Breaking News

जिला चिकित्सालय में हुए प्रेरक घोटाले की जांच के लिये मुख्यमंत्री को भाजपा नेता डांगी ने लिखा पत्र

मंदसौर। जिला चिकित्सालय में विगत 13 वर्षों से चल रहे प्रेरक राशि घोटाले की खबरें विगत दिनों मीडिया की सुर्खियां बनी। इसमें यह सामने आया कि प्रसूति वार्ड प्रभारी ने आशा और उषा कार्यकर्ताओं के हक की राशि स्वयं रख ली। इस मामले की निष्पक्ष और प्रभावी जांच के लिये भाजपा प्रदेश सह कार्यालय मंत्री हिम्मत डांगी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखा।

यह जानकारी देते हुए श्री डांगी ने बताया कि प्रेरक राशि घोटाला चिकित्सा प्रशासन की सतर्कता में चूक की ओर इशारा करता है। श्री डांगी ने मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में कहा है कि गरीब, मेहनतकश आशा और उषा कार्यकर्ताओं के अधिकारों और उनकी बेहतरी के लिये राज्य व केन्द्र सरकार योजनाएं चला रही है। हाल ही में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आशा कार्यकर्ताओं के मानदेय और प्रोत्साहन राशि में बढोत्तरी की है। संवेदनशील सरकारों के प्रयास स्थानीय स्तर की प्रशासनिक लापरवाही से बेमानी हो जाते हैं। मंदसौर के जिला चिकित्सालय में हुए प्रेरक घोटाले को लेकर श्री डांगी ने मुख्यमंत्री से उच्च स्तरीय और निष्पक्ष जांच की मांग की है। श्री डांगी ने कहा है कि यदि घोटाला हुआ है तो संबंधित चिकित्सक से रिकवरी कर राशि को पात्र आशा और उषा कार्यकर्ताओं को दी जाए। घोटाले की जांच में दोषी पाए जाने पर संबंधितों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts