। सामान्य वर्ग आयोग का गठन होगा। सामान्य वर्ग के 6 लाख से कम आय वाले को छात्रवृत्ति व अन्य लाभ मिलेगे। सिंधी भाषा संरक्षण व सिंधी नागरिको के नागरिकता प्रकरणो का निराकरण होगा।
             श्री रातडिया ने बताया कि पंचायतो की धारा चालिस का दुरूपयोग रोका जायेगा। बैठक में भाग लेने पर पंचो को पांच सो रूपये, जनपद सदस्य को एक हजार रूपये व जिला पंचायत सदस्य को पंद्रह सो रूपये प्रति बैठक भत्ता दिया जायेगा। मनरेगा योजना  निष्ठा से लागु की जायेगी। पंचायत सचिवो को सातवा वेतनमान मिलेगा। ग्राम न्यायालय फिर से स्थापित होगे। बीपीएल सूचियो को सुधारा जायेगा।  गरिब परिवारो सस्ता राशन एक रूपये प्रति किलो में अनाज दिया जायेगा। पेट्रोल, डिजल व रसोई गैस के मूल्य नियंत्रण के लिये करो मे छुट व अनुदान दिया जायेगा। श्रमिको के बच्चो को नि शुल्क शिक्षा मिलेगी। बीमा अस्पतालो की स्थिति सुधारी जायेगी। मध्यप्रदेश मे विधान परिषद का गठन होगा। कोई भी नागरिक मंत्री से जनता प्रहर के माध्यम से विधानसभा में चर्चा कर सकेगा। विधानसभा की कार्यवाही में बाधा डालने वाले विधायको को उस दिन का भत्ता नही दिया जायेगा।  वकीलो एवं पत्रकारो की सुरक्षा के लिये कानून बनेगा।  मान्यता प्राप्त पत्रकारो एवं अधिमान्य पत्रकारो को सामाजिक सुरक्षा प्रदान की जायेगी। उनकी मृत्यु पर परिवार को पंद्रह लाख रूपये अनुग्रह राशि मिलेगी। साठ वर्ष की आयु पर दस हजार रूपये सम्मान निधि मिलेगी। प्रदेश में आध्यात्मिक विभाग स्थापित होगा। पुजारियो का  मानदेय बढेगा।
             श्री रातडिया ने कहा कि चित्रकुट से राम पथगमन मार्ग का प्रदेश का भाग शीध्र निर्माण किया जायेगा। व्यापमं, डम्पर एवं अन्य घोटालो की जांच जन आयोग करेगा जिसमें सभी दलो के प्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक व पत्रकार होगे। पचास प्रतिशत महिलाओ की मांग पर शराब दुकान बंद की जायेगी। डॉक्टर सुमन, दुष्यंत कुमार, बालकवि बैरागी एवं विठठल भाई पटेल के नाम से साहित्यिक पुरस्कार दिये जायेगे। कोर्टवारो को नियमित शासकिय कर्मचारी बनाया जायेगा। संपत्ति की रजिस्ट्री के साथ ही स्वतः नामांतरण की व्यवस्था की जायेगी।
          श्री रातडिया ने कहा कि प्रदेश  की जनता बदलाव चाहती है, तथा कांग्रेस ने जन भावना के अनुरूप प्रदेश के विकास की परिकल्पना इस वचन पत्र में व्यक्त की है। घोषणा पत्र का भाजपा जैसे दलो ने कभी पालन नही किया इसलिये जनता को दृढता से विश्वास दिलाने के लिये इस परिकल्पना का नाम वचन पत्र रखा गया है। भारत की प्राण जाये पर वचन नही जाये परंपरा के अनुरूप कांग्रेस सरकार बनने के बाद इसका पालन किया जायेगा।

जिला मन्दसौर कांग्रेस प्रेस वार्ता

Posted by Hello Mandsaur.Com on Friday, November 9, 2018

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts