Breaking News

जिला चिकित्सालय को मिली साढ़े 32 करोड़ की राशि

 ट्रामा सेंटर , अत्याधुनिक प्रसुती वार्ड तथा चिकित्सक आवासिय भवन बनेगा, प्रशासकीय स्वीकृती जारी

मंदसौर । विधायक यशपालसिंह सिसोदिया के  प्रयास आखिरकार रंग लाऐ है। जिला अस्पताल मेंशीघ्र ही  ट्रामा सेंटर की सौगात मिलने वाली है इसके साथ नया प्रसुती वार्ड तथा चिकित्सक आवासीय भवन भी बनेगा। इन विकास कार्यो के लिये 32 करोड़ 22 लाख रू की प्रशासकीय स्वीकृती भी जारी हो गई जिसके बाद अब निर्माण एजेन्सी पीआईयू शीघ्र ही टेण्डर जारी कर निर्माण कार्य प्रारम्भ करेगी। ट्रामा सेंटर के साथ बनने वाले नये प्रसुती वार्ड में अत्याधुनिक व्यवस्थाऐ होगी तथा नवजात बच्चों को विभिन्न रोगों से बचाव के संसाधन भी मौजूद होगे।

इस आशय की जानकारी देते यशपालसिंह सिसोदिया ने बताया कि जिला चिकित्सालय मेंट­ामा सेंटर को लेकर तकनीकि रूप से भूमि के चयन  मामले का समाधान हो गया हैं। पूर्व में टीबी अस्पताल के पास डायलिसिस सेंटर के समीप जो स्थान चयन किया गया था उसे निरस्त करते हुए अस्पताल परिसर में ही पूराना प्रसुती वार्ड जो 1936 में निर्मित हुआ है उसका पुर्ननिर्माण करते हुए नवीन भवन बनाकर उसमें ट्रामा सेंटर स्थापित किया जायेगा साथ ही समीप की भूमि पर 100 बेडेड नया प्रसुती वार्ड का निर्माण किया जायेगा। नये प्रसुती वार्ड निर्माण के लिये मप्र शासन की और से 17 करोड़ 50 लाख रू तथा भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय की और से पूर्व में स्वीकृत 3 करोड 50 लाख तथा पुर्न आवंटन 7 करोड़ 50 लाख के स्वीकृत है।

विकास की इन सौगातों के लिये सोमवार को  विधायक यशपालसिंह सिसोदिया ने स्वास्थ्य विभाग के अन्तर्गत सलाहकार सिविल नेशनल हेल्थ विभाग के भोपाल कार्यालय में श्री संजय नेमा से चर्चा करते हुए उनसे आदेश की कॉपियां प्राप्त की है जिसमें नवीन प्रसुती वार्ड तथा ट­ामा सेंटर की समस्त बाधाएं दूर करते हुए उसके लिये आवंटित हुई राशि जारी करने के आदेश है।

विधायक श्री सिसोदिया ने बताया कि नवीन प्रसुती वार्ड भी अत्याधुनिक बनेगा। डिस्टिक अरली इंटर  वेशन सेंटर (डीई आई सी) के अन्तर्गत यह सुविधा नवजात शिशुओं की जिंदगी को बचाने में सहायक सिद्व होगी। इस यूनिट में बच्चे  के जन्म लेने के साथ जन्मजात विकृतिया जैसे घेंघापन, श्रवण शक्ति कमजोर होना आदि को लेकर उपचार की अत्याधुनिक व्यवस्थाएं होगी। इसके लिये बजट की उपलब्धता हो गई है। ड्राइंग डिजाईन भी तैयार हो गई है। श्री नीमा ने विधायक श्री सिसोदिया को बताया कि महत्वपूर्ण  निर्माण कार्य योजना को लेकर श्री नीरज त्यागी को आर्किटेक्ट नियुक्त किया गया है। योजना में प्रसुती वार्ड में लिफ्ट का भी प्रावधान होगा तथा एनजीटी की गाइड लाईन अनुसार मेडिकल वेस्ट जनरेट की व्यवस्था भी होगी। चूंकी प्रशासकीय स्वीकृती प्राप्त हो चूकी है इसलिये निर्माण एजेन्सी पीआईयू दस दिन के भीतर इसकी निविदा आमंत्रित कर सकती है। श्री नीमा ने यह भी बताया कि अस्पताल परिसर में ही 3 करोड 72 लाख की लागत से 6एफ टाईप भवन चिकित्सकों के लिये,8 सी टाईप  क्वार्टर नर्सिग सिस्टर के लिये तथा 8 एच टाईप क्वार्टर तकनीशियन के लिये स्वीकृत हो चूके हैं इसकी निर्माण एजेन्सी मप्र पुलिस गृह निर्माण निगम होगा। श्री नीमा ने श्री सिसोदिया को बताया कि ट्रामा सेंटर 1936 में निर्मित प्रसुती वार्ड के एक हिस्से को तोड़कर के इसी परिसर में बनाया जाना आवश्यक होगा। सीटी स्कैन सहित अन्य सुविधाएं इसमें उपलब्ध होगीं।कुल मिलाकर जिला चिकित्सालय मंदसौर को ट­ामा सेटर, नवीन प्रसुती वार्ड तथा आवासिय योजनान्तर्गम 32 करोड 22 लाख रू के निर्माण के स्वीकृति प्राप्त हुई है। नई योजना में 100 बिस्तर प्रसुती वार्ड बनने से जिला चिकित्सालय मंदसौर की पलंग क्षमता में भी वृद्वि हो जायेगी।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts